राज्य दल ने किया अस्पतालों का निरीक्षण, मिली कमियां

राज्य दल ने किया अस्पतालों का निरीक्षण, मिली कमियां

Atul Acharya | Publish: Jun, 15 2019 06:06:06 AM (IST) Bikaner, Bikaner, Rajasthan, India

जिला कलेक्टर को सौंपी रिपोर्ट

बीकानेर. सरकारी अस्पतालों में स्वच्छता के मानदंडों को पूर्णतया लागू करने तथा संक्रमण मुक्ता स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया कराने के लिए सरकार की ओर से कायाकल्प व गुणवत्ता आश्वासन कार्यक्रम के तहत विशेष अभियान चलाया हुआ है। अभियान की मॉनिटरिंग करने आए राज्य से आए जांच दल ने फिर से स्वास्थ्य विभाग को कमियों की लंबी फेहरिस्त थमाई है।जांच दल में शामिल डॉ. राजेन्द्र मित्तल और अर्चना शर्मा ने ने जिले की अस्पतालों का निरीक्षण करने के बाद अपनी रिपोर्ट तैयार कर जिला कलक्टर को सौंप दी है। रिपोर्ट पर संज्ञान लेते हुए कलक्टर कुमार पाल गौतम ने स्वच्छता व हाईजीन को सर्वोच्च प्राथमिकता देने और संक्रमण मुक्त स्वास्थ्य सेवएं प्रदान करने के निर्देश स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को दिए हैं।

 

 

इन अस्पतालों में मिली अव्यवस्था

जिले की श्रीडूंगरगढ़, तौलियासर, देशनोक, नोखा, पलाना, सैरुणा, पूनरासर व मोमासर सहित जिला अस्पताल का निरीक्षण किया। नोखा व देशनोक सीएचसी में अव्यवस्था पाई गई, जिस पर जांच दल ने नाराजगी जताई। पूनरासर में लेबर रूम का दरवाजा टूटा मिला तो सीएचसी मोमासर में बिजली सप्लाई का मैन सर्किट के पास तारों का जाल मिला, जिससे हर समय दुर्घटना की आशंका रहती है।
अधिकारियों-कर्मचारियों पर गिरेगी गाज

 

 

सीएमएचओ डॉ. देवेन्द्र चौधरी के मुताबिक कई अस्पतालों में गुणवत्ता आश्वासन कार्यक्रम अस्सेसमेंट के ऑनलाइन इन्द्राज का काम भी नहीं किया जा रहा है, जिसे भी राज्यस्तरीय जांच दल ने गंभीरता से लिया है। इस मामले में अधिकारियों-कर्मचारियों पर कार्रवाई की जा सकती है। अस्पतालों में स्वच्छता, नकारा सामान, निस्तारण, बायॉमेडिकल वेस्ट, लेबर रूम मापदंड, ओपीडी पर्चियों के इन्द्राज जैसे कार्य लंबित चल रहे हैं। जांच दल ने राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम (आरबीएसके) मोबाइल डेंटल वैन का निरीक्षण भी किया। तय अवधि निकली, अब नहीं हो सकेगा इन्द्राज

 

 

स्वास्थ्य विभाग के सूत्रों के अनुसार गुणवत्ता आश्वासन कार्यक्रम अस्सेसमेंट का ऑनलाइन इन्द्राज सॉफ्टवेयर में करना होता है। इसकी अवधि तय थी लेकिन कई अस्पतालों में इन्द्राज नहीं किया गया। अब यह इन्द्राज किया भी नहीं जा सकता। जांच दल ने इसे गंभीरता से लिया है। इसी मामले में देशनोक सीएचसी में कम्प्यूटर ऑपरेशन की सेवाएं समाप्त करने के निर्देश दिए हैं।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned