साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के खिलाफ चुनाव आयोग ने लिया संज्ञान, दिग्विजय सिंह को बताया था आतंकी

साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के खिलाफ चुनाव आयोग ने लिया संज्ञान, दिग्विजय सिंह को बताया था आतंकी

Manish Geete | Publish: Apr, 25 2019 05:10:28 PM (IST) Bhopal, Bhopal, Madhya Pradesh, India

साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के खिलाफ चुनाव आयोग ने लिया संज्ञान, दिग्विजय सिंह को बताया था आतंकी

भोपाल। देश की हाईप्रोफाइल सीटों में शामिल हो चुकी भोपाल लोकसभा सीट पर गुरुवार को भाजपा प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के बयान पर चुनाव आयोग ने कड़ा रुख अख्तियार करते हुए संज्ञान ले लिया है। आयोग ने विवादित बयान के चंद घंटों में ही संज्ञान लेते हुए कलेक्टर से रिपोर्ट मांगी है। माना जा रहा है कि कलेक्टर की रिपोर्ट के आधार पर प्रज्ञा पर कोई बड़ी कार्रवाई हो सकती है। गौरतलब है कि प्रज्ञा ठाकुर ने गुरुवार को ही सीहोर में चुनाव प्रचार के दौरान कांग्रेस प्रत्याशी दिग्विजय सिंह को आतंकी कहा था।

 

कांग्रेस प्रत्याशी दिग्विजय सिंह को आतंकी कहने वाले बयान पर भाजपा प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा ठाकुर की मुश्किलें बढ़ गई है। चुनाव आयोग ने तत्काल इस बयान पर संज्ञान लेते हुए कलेक्टर से रिपोर्ट मांग ली है। साध्वी पर पिछले दिनों ही एफआईआर दर्ज हुई है। माना जा रहा है कि चुनाव आयोग साध्वी पर बड़ी कार्रवाई कर सकता है।

 

दिग्विजय के लिए बोली थी यह बात
गुरुवार को सीहोर दौरे पर प्रज्ञा भारती ने कहा कि मुख्यमंत्री रहते दिग्विजय सिंह ने सीहोर जिले की 5 फैक्ट्रियां बंद करवा दीं। उन्होंने अपने निजी स्वार्थ के कारण यह फैक्ट्रियां बंद करवाईं हैं और अपना व्यापार बढ़ाया। हजारों लोग बेरोजगार हो गए। प्रज्ञा यही नहीं रुकीं, उन्होंने कहा कि ऐसे आतंकी को समाप्त करने के लिए ही एक संत सामने आई है। प्रज्ञा ने सीधे तौर पर दिग्विजय सिंह को आतंकी कह दिया।

प्रज्ञा के खिलाफ चुनाव लड़ेंगे करकरे के सहयोगी
इस बीच खबर है कि शहीद हेमंत करकरे के साथी रहे मुंबई पुलिस के अफसर रियाजुद्दीन देशमुख भी राजनीति में उतर आए हैं। उन्होंने प्रज्ञा के उस बयान पर कड़ी आपत्ति व्यक्त की है जिसमें प्रज्ञा ने कहा था कि

यह है भोपाल की हॉट सीट
लोकसभा चुनाव 2019 में देश की तमाम हॉट सीट में भोपाल लोकसभा सीट भी शामिल हो गई है। इसमें कांग्रेस के पूर्व मुख्यमंत्री एवं कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह मैदान में है, वहीं उनके सामने भाजपा ने मालेगांव बम ब्लास्ट में आरोपी साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर को मैदान में उतारा है। दोनों ही प्रत्याशी एक दूसरे के धुर विरोधी हैं। प्रज्ञा दिग्विजय सिंह पर मालेगांव बम ब्लास्ट में फंसाने और प्रताड़ित करने समेत भगवा को आतंक से जोड़ने का आरोप लगाती हैं। वहीं दिग्विजय सिंह प्रज्ञा को भी कथित आतंकवादी बताते हैं।

कंप्यूटर बाबा से नहीं पड़ेगा कोई फर्क
इससे पहले संत कंप्यूटर बाबा के कांग्रेस प्रत्याशियों के पक्ष में प्रचार की खबरों पर साध्वी ने कहा कि लोकसभा का चुनाव उनके लिए धर्म और अधर्म की लड़ाई है। यदि कोई संत का चोला ओढ़े अधर्म के साथ खड़ा होता है, तो उससे उन्हें कोई फर्क नहीं पड़ता। कंप्यूटर बाबा के चुनाव मैदान में उतरने की बात पर साध्वी प्रज्ञा ने इसे दो संतों के बीच की लड़ाई मानने से भी इनकार कर दिया और कहा कि वे उन्हें नहीं जानती।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned