scriptMeena Kumari was trapped in Chambal dacoits | चंबल के डकैतों में फंसी Meena Kumari ने डाकू के हाथ पर चाकू से अपना नाम गोदकर बचाई थी क्रू मेंबर्स की जान | Patrika News

चंबल के डकैतों में फंसी Meena Kumari ने डाकू के हाथ पर चाकू से अपना नाम गोदकर बचाई थी क्रू मेंबर्स की जान

60 से 70 दशक की खूबसूरत एक्ट्रेस में शुमार मीना कुमारी (Meena Kumari) से जुड़े इतने किस्से हैं, जो किसी न किसी बहाने सामने आ ही जाते हैं. उन्होंने अपने दौर में कई हिट फिल्मों में काम किया था. उनकी सबसे ज्यादा देखने जाने वाली फिल्म 'पाकीजा' (Pakeezah) थी. इसी शूटिंग के दौरान उनको चंबल के डकैतों ने पकड़ लिया था.

Published: March 27, 2022 03:06:21 pm

बॉलीवुड की 'ट्रैजेडी क्वीन' कहे जाने वाली मीना कुमारी (Meena Kumari) ने अपनी एक्टिंग और ख़ूबसूरती से लोगों को अपना दीवाना बना लिया था. उन्होंने अपने दौर की कई हिट फिल्मों में काम किया था. अक्सर ही उनसे जुड़े कई कहानी किस्से लोगों के बीच वायरल होते रहते हैं, जिनको काफी मजे से पढ़ा और सुना जाता है. मीना कुमारी अपनी फिल्मी दुनिया के साथ-साथ अपनी पर्सनल लाइफ को लेकर भी काफी सुर्खियों में रही हैं. फिर चाहे वो उनके अफेयर की खबरे हों या शराब की लत की बात है. मीना कुमारी की चर्चित फिल्मों में 'पाकीजा' (Pakeezah) थी.
meena_kumari.jpg
चंबल के डकैतों में फंसी Meena Kumari ने डाकू के हाथ पर चाकू से अपना नाम गोदकर बचाई थी क्रू मेंबर्स की जान
इसी फिल्म के दौरन के कई किस्से ऐसे हैं, जिनको लोगों जानते हैं और सुने ही होंगे. आज हम आपको एक और ऐसे अनसुने किस्से के बारे में बातने जा रहे हैं, जिसको सुनने के बाद होश उड़ जाएंगे. 60 से 70 के दशक में कमाल अमरोही (Kamal Amrohi) और मीना कुमारी (Meena Kumari) अपने कुछ क्रू मेम्बर्स के साथ 'पाकीजा' की शूटिंग के लिए मध्य प्रदेश के शिवपुरी इलाके पहुंचे तब ही बियाबान इलाक़े के पास उनकी गाड़ी का पेट्रोल ख़त्म हो गया और उन्होंने गाड़ी साइड में लगा दी. इतनी ही देर में चंबल के डाकुओं के एक गिरोह ने आकर उनकी गाड़ियों को घेर लिया. रात के समय जब उन्होंने हथियारबंद दर्जनों डाकूओं को देखा तो डर से कांपने लगे.
यह भी पढ़ें

'Veerana' की 'चुड़ैल जैस्मिन' याद है आपको, जिसकी ख़ूबसूरती के आगे हीरोइंस भी भरा करती थी पानी आज दिखती हैं ऐसी

