मरवाही उपचुनाव: नामांकन के दौरान आमने-सामने आया मुख्यमंत्री और जोगी परिवार

- मरवाही उपचुनाव (Marwahi Bypoll) में सीएम भूपेश ने किया कांग्रेस के जीत का दावा

- त्रिकोणीय मुकाबले पर बोले सीएम स्क्रूटनी के बाद तय हो जाएगा

By: Ashish Gupta

Updated: 17 Oct 2020, 02:04 PM IST

बिलासपुर. मरवाही उपचुनाव नामांकन के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री स्वर्गीय अजीत जोगी का पूरा परिवार और कांग्रेस के मुख्यमंत्री के बीच भले ही सियासी प्रतिद्वंदिता बयानों के जरिए सामने आई है, लेकिन भेंट मुलाकात में दोनों पक्षों के बीच गजब की राजनीतिक शिष्टता दिखाई दी।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (CM Bhupesh Baghel) ने रेणु जोगी को नमस्कार किया वहीं अमित जोगी ने भूपेश बघेल को हाथ जोड़कर नमस्ते किए। इसके बाद कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम, सांसद ज्योत्सना महंत और गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू जय सिंह अग्रवाल ने एक-एक कर कोटा विधायक डॉ रेणु जोगी के पास पहुंचकर मुलाकात की वहीं अमित व ऋचा जोगी भी नमस्कार करते रहे।

मरवाही उपचुनाव के लिए नामांकन का आखिरी दिन गौरेला स्थित जिला निर्वाचन कार्यालय के बाहर जोगी कांग्रेस और कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं की भीड़ रही। नामांकन दाखिल करने के लिए अमित जोगी रेणु जोगी और ऋचा लगभग एक बजे पहुंचे फार्म भरने के बाद तीनों वहीं बैठे रहे। दोपहर दो बजे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल लाव लस्कर के साथ पहुंचे। प्रत्याशी को लेकर प्रदेश अध्यक्ष नामांकन कक्ष पहुंचे। इसके बाद बारी बारी सभी नेता नामांकन कक्ष में जाते रहे। मुख्मंत्री भूपेश बघेल पहुंचे तो डॉ. रेणु जोगी और अमित खड़े थे ऋचा जोगी थोड़ी दूर पर बैठी थीं।

मरवाही उपचुनाव: BJP ने 30 स्टार प्रचारकों की सूची जारी की, लिस्ट में आदिवासी नेताओं को तवज्जो

सीएम रेणु जोगी को देखते ही उनके पास पहुंचे और कहा, भाभी जी नमस्कार और क्या हाल चाल है इतनी बात हो पाई थी कि कलेक्टर ने सीएम को नामांकन दाखिल करने प्रत्याशी के पास ले गए। इसके बाद मोहन मरकाम ने हाथ जोड़कर नमस्ते किया। थोड़ी देर बाद कोरबा लोकसभा सांसद ज्योत्सना महंत पहुंचीं। उन्होंने रेणु जोगी के पास पहुंचकर नमस्ते कर उनका हाल चाल पूछा। ऋचा और अमित ने ज्योत्सना महंत के पैर छुए। दोनों को लंबी उम्र सदा खुश रहने की आशीर्वाद दिया। जय सिंह अग्रवाल और गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू ने भी नमस्कार करते हुए सब कुशल मंगल पूछा।

प्रदेश भाजपा कार्यसमिति की बैठक 19 को, बनेगी भविष्य की रणनीति

तब रेणु जोगी ने सब ठीक है कहा एक-एक कर नेताओं का आना जाना और सभी के द्वारा रेणु जोगी और उनके बेटे बहू से मिलने के सिलसिला का नजारा अधिकारी भी देखते रहे। रेणु, अमित और ऋचा से मुलाकात करने की पुष्टि स्वंय मुख्यमंत्री और रेणु जोगी ने की। इसके अलावा सभी नेताओं ने भी बताया कि उनकी मुलाकात जोगी परिवार से हुई है। सभी ने कहा राजनीति और शिष्टाचार अलग होता है। ज्योत्सना महंत ने कहा राजनीति में आमने सामने हैं लेकिन स्वर्गीय अजीत जोगी मेरे बड़े भाई थे और उनके परिवार ने हर मोड़ पर मुझे साथ दिया है।

Show More
Ashish Gupta Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned