कांग्रेस के दिग्गज नेता ने दिए संकेत, जल्द छोड़ सकते हैं राजनीति

मध्यप्रदेश में कांग्रेस को लग सकता है झटका, दमोह चुनाव से पहले कांग्रेस के दिग्गज नेता ने दिए संकेत...।

By: Manish Gite

Published: 31 Mar 2021, 05:38 PM IST

 

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजनीति में एक बार फिर हलचल तेज हो गई है। कांग्रेस के दिग्गज नेता मुकेश नायक ने राजनीतिक छोड़ने के संकेत दिए हैं। दो दिन पहले ही छोटे भाई सतीश नायक ने भी कांग्रेस छोड़ भाजपा (bjp) की सदस्यता ग्रहण कर ली थी। वे जनपद अध्यक्ष भी रह चुके हैं।

दमोह चुनाव से पहले मध्यप्रदेश में एक बार फिर राजनीति (politics) गर्मा गई है। बुंदेलखंड (bundelkhand) में अच्छी-खासी दखल रखने वाले 63 वर्षीय मुकेश नायक (mukesh nayak) बुधवार को भोपाल में थे। उन्होंने मीडिया से चर्चा के दौरान कांग्रेस (congress) छोड़ने की अटकलों पर कहा कि वे कांग्रेस पार्टी नहीं, राजनीति छोड़ने पर विचार कर रहे हैं।

mukesh1.png

 

नायक ने कहा कि पॉलीटिक्स ने मुझे बहुत कुछ दिया है और यह अनुभव बहुत मूल्यवान है। उन्होंने कहा कि पहले से ही ईश्वर की सेवा में लगा हुआ हूं और आगे भी इसी मार्ग पर चलते रहेंगे। प्रभु श्रीराम की कथा करूंगा। सनातन धर्म और संस्कृति का प्रसार करेंगे।


मध्यप्रदेश की दिग्विजय सरकार में उच्च शिक्षा एवं खेल एवं युवक कल्याण मंत्री समेत अनेक पदों पर रहे मुकेश नायक के बयान के बाद कई मायने निकाले जाने लगे। खासकर दो दिन पहले ही मुकेश नायक के छोटे भाई सतीश नायक ने भाजपा ज्वाइन की है। वहीं दो सप्ताह बाद दमोह में उपचुनाव होने जा रहे हैं, ऐसे में इस बयान को लेकर अटकलों का बाजार गर्म हो गया है। बुंदेलखंड के दिग्गज नेता के बयान को लेकर कुछ लोगों का कहना है कि पार्टी के भीतर मुकेश नायक के साथ मनमुटाव और नाराजगी जताने की खबरें आ रही थीं। हाल ही में कांग्रेस ने उन्हें दमोह उपचुनाव का स्टार प्रचारक भी बनाया है।

 

एक नजर

  • मुकेश नायक पन्ना जिले की पवई विधानसभा सीट से विधायक रह चुके हैं।
  • वे पहली बार 1985 में 27 साल की उम्र में विधायक बने थे।
  • वे अच्छे क्रिकेट खिलाड़ी और 1978 में सागर विश्वविद्यालय की क्रिकेट टीम के कप्तान भी थे।
  • वे कांग्रेस सरकार में खेल एवं युवा कल्याण विभाग और उच्च शिक्षा मंत्री भी रह चुके हैं।
  • मध्यप्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता रह चुके हैं।
  • राजनीति की शुरुआत युवक कांग्रेस से शुरू की थी।
  • वे भोपाल में रेडक्रॉस सोसायटी के भी अध्यक्ष रह चुके हैं।
Congress leader
Show More
Manish Gite
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned