scriptजोनल प्लान कागजों में, नए नौ क्षेत्र तय, लेकिन शुरू नहीं हो सका काम | Zonal plan on paper, nine new areas decided, but work could not start | Patrika News
भोपाल

जोनल प्लान कागजों में, नए नौ क्षेत्र तय, लेकिन शुरू नहीं हो सका काम

सीएम ने मास्टर प्लान के पहले जोनल प्लान बनाने का दिया सुझाव

भोपालDec 30, 2023 / 06:45 pm

jitendra yadav

जोनल प्लान कागजों में, नए नौ क्षेत्र तय, लेकिन शुरू नहीं हो सका काम

जोनल प्लान कागजों में, नए नौ क्षेत्र तय, लेकिन शुरू नहीं हो सका काम

भोपाल. मुख्यमंत्री ने शहर के मास्टर प्लान की बजाय जोनल प्लान से माइक्रो प्लाङ्क्षनग कर शहर विकास की बात कही है, वह राजधानी में विभागों के बीच कई सालों से अटकी हुई है। 2012 में शहर के तीन क्षेत्र एम्स, बैरागढ़ व टीटी नगर के जोनल प्लान तैयार कराए थे। इनमें टीटी नगर को स्मार्टसिटी में लिया, जबकि दो अन्य के प्लान कागज से ही बाहर नहीं निकले। बीते साल भी स्टेट इंस्टीट््यूट ऑफ टाउन प्लाङ्क्षनग की ओर से आउटलाइन तैयार कर निगम को प्लान तय करने के लिए कहा था, लेकिन निगम ने इसमें एक कदम भी आगे नहीं बढ़ाया है।
40 हजार हेक्टेयर को नौ भागों में बांटा
जोनल प्लान बनाने के लिए भोपाल के वार्डों को नौ भागों में बांटकर स्टेट इंस्टीट््यूट फॉर टाउन प्लाङ्क्षनग ने नौ भाग में वार्डवार बांटकर नक्शा तैयार किया है। कुल 40 हजार हेक्टेयर से अधिक क्षेत्रफल में फैले नगर निगम के हर हिस्से में विकास का पूरा लाभ मिले इसलिए ये बंटवारा किया गया।
जोनल प्लान से ये होंगे लाभ
यदि जोनल प्लान तैयार हो जाए तो क्षेत्रवार आबादी के अनुसार जनसुविधाओं को ध्यान में रखते हुए अस्पताल, बाजार, स्कूल-कॉलेज, पार्क और इसी तरह की जरूरी सुविधाओं के लिए जमीन तय कर काम शुरू हो जाएगा। लोगों को इनके लिए अपने क्षेत्र से बाहर न जाना पड़े इसे ध्यान में रखते हुए ये प्लान तैयार किए जाएंगे। नगर तथा ग्राम निवेश अधिनियम के तहत विकास योजना टीएंडसीपी का जिम्मा है, जबकि इसके आधार पर जोनवार प्लाङ्क्षनग करना नगर निगम का काम है। हालांकि निगम इसमें पूरी तरह से फेल रहे हैं, इसलिए शासन ने सिटोप के माध्यम से प्लान तैयार करवाए।
जोनल प्लान के लिए ऐसे बंटे हैं क्षेत्र
जोनल क्षेत्र एक- गुलमोहर से 12 नंबर तक
क्षेत्रफल- 5505.55 हेक्टेयर
———————————————
जोनल क्षेत्र दो- साकेत नगर से बरखेड़ा पठानी तक।
क्षेत्रफल- 5815.38 हेक्टेयर।
————————————————
जोनल क्षेत्र तीन- भेल से हथाईखेड़ा तक।
क्षेत्रफल- 3245.28 हेक्टेयर।
——————————————————-
जोनल क्षेत्र चार- करोंद से छोला, बायपास तक।
क्षेत्रफल- 5133.07 हेक्टेयर।
—————————————————————
जोनल क्षेत्र पांच- साधु वासवानी से भौंरी तक।
क्षेत्रफल- 7841.99 हेक्टेयर।
————————————————
जोनल क्षेत्र छह- इब्राहिमगंज से मोती मस्जिद तक।
क्षेत्रफल- 2049.73 हेक्टेयर।
———————————————————
जोनल क्षेत्र सात- टीटी नगर से चूनाभट्टी तक।
क्षेत्रफल- 4947.39 हेक्टेयर।
—————————————————————
जोनल क्षेत्र आठ- नेहरू नगर से कान्हाकुंज कोलार।
क्षेत्रफल- 4336.99 हेक्टेयर।
————————————————-
जोनल क्षेत्र नौ- एमपी नगर से चांदबड़, ऐशबा तक।
क्षेत्रफल- 1621.24 हेक्टेयर।
जोनल प्लान के लिए कंसलटेंट तय कर नगर निगम को काम आगे बढ़ाने के लिए लिखा था। अब तक तो कुछ नहीं हुआ है। इससे शहर के हर क्षेत्र का समान विकास होगा।
– राजेश नागल, टाउन प्लानर

Hindi News/ Bhopal / जोनल प्लान कागजों में, नए नौ क्षेत्र तय, लेकिन शुरू नहीं हो सका काम

ट्रेंडिंग वीडियो