scriptHrithik Roshan Mohenjo Daro Controversy over Narmada river crocodile | जब नर्मदा नदी के मगरमच्छों ने ऋतिक रोशन को मुश्किल में डाला, जानें पूरा मामला | Patrika News

जब नर्मदा नदी के मगरमच्छों ने ऋतिक रोशन को मुश्किल में डाला, जानें पूरा मामला

12 अगस्त 2016 को रिलीज हुई ‘मोहेंजो दारो’ फिल्म ऋतिक की यादगार फिल्मों में से एक है। आशुतोष और ऋतिक की इस फिल्म को कई बार विवादों का सामना भी करना पड़ा था।

Updated: November 08, 2021 03:17:00 pm

नई दिल्ली। Hrithik Roshan Mohenjo Daro Controversy : बॉलीवुड एक्टर ऋतिक रोशन (Hrithik Roshan) ने ‘मोहेंजो दारो’ (Mohenjo Daro) फिल्म में ग्रीक एक्टर के रुप में गजब की परफॉर्मेंस दी थी। 12 अगस्त 2016 को रिलीज हुई ‘मोहेंजो दारो’ फिल्म ऋतिक की यादगार फिल्मों में से एक है। इस फिल्म के कई सीन आज भी दर्शकों के दिलो दिमाग में तरोताजा है। निर्देशक आशुतोष गोवारिकर की इस फिल्म में कई एक्सपेरिमेंट किए गए थे। सिंधु घाटी सिविलाइजेशन को दिखाने के लिए आर्कियोलॉजिस्ट के साथ कई दौर की मीटिंग हुई थी। इसके बाद भी आशुतोष और ऋतिक की इस फिल्म को विवादों का सामना भी करना पड़ा था।
Hrithik Roshan Mohenjo Daro Controversy over Narmada river crocodile
Hrithik Roshan
तीन साल तक रिसर्च की गई थी
दरअसल आशुतोष गोवारिकर ने ‘मोहेंजो दारो’ फिल्म की कहानी से न्याय करने के लिए तीन साल तक रिसर्च की गई थी। फिल्म के सेट और लाइफस्टाइल को ठीक से फिल्माने के लिए प्रोफेसर जोनाथन मार्क केनोयर (Professor Jonathan Mark Kenoyer) को बुलाया था जो हड़प्पा सिविलाइजेशन के एक्सपर्ट थे। फिल्म की लोकेशन को लेकर भी आशुतोष ने कई जगह विजिट किया तब कहीं जाकर स्क्रीन पर प्राचीन समय को दिखा पाने में कामयाब हुए थे।
आशुतोष ने अपने एक इंटरव्यू में बताया था कि कई जगह गया लेकिन कोई जगह सिंघु घाटी की सभ्यता दिखाने के लिए ठीक नहीं लग रही थी। इसके बाद हमारी तलाश मध्यप्रदेश के जबलपुर के भेड़ाघाट पर आकर पूरी हुई। करीब 4 हजार साल प्राचीन सभ्यता को फिल्मी पर्दे पर दिखाने की खोज हमारी यही आकर खत्म हुई थी।
नर्मदा नदी को प्रदूषित करने का आरोप
जबलपुर के भेड़ाघाट में नर्मदा नदी का तट हूबहू सिंधु नदी जैसा बनाया गया। लेकिन 2015 में जब फिल्म की शूटिंग चल रही थी तो, उस वक्त काफी विवाद भी हुआ हो गया था। ऋतिक रोशन और मगरमच्छों के साथ फाइटिंग सीन के कारण आशुतोष पर नर्मदा नदी को प्रदूषित करने का आरोप लगा था।
दरअसल, फिल्म के स्क्रीन पर ऋतिक को मगरमच्छों से भिड़ते देख दर्शक स्तब्ध रह गए थे, लेकिन वो असली नहीं बल्कि आर्टिफिशियल मगरमच्छ थे। लेकिन नदी में खून बहता दिखाया गया था। जिसे देखते हुए पर्यावरण प्रेमियों ने इसके केमिकल की वजह से नदी के पॉल्यूटेड होने का आरोप लगाया था।
वहीं, कुछ इसे धार्मिक आस्था से भी जोड़ रहे हैं। नर्मदा नदी को मकरवाहिनी भी कहा जाता है यानी वह मगरमच्छ की सवारी करती हैं। ऐसे में नर्मदा नदी में ऐसा सीन शूट करना जिसमें मगरमच्छ को मारा गया, लोगों की धार्मिक भावनाओं के विरुद्ध बताया गया था।
बता दें कि ऋतिक रोशन के अलावा इस फिल्म में कबीर बेदी, पूजा हेगड़े, अरुणोदय सिंह ने भी शानदार काम किया था। इस फिल्म का संगीत सिनेमाघर में सम्मोहन क्रिएट करने में कामयाब रहा था। फिल्म के गानों को जावेद अख्तर ने लिखा और संगीत ए आर रहमान ने दिया था।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.