Video: बुलंदशहर हिंसा के बाद एसएसपी आॅफिस के बाहर एसआे को हटाने की मांग को लेकर धरने पर बैठी महिलाएं, एसएसपी ने की कार्रवार्इ

आक्रोषित गांव वालों की मांग पर एसएसपी ने कर दी यह कार्रवार्इ

By: Nitin Sharma

Published: 18 Dec 2018, 03:47 PM IST

बुलंदशहर।उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर जिले में कथित गोवश के मिलने की अफवाह के बाद भड़की हिंसा में इंस्पेक्टर समेत दो की मौत का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ था।उससे पहले ही महिलाएं बुलंदशहर महिला थाने की एसआे के खिलाफ धरने पर बैठ गर्इ।महिलाआें ने थाने का घेराव करने के बाद मंगलवार को एसएसपी आॅफिस पर धरना दिया।जिसके बाद एसएसपी ने महिला थाने की एसआे को लाइनहाजिर कर दिया।

यह भी पढ़ें-Video: घर में शख्स को बंधक बनाकर इतने पशुआें को लूटकर फरार हुए बदमाश, कीमत जानकर दंग रह गये लोग

इस वजह से कर रहे थे महिला थाने की एसआे के खिलाफ धरना

जानकारी के अनुसार बुलंदशहर के एक गांव में रहने वाली युवती संदिग्ध परिस्थितियों में गायब हो गई।जो बुलंदशहर महिला थाने की एसओ रजनी चौधरी के रिश्ते में भतीजी लगती है, उक्त मामले में गांव के संजय सोलंकी को जेल भेज दिया गया। मगर इस सबके बावजूद महिलाएं एसआे रजनी चौधरी पर आरोप है कि बीती 8 दिसंबर को एसआे रजनी चौधरी ने संजय सोलंकी की पत्नी और भाभी को अवैध रूप से 3 दिन की हिरासत में रखा और उनके साथ बर्बरता की। इतना ही नहीं एसआे ने 3 दिन तक दोनों महिलाओं के साथ जबरदस्त मारपीट की। इसके बाद उनके साथ बर्बरता के निशान महिलाओं के प्राइवेट पार्ट पर भी जुल्म की इंतहा के निशान दे दिए गए। जिसके बाद पीड़ितों ने सैकड़ो महिलाआें के साथ मिलकर एसएसपी आॅफिस पर पहुंचकर एसआे को हटाने की मांग करते हुए धरना शुरू किया।

छह दिन बाद एसएसपी ने कर दी कार्रवार्इ

मामले में उच्चाधिकारी जांच की बात कर रहे हैं जबकि पूरे घटनाक्रम को 6 दिन बीत गए, गांव वालों का रजनी चौधरी के विरुद्ध गुस्सा फूटा और मंगलवार को गांव के सैकड़ों महिलाएं और एसएसपी दफ्तर पर धरने पर बैठे। जिसके बाद एसएसपी ने एसआे रजनी चौधरी को लाइनहाजिर कर दिया।

Show More
Nitin Sharma Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned