करगिल विजय दिवस : 'कारगिल युद्ध' पर बनी इन फिल्मों को देखकर आज भी आंखें हो जाती हैं नम, वीरों की कहानी बताती हैं ये फिल्में

By: Pratibha Tripathi
| Published: 26 Jul 2021, 11:33 AM IST
करगिल विजय दिवस : 'कारगिल युद्ध' पर बनी इन फिल्मों को देखकर आज भी आंखें हो जाती हैं नम, वीरों की कहानी बताती हैं ये फिल्में
kargil war on the big screen

आज से 22 साल पहले 26 जुलाई 1999 में कारगिल युद्ध हुआ था,कारगिल की इस लड़ाई में सेना की बहादुरी के किस्सों को दर्शाने के लिए बॉलीवुड ने कई फिल्मों बनाई है। जो काफी हद तक सफल साबित हुई। उनमें से कुछ फिल्में को ऐसी भी रही है जिसे देखने के बाद दर्शकों के आखों के आंसू रूकने का नाम ही नही लेते हैं।

नई दिल्ली। आज कारगिल युद्ध में भारत की विजय के 22 साल पूरे हो गए हैं। 26 जुलाई भारत के इतिहास का वो दिन जब साल 1999 में करीब 2 महीने तक चले इस कारगिल युद्ध में भारत ने एक बड़ी जीत हासिल कर पाकिस्तान को पीछे हटने के लिए मजबूर कर दिया था। तब से लेकर आज तक इस दिन को कारगिल युद्ध में शहीद हुए जवानों के सम्मान के लिए हर साल यह विजय दिवस के रूप में मनाया जाता है। कारगिल युद्ध में शहीदों की वीरगाथाएं को सामने लाने के लिए बॉलीवुड फिल्म इंडस्ट्री का सबसे बड़ा हाथ रहा है जिन्होंने कारगिल की इस लड़ाई में सेना की बहादुरी के किस्सों को दर्शाने के लिए कई तरह की फिल्म बनाई है जो काफी सफल हुई हैं। कारगिल विजय दिवस के मौके पर आपको बताते हैं कि कारगिल युद्ध को लेकर बॉलीवुड में कौन-कौन सी फिल्में बनी हैं...

Read More:- कैप्टन विक्रम बत्रा: कारगिल की जंग में पाकिस्तान को धूल चटाने वाले इस शेरशाह को नम आखों से माता पिता ने दी सच्ची श्रद्धांजलि, कही दिल छू लेने वाली बात

loc.jpg

'एलओसी कारगिल'

साल 2003 में बनी फिल्म 'एलओसी कारगिल' यह पहली फिल्म थी, जो कारगिल युद्ध की वीरगाथा पर आधारित थी। यह फिल्म 12 दिसंबर 2003 में सिनेमाघरों में रिलीज हुई थी। इस फिल्म में अजय देवगन, संजय दत्त, अभिषेक बच्चन, करीना कपूर, सैफ अली खान और सुनील शेट्टी ने मुख्य भूमिका निभाते हुए अने अपने अभिनय का अच्छा प्रदर्शन किया था यह फिल्म दर्शकों को बेहद पंसद आई थी।

tango_charlie.jpg

टैंगो चार्ली

'एलओसी कारगिल' के बाद दूसरी फिल्म बनी थी फिल्म 'टैंगो चार्ली', इसमें भी अजय देवगन, संजय दत्त के साथ बॉबी देओल मुख्य भूमिका में थे। यह फिल्म 25 मार्च 2005 में हर सिनेमाघरों में रिलीज हुई थी। जिसे दर्शकों ने बेहद पंसद किया था। इस फिल्म के निर्देशक मणी शंकर थे।

Read More:-दीपिका पादुकोण से लेकर आमिर खान तक रहे प्रोफेशनल प्लेयर्स, एक्टर ना होते तो खेल से करते देश का नाम रोशन

lakshya.jpg

लक्ष्य

वहीं, 'एलओसी कारगिल' और 'टैंगो चार्ली' के बाद कारगिल युद्ध पर बनी फिल्म 'लक्ष्य' थी। इस फिल्म में ऋतिक रोशन, प्रीति जिंटा, अमिताभ बच्चन, अमरीश पुरी और ओम पुरी मुख्य भूमिकाओं में थे। यह फिल्म 18 जून 2004 में रिलीज हुई थी। इस फिल्म को बॉलीवुड एक्टर फरहान अख्तर ने डायरेक्ट किया था।

lakshya.jpg

स्टंप्ड

'एलओसी कारगिल' के साथ ही साल 2003 में कारगिल युद्ध पर एक और फिल्मबनी थी। जिसका नाम 'स्टंप्ड' था यह फिल्म साल 1999 में हुए करगिल युद्ध के दौरान क्रिकेट वर्ल्ड कप में फंसी जनता की कहानी को लेकर बनाई गई थी।

stamp6.jpg

मौसम (2011)

साल 2011 में रिलीज हुई फिल्म मौसम भी कारगिल वॉर पर आधारित है इस फिल्म में शाहिद कपूर और सोनम कपूर नज़र आए थे। यह फिल्म एक पंजाबी शख्स की कहानी है, जो कश्मीरी लड़की से प्यार करता है। और युद्ध की वजह से वो अलग हो जाते हैं।

dhoop1.jpg

धूप

फिल्म धूप एक फैमिली ड्रामा है, जो रियल लाइफ की घटना पर आधारित है। यह फिल्म कारगिल वॉर में शहीद हुए कैप्टन अनुज नय्यर की फैमिली से जुड़ी कहानी है। इस फिल्म में ओमपुरी ने कैप्टन का किरदार निभाया है। इसमें उस एंगल को लिया गया है, जब कारगिल वॉर के शहीदों के घरवालों को सरकार की ओर से पेट्रोल पंप दिए गए थे।