meena_kumari_4.jpgगाड़ी को घेरने के बाद कमाल अमरोही ने उनमें से एक से बोला कि 'तुम अपने सरदार से कहो कि वो हमसे कार में ही आकर मिलें'. जैसे ही कमाल अमरोही ने ये बोला तभी एक शख़्स उनके पास आया और पूछा कि 'तुम कौन हो?' उन्होंने बोला 'मैं कमाल अमरोही हूं और शूटिंग करने चंबल आया हूं'. शूटिंग सुनते ही वो शख़्स ग़ुस्से में आ गया और सबको पुलिसवाला समझ कर ग़ुस्से से बात करने लगा, क्योंकि उसे लगा कि ये लोग पुलिसवाले हैं और यहां पर हमारा 'शूट' यानि एनकाउंटर करने आए हैं. इस गलतफहमी के चलते कमाल अमरोही और मीना कुमारी डाकुओं के चंगुल में फंस गए हैं.
meena_kumari_2.jpgइसके बाद हिम्मत जुटाते हुए कमाल अमरोही ने पूछा 'आपका नाम'? तो वो शख़्स बोला 'दस्यु बागी अमृत लाल (Daku Amrit Lal Chambal) सुना है ये नाम तुमने अपनी बंबई में?' डाकू अमृत लाल उस ज़माने का चंबल घाटी का सबसे क्रूर और निडर डकैत था, जिसके ऊपर बहुत भारी इनामी राशि थी और जिसके नाम से पुलिस भी कांपती थी. इसके बाद कमाल अमरोही ने अमृत लाल को बताया कि 'वो कोई पुलिसवाले नहीं है और न ही गोलीबारी करने आए हैं, उनकी शूटिंग का मतलब फ़िल्म की शूटिंग है'. ये सुनते ही डाकू अमृत लाल का व्यवहार थोड़ा नर्म हो गया और कमाल अमरोही जैसी मशहूर शख़्सियत को अपने सामने देखकर ख़ुश हो गया.
meena_kumari_3.jpgबातचीत के उस डाकू को पता चला कि दूसरी गाड़ी में एक्ट्रेस मीना कुमारी बैठी हैं. उस दौरान पता चला कि डाकू अमृत लाल मीना कुमारी का बेहद बड़ा फैन था. इसके बाद उनसे मीना कुमारी से मिलने की ज़िद की और कहा कि 'मिलने के बाद ही सबको दिल्ली जाने देगा. ख़ुशी में पागल डाकू अमृत लाल ने उस रात सबके लिए नाच-गाने के साथ-साथ खाने-पीने का भी इंतज़ाम कराया और उनकी गाड़ी में पेट्रोल भी उसके ही आदमियों ने भरवाया और फिर सब जाने की तैयारी करने लग गए'. डाकू मीना कुमारी का ऑटोग्राफ लेना चाहता था, लेकिन कागज और पेन का इंतजाम न होने के चलते डाकू अमृत लाल ने चाकू मंगाकर कमाल अमरोही और मीना कुमारी के सामने रख दिया.
meena_kumari_5.jpgये देखकर मीना कुमारी काफी सहम गई थीं. इसके बाद चाकू रखने की वजह पूछने पर डाकू ने कहा कि 'मीना कुमारी जब उसके हाथ पर चाकू से अपना नाम लिखेंगी तभी यहां से सब लोग जा पायेंगे'. उसकी इस जिद के आगे मीना कुमारी की एक ना चली और उन्होंने चाकू तो हाथ उठा लिया, लेकिन उसके हाथ पर चाकू से अपना नाम लिखने की हिम्मत उनकी नहीं हो रही थी. नाज़ुक और प्यारी सी मीना कुमारी ने अपने सभी क्रू मेंबर्स की जान बचाने के लिए आख़िरकार हिम्मत जुटाई और उसके हाथों पर अपना नाम चाकू से लिख दिया और फिर सब लोग वहां से निकल गए.

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather. राजस्थान में आज 18 जिलों में होगी बरसात, येलो अलर्ट जारीसंस्कारी बहू साबित होती हैं इन राशियों की लड़कियां, ससुराल वालों का तुरंत जीत लेती हैं दिलशुक्र ग्रह जल्द मिथुन राशि में करेगा प्रवेश, इन राशि वालों का चमकेगा करियरउदयपुर से निकले कन्हैया के हत्या आरोपी तो प्रशासन ने शहर को दी ये खुश खबरी... झूम उठी झीलों की नगरीजयपुर संभाग के तीन जिलों मे बंद रहेगा इंटरनेट, यहां हुआ शुरूज्योतिष: धन और करियर की हर समस्या को दूर कर सकते हैं रोटी के ये 4 आसान उपायछात्र बनकर कक्षा में बैठ गए कलक्टर, शिक्षक से कहा- अब आप मुझे कोई भी एक विषय पढ़ाइएUdaipur Murder: जयपुर में एक लाख से ज्यादा हिन्दू करेंगे प्रदर्शन, यह रहेगा जुलूस का रूट

बड़ी खबरें

Delhi News Live Updates: दिल्ली विधानसभाः शुरू हुआ मानसून सत्र, दुर्गेश पाठक ने ली शपथSidhu Moose Wala Murder: दिल्ली पुलिस को बड़ी कामयाबी, सिद्धू मूसेवाला को नजदीक से गोली मारने वाला शूटर अंकित गिरफ्तारMaharashtra Politics: महाराष्ट्र में फ्लोर टेस्ट में एकनाथ शिंदे सरकार को मिला बहुमत, 164 विधायकों ने किया समर्थनपीएम मोदी आज जाएंगे आंध्र प्रदेश, अल्लुरी सीताराम राजू की प्रतिमा का करेंगे अनावरणहिमाचल प्रदेश के कुल्लू में बड़ा हादसा, सैंज घाटी में गिरी बस, बच्चों समेत 16 लोगों की मौतNCR के एरिया का दायरा कम करना चाहती है हरियाणा सरकार, विपक्ष के नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा जता चुके हैं विरोधसूरत फैमिली कोर्ट ने एक दिन में 303 मामलो का किया निपटारा, जज आरजी देवधारा ने कहा- यह एक दिन का रिकॉर्डDelhi News Live Updates: दिल्ली विधानसभाः शुरू हुआ मानसून सत्र, दुर्गेश पाठक ने ली शपथ
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.