Sushant Singh Case: सुब्रमण्यम स्वामी का दावा- एम्स की रिपोर्ट के बारे में स्वास्थ्य मंत्रालय को नहीं दी गई जानकारी

By: पवन राणा
| Published: 13 Oct 2020, 10:57 PM IST
Sushant Singh Case: सुब्रमण्यम स्वामी का दावा- एम्स की रिपोर्ट के बारे में स्वास्थ्य मंत्रालय को नहीं दी गई जानकारी
Sushant Sing की मौत से जुड़े सुब्रमण्यम स्वामी के 5 सवाल, कहा- एम्स की रिपोर्ट के बारे में स्वास्थ्य मंत्रालय को नहीं दी गई जानकारी

सुब्रमण्यम स्वामी ( Subramanian Swamy ) ने सवाल उठाए हैं कि क्या एम्स की टीम ने सुशांत ( Sushant Singh Rajput ) के शव का पोस्टमॉर्टम किया था या केवल कूपर अस्पताल के डॉक्टरों की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट से अपनी राय बनाई? इसी तरह के कुल पांच सवाल स्वामी ने एम्स रिपोर्ट पर पूछे हैं।

मुंबई। दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत ( Sushant Singh Rajput ) मौत मामले में बीजेपी सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ( Subramanian Swamy ) शुरू से ही मुखर रहे हैं और हत्या वाले एंगल के पक्षों को उजागर करते रहे हैं। हाल ही स्वामी ने दावा किया है कि एम्स की रिपोर्ट के बारे में स्वास्थ्य मंत्रालय को जानकारी नहीं दी गई थी।

यह भी पढ़ें: 'गोलमाल' के बाद Rohit Shetty 'अंगूर' के रीमेक की तैयारी में, रणवीर निभाएंगे डबल रोल

स्वामी ने मंगलवार को ट्वीट कर कहा, 'मैंने एम्स टीम की कथित रिपोर्ट से जुड़े अपने 5 सवालों पर स्वास्थ्य सचिव के साथ बातचीत पूरी कर ली है। एक समाचार चैनल ने इस रिपोर्ट को लेकर दावा किया था कि एसएसआर ने आत्महत्या की थी। इस मामले में मंत्रालय को जानकारी नहीं दी गई है, अब मैं संबंधित विशेषज्ञों से बात करूंगा।'

सबूतों को नष्ट किए जाने की जांच हुई थी क्या?

स्वामी ने सवाल उठाए हैं कि क्या एम्स की टीम ने सुशांत के शव का पोस्टमॉर्टम किया था या केवल कूपर अस्पताल के डॉक्टरों की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट से अपनी राय बनाई? क्या डॉ. सुधीर गुप्ता को उच्च अधिकारियों ने कहा था कि एम्स की विशेष टीम द्वारा रिपोर्ट पेश किए जाने से पहले वे साक्षात्कार दें? क्या एम्स की टीम ने सबूतों को नष्ट किए जाने की जांच की? क्या मौत के कारणों पर एक निश्चित राय बनाने के लिए फॉरेंसिक मेडिकल के दृष्टिकोण से सामग्री अपर्याप्त सामग्री थी? और क्या स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय इस मामले को मंत्रालय के मेडिकल बोर्ड को भेजने पर विचार करेगा?

यह भी पढ़ें: बॉलीवुड प्रोडक्शन हाउसेज ने किया चैनलों पर केस, Kangana Ranaut बोलीं- मुझ पर भी केस कर दो, जब तक जिंदा हूं...

 

स्वामी ने इससे पहले एक ट्वीट कर सवाल किया था कि संतरे के ज्यूस का वह ग्लास संरक्षित क्यों नहीं रखा गया जिसे उन्होंने घटना वाले दिन की सुबह में पिया था। आश्चर्य की बात नहीं है कि मुंबई पुलिस ने सुशांत का अपार्टमेंट भी सील नहीं किया जो कि अप्राकृतिक मृत्यु की स्थिति में जरूरी होता है।

सुशांत फैंस को है स्वामी से उम्मीद

स्वामी का यह ट्वीट तब आया है, जब कुछ ही दिनों पहले एम्स का पैनल सुशांत की हत्या होने के अंदेशे को खारिज करते हुए इसे आत्महत्या का मामला बता चुका है। स्वामी के ट्वीट पर प्रतिक्रियाओं का आलम ये है कि लोग लगातार उनसे इस मामले में बड़ा कदम उठाने और तस्वीर पलट देने वाली उम्मीद कर रहे हैं। लोगों का कहना है कि स्वामी ने इस मामले में ऐसे कई सवाल खड़े किए थे जिनका आज तक जवाब नहीं मिला है। ऐसे में उम्मीद है कि अन्य मामलों की तरह उनके चहेते नेता, इसमें भी आखिर तक लड़ाई लड़ सच सामने लाएंगे।