उपचुनाव से पहले फिर गर्माया पुलवामा हमले का मामला, कांग्रेस ने केन्द्र सरकार से पूछे गंभीर सवाल

उपचुनाव से पहले गर्माया पुलवामा मामला, कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद ने केन्द्र सरकार से पूछे ये सवाल।

By: Faiz

Published: 14 Sep 2020, 07:10 PM IST

भोपाल/ मध्य प्रदेश में जैसे जैसे उपचुनाव के दिन नज़दीक आते जा रहे हैं। वैसे वैसे प्रदेश की राजनीतिक सरगर्मियां बढ़ती जा रही हैं। सभी राजनीतिक दल एक दूसरे को पटकनी देने की गठजोड़ में जुटे हुए हैं। इधर, कांग्रेस प्रदेश में सत्ता वापसी के लिए केन्द्र सरकार को भी आड़े हाथों ले रही है। इसी कड़ी में संविधान बचाओं कल्याण समिति की बैठक के दौरान भोपाल मध्य से कांग्रेस विधायक आरिफ़ मसूद ने केंद्र सरकार और भारतीय जनता पार्टी को पुलवामा हमले को लेकर आड़े हाथों लेते हुए तीन सवाल किये। उन्होंने कहा कि, केन्द्र ने अब तक इन सवालों के जवाब क्यों नहीं दिये।

 

पढ़ें ये खास खबर- खुशखबरी : फेस मास्क लगाने वाले खुद विकसित कर लेते कोरोना की एंटीबॉडी, जानिए कैसे


विधायक मसूद ने केन्द्र से पूछे ये सवाल

-विधायक आरिफ मसूद ने सवाल किया कि, पुलवामा में हुए हमले की अभी तक जांच क्यों नहीं हुई?

-विधायक ने सवाल किया कि, प्रशासनिक अलर्ट के बावजूद सेना की मुस्तैदी के बीच कश्मीर के पुलवामा में इतना RDX कैसे पहुंचा?

-विधायक ने ये भी पूछा कि, पुलवामा में शहीद हुए जवानों को इंसाफ अभी तक क्यों नहीं मिला?

 

पढ़ें ये खास खबर- तेजी से बिगड़ रहे हैं हालात, अब इस तकनीक से दोगुनी स्पीड में होगा कोरोना मरीजों का इलाज


'फिल्म सितारों की फिक्र पर देश के जवानों की सुध कब लेगी सरकार'

बैठक के दौरान विधायक मसूद ने ये भी कहा कि, सत्ताधारी पार्टी सारे सरकारी तंत्रो के साथ फ़िल्मी सितारों की लड़ाई के बीच इंसाफ़ दिलाने के नाम पर देश की जनता को अहम मुद्दे से भटकाने का प्रयास कर रही है। उन्होंने सवाल किया कि, आखिर कब सरकार देश के लिए शहीद होने वाले जवानों के परिवारों का दर्द समझते हुए उन्हें इंसाफ़ दिलाएगी।


समिति के संरक्षक बने विधायक मसूद

news

दरअसल, 13 सितंबर को भोपाल में संविधान बचाओं कल्याण समिति की प्रदेश कार्यकारणी की बैठक आयोजित हुई थी, जिसमें भोपाल जिले के साथ साथ प्रदेशभर के पदाधिकारी शामिल हुए थे। इस समिति के संरक्षक भोपाल से विधायक आरिफ़ मसूद हैं, वहीं, समिति के अध्यक्ष पूर्व पार्षद मेवालाल कनर्जी हैं। समिति की संघठन महामंत्री ऐनुल यक़ीन ने बताया कि, ये एक अम्बेडकरवादी मूवमेंट हैं, जिसके तहत समिति लोगों को संघठित, शिक्षित करने के लिए संघर्ष कर रही है। प्रदेश कार्यकारिणी के दौरान विभिन पदों पे नियुक्तियां भी हुईं।

 

पढ़ें ये खास खबर- ATM में रुपये डालने की बजाय कर्मी ही कर देते थे गायब, बैंक को पता ही नहीं चला ये चुरा चुके थे करोड़ों रुपये

 

इन्हें मिली समिति में सदस्यता

नरेंद्र यादव अध्यक्ष (यूथ विंग) , सुधाकर राव महासचिव, अर्पित यादव, दीपक साहू उपाध्यक्ष, मुबीन शीशगर , पूजा रघुवंशी , अमारदीप घोसरे, प्रमोद सोनी को प्रदेश सचिव की ज़िमेदारी दी गई।

pm modi pulwama attack
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned