1 अगस्त से बड़ा बदलाव: वेतन, पेंशन और EMI के लिए लागू होंगे नए नियम, आप पर पड़ेगा सीधा असर

एक अगस्त से EMI, सैलरी, पेंशन से जुड़े नियमों में बड़ा बदलाव हो रहा है। इस बदलाव का सीधा असर आप पर पड़ने वाला है।

By: Shaitan Prajapat

Updated: 25 Jul 2021, 01:11 PM IST

नई दिल्ली। जुलाई खत्म होने वाला है और अगस्त का महीना शुरू होने वाला है। एक अगस्त से EMI, सैलरी, पेंशन से जुड़े नियमों में बड़ा बदलाव हो रहा है। इस बदलाव का सीधा असर आप पर पड़ने वाला है। किसी से पूछा जाए सैलरी कब मिलेगी तो इसके जवाब में नौकरी पेशा व्यक्ति कहेगा, जब बैंक खुलेंगे तब पैसा अकाउंट में क्रेडिट होगा। सबसे खास बात यह है कि महीने की शुरुआत ही छुट्टी के दिन से हो रही है। ऐसे सैलरी के के लिए लम्बा इंतजार करना पड़ता है। नए नियमों के अनुसार, अब महीने की पहली तारीख को यह सुविधा मिलेगी।

यह भी पढ़ें :— लगातार आठवें दिन पेट्रोल-डीजल में राहत, जानिए आपके शहर में कितनी है कीमत

सभी दिन NACH की सुविधा
रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की घोषणा के अनुसार, 1 अगस्त से सैलरी, पेंशन और EMI का भुगतान 24 घंटे कभी भी किया जा सकेगा। इसी वर्ष जून में रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकान्त दास ने द्विमासिक मौद्रिक नीति की समीक्षा के दौरान कहा था कि नेशनल ऑटोमेटेड क्लियरिंग हाउस (NACH) की सुविधा अब सप्ताह के सभी दिन उपलब्ध रहेगी। अभी यह सुविधा बैंकों के कार्यदिवसों के दिन ही उपलब्ध होती है। लेकिन अब कभी भी किया जा सकेगा। एक अगस्त से ग्राहकों को सप्ताह के सातों दिन चौबीसों घंटे यह सुविधा उपलब्ध रहेगी।

Read More: एलआईसी के इस प्लान में एकमुश्त करें निवेश, आजीवन मिलेगा एक लाख रुपये सालाना

 

जानिए क्या होती NACH सुविधाएं
यह एक ऐसी बैंकिंग सर्विस है जिसके जरिए कंपनियां और आम आदमी पेमेंट प्रक्रिया आसानी से पूरी कर लेते हैं। NACH के जरिए सैलरी पेमेंट, पेंशन ट्रांसफर, इलेक्ट्रिक बिल, पानी का बिल का पेमेंट इसी के जरिए होता है।

Read More: छोटी बचत बड़ा फायदा, 160 रुपये की बचत पर मिलेंगे 23 लाख रुपये, टैक्स छूट के साथ कई सारे फायदे

अब बैंक हॉलिडे पर भी मिलेगी सैलेरी
एक अगस्त, 2021 से रविवार या कोई दूसरा बैंक हॉलिडे होने पर भी सैलरी, पेंशन, डिविडेंड और इंटरेस्ट का पेमेंट नहीं रुकेगा। अब तय तारीख पर ही सैलरी और पेंशन का भुगतान होगा। नए नियमों के अनुसार, एक अगस्त से एनएसीएच की सुविधा 7 दिन 24 घंटे मिलने से कंपनियां सैलरी कभी भी ट्रांसफर कर सकेंगी।

rbi
Shaitan Prajapat
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned