scriptIAS anupkumar singh left collector post for mother treatment | Patrika Positive News : ये हैं वो IAS जिन्होंने कोरोना संक्रमित मां की सेवा के लिए छोड़ा दिया कलेक्टर का पद | Patrika News

Patrika Positive News : ये हैं वो IAS जिन्होंने कोरोना संक्रमित मां की सेवा के लिए छोड़ा दिया कलेक्टर का पद

मां की सेवा के लिये छोड़ा कलेक्टर का पद, तमाम कोशिशों के बावजूद नचीं बच सकी कोरोना ग्रस्त मां की जान, पर पेश की मां से प्रेम की मिसाल।

भोपाल

Published: May 19, 2021 02:52:09 pm

भोपाल/ किसी बीमारी में जूझ रही मां की सेवा के लिये बेटा किसी निजी दफ्तर से छुट्टी ले या नौकरी भी छोड़ दे, यह तो समझ आता है। लेकिन मां की सेवा के लिए ज़िला कलेक्टर का पद ठुकरा देना, ये बात सुनना कोई आम बात नहीं है। लेकिन, मध्य प्रदेश में 2013 बैच के कैडर रहे प्रशासनिक अधिकारी अनूप कुमार सिंह की इन दिनों इसलिये चर्चा जोरों पर है, क्योंकि पिछले दिनों उन्होंने अपनी कोरोना ग्रस्त मां की सेवा करने के लिये दमोह का कलेक्टर पद ठुकरा दिया था। हालांकि, तमाम कोशिशों के बावजूद उनकी मां को तो नहीं बचाया जा सका, लेकिन उनके इस फैसले के बाद ये बात तो सिद्ध हो गई कि, मां से सच्चा प्यार करने वाले बेटे के सामने आने वाली दुनिया की कोई भी सफलता मायने नहीं रखती।

Patrika Positive News
Patrika Positive News : ये हैं वो IAS जिन्होंने कोरोना संक्रमित मां की सेवा के लिए छोड़ा दिया कलेक्टर का पद

अनूप कुमार सिंह की तमाम कोशिशें उनकी बीमार मां की जान नहीं बचा सकीं। 35 दिनों तक ग्वालियर के अस्पताल में जीवन का संघर्ष करने के बाद उनकी मां रामदेवी बाई का निधन हो गया। अनूप कुमार सिंह की मां बीते 13 अप्रैल को ग्वालियर के एक निजी अस्पताल में भर्ती हुईं थीं। एक से ज़्यादा बार हुए कोविड टेस्ट में पहले उनकी रिपोर्ट निगेटिव, फिर पॉज़िटिव आई और फिर निगेटिव आई थी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मंगलवार को अनुप कुमार की मां ने इलाज के दौरान आखिरी सांस ली। इलाज के दौरान वो 9 दिन वेंटिलेटर पर भी रहीं, इसी दौरान उनका डायलिसिस भी हुआ।

जबलपुर में अपर कलेक्टर के तौर पर अनुप कुमार सिंह को इसी महीने की 7 तारीख को राज्य सरकार की ओर से दमोह का कलेक्टर पद संभालने की जिम्मेदारी सौंपी थी, लेकिन मां की बीमारी के चलते उन्होंने ये पद स्वीकार नहीं किया था। सिंह के आवेदन के बाद उन्हें जबलपुर में ही पदस्थ रखा गया। गौरतलब है कि दमोह उपचुनाव में भाजपा की हार के बाद ज़िले के एसपी और कलेक्टर के साथ अन्य अधिकारियों का तबादला किया गया था।

मूल रूप से उत्तर प्रदेश के कानपुर के रहने वाले 2013 बेच के IAS अफसर अनुप कुमार 1987 में जन्मे थे। उन्हें शांत और सरल स्वभाव का आईएएस माना जाता है। फिलहाल, उनकी तैनाती जबलपुर में अपर कलेक्टर के पद इसी साल फरवरी में की गई थी। इससे पहले सिंह जबलपुर में ही नगर निगम कमिश्नर और उससे पहले ग्वालियर में अपर कलेक्टर रह चुके हैं।मूल रूप से कानपुर के रहने वाले अनुप की माता के शांत होने के बाद अब उनके घर में पिता और तीन बहनें हैं। निधन के बाद अनुप की मां रामदेवी का शव कानपुर उनके गृह नगर ले जाया गया। वहीं उनका अंतिम संस्कार किया गया।

कोरोना वैक्सीन से जुड़े हर सवाल का जवाब - जानें इस वीडियो में

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

यहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतियूपी में घर बनवाना हुआ आसान, सस्ती हुई सीमेंट, स्टील के दाम भी धड़ामName Astrology: पिता के लिए भाग्यशाली होती हैं इन नाम की लड़कियां, कहलाती हैं 'पापा की परी'इन 4 राशियों के लड़के अपनी लाइफ पार्टनर को रखते हैं बेहद खुश, Best Husband होते हैं साबितजून में इन 4 राशि वालों के करियर को मिलेगी नई दिशा, प्रमोशन और तरक्की के जबरदस्त आसारमस्तमौला होते हैं इन 4 बर्थ डेट वाले लोग, खुलकर जीते हैं अपनी जिंदगी, धन की नहीं होती कमी1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्ससंयुक्त राष्ट्र की चेतावनी: दुनिया के पास बचा सिर्फ 70 दिन का गेहूं, भारत पर दुनिया की नजर

बड़ी खबरें

सेना का 'मिनी डिफेंस एक्सपो' कोलकाता में 6 से 9 जुलाई के बीचGujrat कांग्रेस के वरिष्ठ नेता का विवादित बयान, बोले- मंदिर की ईंटों पर कुत्ते करते हैं पेशाब'तुम्हारे कदम से मेरी आँखों में आँसू आ गए', सिंगला के खिलाफ भगवंत मान के एक्शन पर बोले केजरीवालसमलैंगिकता पर बोले CM नीतीश कुमार- 'लड़का-लड़का शादी कर लेंगे तो कोई पैदा कैसे होगा'Women's T20 Challenge: वेलोसिटी ने सुपरनोवास को 7 विकेट से हरायाSSC घोटाले के बाद अब बंगाल में नर्सों की नियुक्ति में धांधली, विरोध प्रदर्शन के बीच पुलिस और स्टूडेंट्स में हुई झड़पसचिन दिल्ली से जयपुर की फ्लाइट में बैठे और पहुंच गए अहमदाबाद, ऐसे हुआ गड़बड़झालाअमित शाह और IAS पूजा सिंहल की फोटो शेयर करने वाले फिल्ममेकर को कोर्ट से नहीं मिली राहत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.