वाहनों में लगेगा फास्टैक, अब वाहनों को टोल गेट पर नहीं करना पड़ेगा इंतजार

टोल टैक्स पर लगने वाली लम्बी लाइन से चौपहिया वाहन चालकों को मुक्ति मिलेगी।

By: Nagesh Sharma

Published: 24 Jul 2018, 12:16 PM IST

बूंदी. टोल टैक्स पर लगने वाली लम्बी लाइन से चौपहिया वाहन चालकों को मुक्ति मिलेगी। फास्टैग लगे वाहन चालकों को अब इस समस्या से नहीं जूझना पड़ेगा। शोरूम से निकलने वाले सभी वाहन फास्टैग लगे होंगे। इसको लेकर सडक़ परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने गजट नोटिफिकेशन जारी कर दिया है। सरकार ने प्रदेश के सभी जिला परिवहन अधिकारियों की इसकी पालना सुनिश्चित करने के निर्देश जारी कर दिए हैं।
परिवहन विभाग अब कार्मिशयल वाहनों में फिटनेट तब तक जारी नहीं करेगा जब तक उसमें फास्टैग लगा हुआ नहीं होगा। सडक़ परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय की ओर से जारी अधिसूचना के अनुसार केंद्रीय मोटर वाहन नियम 1989 के नियम 138ए के तहत एम व एन (यात्री एवं भार) वाहन श्रेणी के वाहन निर्माताओं अथवा अधिकृत विक्रेता (डीलर) द्वारा 1 दिसम्बर 2017 को और उसके पश्चात बेचे जाने वाले वाहनों पर फास्टैग फिट किया जाएगा। वहीं ऐसे वाहन जो ड्राइव-अवे चैसिस के रूप में विण्ड स्क्रीन के बिना बेचे जाते हैं, उन वाहन स्वामी द्वारा पंजीयन से पूर्व वाहन पर फास्टैग लगाया जाएगा। वाहन स्वामी द्वारा ऐसे वाहनों पर फास्टैग लगाने का सबूत केंद्रीय मोटरयान नियम,1989 के नियम 47 के उपनियम के तहत वाहन पंजीयन आवेदन के साथ पंजीयन अधिकारी को प्रस्तुत करना होगा।

बैंक के एजेंट लगाएंगे फास्टैग
वाहनों में फास्टैग लगाने का दायित्व वाहन मालिक का होगा। उनको पंजीयन से पूर्व इसको लगाना होगा। वाहन स्वामियों को पंजीयन में असुविधा ना हो इसको देखते हुए सरकार ने बैंकों के एजेंट के माध्यम से फास्टैग लगाने की व्यवस्था की है।

यह है फास्टैग
यह एक प्रकार का आर.एफ. आईडी कार्ड होगा, जो चौपहिया गाड़ी में सामने वाले कांच के अंदर की साइड में लगेगा। जैसे ही गाड़ी टोल गेट के फास्टैग वाले लाइन पर पहुंचेगी तो टोल गेट के ऊपर लगी मशीन गाड़ी में लगे कार्ड (सेंसर) को रीड करेगी। इसके बाद ऑटोमेटिक गेट खुल जाएगा और गाड़ी अंदर प्रवेश करेगी।

ऑनलाइन कटेगी टोल राशि
टोल गेट पर फास्टैग लगी गाड़ी जैसे ही टोल बूथ पर जाकर रुकेगी तो वहां कार्ड के जरिए संबधित चौपहिया वाहन चालक के खाते से ऑनलाइन राशि कट जाएगी। वाहन चालक को इस कार्ड को रिचार्ज भी कराना होगा। यह एक तरह से मोबाइल पर लगने वाली सिम की तरह होगा।

मिलेगी 5 प्रतिशत छूट
भारत सरकार ने वाहन चालकों को टोल का कैशबेक करने पर 5 प्रतिशत की छूट दी है। इसमे चाहन चालक का टोल कटने के बाद 5 प्रतिशत राशि चालक के खाते में स्वत:जमा हो जाएगी।

समय व प्रदूषण की होगी बचत
सरकार का चौपहिया वाहन चालकों की गाड़ी में फास्टैग लगाने का मकसद एक तरह से देश के सभी टोल को डिजिटिलाइजेशन करना। इससे सभी टोल हाईटेक होंगे। साथ ही उक्त सुविधा से वाहन चालकों की समय की बचत होगी।

...तो परिवहन विभाग नहीं करेगा जारी
बैंक डीलर भवानी सिंह ने बताया कि भारत सरकार की मंशा अनुरूप दिसम्बर 2019 तक भारत के सभी टोल फास्टैग करना। जिसमें आमजन को लाइनों की कतार से मुक्ति मिल सके। कार्मिशयल वाहनों में परिवहन विभाग फिटनेट जारी नहीं करेगा जब तक उसमें फास्टैग लगा हुआ नहीं होगा।

जिला परिवहन अधिकारी धर्मपाल आसी नए चौपहिया वाहन में फास्टैग वाहन निर्माता कंपनी लगाकर दे रही है। वहीं पुराने वाहन चालकों को बैंक के एजेंट के माध्यम से यह लगाना होगा। कार्मिशयल वाहनों में जब तक फास्टैग लगा हुआ नहीं होगा विभाग उसको फिटनेस जारी नहीं करेगा। इस संबध में सरकार ने निर्देश जारी कर दिए हैं।



Nagesh Sharma Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned