जिम ट्रेनर ने किए सुशांत के बारे में चौंकाने वाले खुलासे, कहा-गलत दवाइयों की वजह से उनके हाथ-पैर...

By: Mahendra Yadav
| Updated: 31 Jul 2020, 07:25 PM IST
जिम ट्रेनर ने किए सुशांत के बारे में चौंकाने वाले खुलासे, कहा-गलत दवाइयों की वजह से उनके हाथ-पैर...
जिम ट्रेनर ने किए सुशांत के बारे में चौंकाने वाले खुलासे, कहा-गलत दवाइयों की वजह से उनके हाथ-पैर...

समी अहमद ने बताया कि सुशांत दिसंबर 2019 से कुछ रहस्यमयी दवाइयां ले रहे थे। इन दवाइयों का उनकी हैल्थ पर काफी बुरा प्रभाव पड़ा था। समी ने बताया कि सुशांत ने जबसे रिया को डेट करना शुरू किया था, वह बदल गए थे।

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत आत्महत्या मामले में नया मोड आ गया है। सुशांत के पिता के.के. सिंह ने रिया चक्रवर्ती के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है। इसके बाद से इस केस में कई खुलासे हो रहे हैं। सुशांत के जिम ट्रेनर ने भी अभिनेता को लेकर एक इंटरव्यू में बताया कि वे दिसंबर से ही कोई दवाई ले रहे थे, जो उन्होंने उससे पहले कभी नहीं ली थी।


दवाइयों से खराब हुई हैल्थ

अभिनेता के जिम ट्रेनर समी अहमद ने बताया कि सुशांत दिसंबर 2019 से कुछ रहस्यमयी दवाइयां ले रहे थे। इन दवाइयों का उनकी हैल्थ पर काफी बुरा प्रभाव पड़ा था। समी ने बताया कि सुशांत ने जबसे रिया को डेट करना शुरू किया था, वह बदल गए थे। इससे पहले वह दवा नहीं लेते थे, लेकिन रिया से मिलने के बाद ही उन्होंने दवाइयां लेनी शुरू की। इन दवाओं की वजह से सुशांत के हाथ—पैर कांपने लगे थे। वो काफी ज्यादा बैचेन भी रहने लगे थे। समी ने इंटरव्यू में कहा कि सुशांत ने बताया था कि वह एक—दो महीने से ये दवाइयां ले रहे थे। जब समी ने उन्हें वे दवाइयां लेने से मना किया तो सुशांत ने कहा था कि कोर्स शुरू होने के बाद इसे बीच में नहीं छोड़ सकते।

जिम ट्रेनर ने किए सुशांत के बारे में चौंकाने वाले खुलासे, कहा-गलत दवाइयों की वजह से उनके हाथ-पैर...

समी ने यह भी बताया कि सुशांत नवंबर में विदेश से लौटने के बाद डेंगू से भी पीड़ित हो गई थी। समी ने बताया कि वह डाक्टर से काउंसलिंग भी ले रहे थे। सुशांत के व्यवहार में काफी बदलाव आ गया था। वह वायरल बुखार में भी दवा नहीं लेते थे। दवाओं के कारण वह ठीक से वर्कआउट भी नहीं कर पा रहे थे।


वह डिप्रेशन में नहीं था

वहीं अंकिता लोखंडे ने एक इंटरव्यू में दावा किया है कि सुशांत डिप्रेशन में नहीं थे। उन्होंने कहा कि वह उन लोगों में से नहीं थे जो परेशान होकर सुसाइड कर लें। वो बहुत खुशमिजाज लड़के थे। अंकिता ने कहा, 'वह बहुत सारे लोगों की प्रेरणा था। ये बहुत दुख की बात है कि सब कह रहे हैं वो डिप्रेशन में था। वह एक महत्वाकांक्षी लड़का था, बच्चे जैसा था। वह कहता था कि अगर कुछ नहीं हो पाया तो मैं शॉर्ट फिल्म बनाया करूंगा।'