किसानों के साथ 23 जनवरी को राजभवन का घेराव करेगी कांग्रेस , पूर्व मंत्री समेत कई कांग्रेस नेताओं पर FIR

किसानों के मुद्दे को लेकर कांग्रेस ने आंदोलन जारी रखने की बात कही है। इन आंदोलनों में पूर्व मुख्यमंत्री और पीसीसी चीफ कमलनाथ समेत प्रदेश कांग्रेस के कई नेता भी शामिल होंगे।

By: Faiz

Published: 16 Jan 2021, 09:57 PM IST

भोपाल/ मध्य प्रदेश में किसानों के मुद्दे को लेकर कांग्रेस की ओर से आगे भी आंदोलन जारी रखने की बात कही है। साथ ही, इन आंदोलनों में पूर्व मुख्यमंत्री और पीसीसी चीफ कमलनाथ समेत प्रदेश कांग्रेस के कई नेता भी शामिल होंगे। कांग्रेस पदाधिकारियों के मुताबिक, किसानों के साथ मिलकर 20 जनवरी को मुरैना और 23 जनवरी को राजधानी भोपाल स्थित राजभवन का घेराव किया जाएगा। इसके अगले दिन यानी 24 जनवरी को सूबे की आर्थिक नगरी इंदौर में प्रांत व्यापी आंदोलन किया जाएगा।

 

पढ़ें ये खास खबर- रंगोली से सजा था वैक्सीनेशन सेंटर, अब तक इतने लोगों को लगाया गया कोरोना का टीका


जीती पटवारी समेत 50 नेता-कार्यकर्ताओं पर केस दर्ज

news

वहीं, दूसरी तरफ इंदौर के तेजाजी नगर थाना इलाके में चौराहे के पास चक्काजाम और प्रदर्शन करने के मामले में पूर्व मंत्री और विधायक जीतू पटवारी, सदाशिव यादव, दौलत पटेल समेत 50 से अधिक कांग्रेस नेता कार्यकर्ताओं के खिलाफ धारा 188 और धारा 341 के तहत मामला दर्ज किया गया है। दरअसल चक्काजाम के कारण तेजाजी नगर चौराहा पेट्रोल पंप के पास भंवरकुआं रोड पर करीब दो घंटों के लिये यातायात प्रभावित रहा था। चक्काजाम के दौरान कांग्रेस नेताओं ने सड़क के बीचों बीच ही अपने ट्रैक्टर खड़े करके दो घंटों तक भाषण दिये थे। इस दौरान मार्ग से गुजरने वालों को खासा परेशानी का सामना करना पड़ा था।

 

पढ़ें ये खास खबर- रात को ही हुई थी भतीजी की मौत, सुबह गमी में जाने के बजाय जिम्मेदारी से लगवाने पहुंचा वैक्सीन


पुलिस ने बंद कर दी थी आवाजाही तो नाराज हुए नेता

पुलिस ने सड़क के दोनों ओर से ट्रैफिक डायवर्ट किया था, क्योंकि दोपहर 12 बजे से नेता धरनास्थल पर ट्रैक्टर लेकर पहुंच गए थे। पुलिस ने सड़क की दोनों तरफ बैरिकेड लगाकर मार्ग की आवाजाही बंद कर दी थी, इसी पर धरने का नेतृत्व कर रहे जिला कांग्रेस अध्यक्ष सदाशिव यादव नाराज भी हो गए थे। उन्होंने कहा हमारे ट्रैक्टर को क्यों नहीं आने दिया जा रहा? धरने में किसान भी शामिल हैं, उनके ट्रैक्टर आने दिए जाएं। वहीं, चक्काजाम के आधे घंटे बाद पूर्व मंत्री जीतू पटवारी भी पहुंचे। उन्होंने कहा कि, केंद्र सरकार किसानों की मांग नहीं मान रही। किसान परेशान हैं, लेकिन सरकार का इसपर कोई ध्यान नहीं है।

 

अब जहरीली शराब पीने से 5 गायों की मौत, देखें Video

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned