राहुल गांधी को राखी बांधती हैं यह विधायक, बड़े राजनीतिक घराने में होने जा रही है शादी

विधायक ने अपने अफेयर की बातों को खारिज किया और शादी बाद (Aditi Singh Congress) भी अपने (MLA Aditi Singh) निर्वाचन क्षेत्र (Indira Gandhi) रायबरेली (Rae Bareli) से (Aditi Singh Marriage) जुड़े (Raebareli Congress MLA Aditi Singh Marriage) रहने (Nawanshahr MLA Angad Singh) की बात कही...

(चंडीगढ़): उत्तर प्रदेश में गांधी परिवार की पारंपरिक सीट रायबरेली से कांग्रेस विधायक अदिति सिंह तथा पंजाब के नवांशहर से कांग्रेस विधायक अंगद सिंह सैनी कल परिणय सूत्र में बंधने जा रहे हैं। अंगद सिंह पंजाब विधानसभा के युवा विधायकों में से एक हैं और अदिति सिंह उत्तर प्रदेश विधानसभा की युवा सदस्या हैं।


राहुल गांधी के साथ जोड़ा गया था नाम...

गांधी परिवार से नजदीकियों के चलते कभी सुर्खियों में रही अदिति सिंह अब पंजाब की बहू बनने जा रही हैं। अदिति सिंह उस समय चर्चा में आई थीं, जब राहुल गांधी के साथ उनकी शादी की खबरें फैली थीं। जिसके बाद अदिति सिंह ने खंडन किया और राहुल गांधी को अपना भाई बताया। साथ ही यह भी कहा था कि, राहुल उनके भाई जैसे हैं, वो उन्हें राखी बांधती हैं।

 

यह भी पढ़ें: Video: सब सोते रहे, कमरे में सैर करता रहा तेंदुआ, लोगों ने यूं बचाई जान

 

Raebareli Congress MLA  <a href=Aditi Singh Marriage,Nawanshahr MLA Angad Singh" src="https://new-img.patrika.com/upload/2019/11/19/wedding_5389073-m.png">
नवांशहर के विधायक अंगद सिंह व रायबरेली की विधायक अदिति IMAGE CREDIT:

विधायक अंगद सिंह का परिवार राजनीति से लंबे समय से जुड़ा रहा है। अंगद के पिता प्रकाश सिंह के अंकल दिलबाग सिंह वर्ष 1962 में पहली बार नवांशहर के विधायक बने थे। वे लगातार छह बार नवांशहर के विधायक रहे। उनके बाद वर्ष 1997 में दिलबाग सिंह के बेटे चरणजीत सिंह विधायक बने। वर्ष 2002 में अंगद के पिता प्रकाश सिंह नवांशहर से चुनाव जीतकर विधानसभा पहुंचे। 2012 में अंगद सिंह की माता गुरइकबाल कौर ने कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ा और जीत दर्ज की। अब अंगद सिंह नवांशहर का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं।

 

यह भी पढ़ें: कमांडो हुआ चोरी का शिकार, खतरनाक हथियार गायब, कांड ना कर दे चोर

 

उधर अदिति सिंह भी राजनीतिक परिवार से हैं। उनके पिता अखिलेश सिंह युवा कांगे्रस के समय में पंजाब में रहे और यहीं पर उनकी मित्रता प्रकाश सिंह के साथ हुई। दोनों की सगाई पिछले साल दिसंबर में हुई थी। इस बीच शादी भी तय हो गई लेकिन करीब तीन माह पहले अखिलेश सिंह का निधन हो गया। जिसके चलते यह शादी बेहद सादगी के साथ हो रही है। जिसमें दोनों परिवारों के केवल रिश्तेदार ही शामिल होंगे।


शादी के बाद अपने-अपने कार्यक्षेत्र में करेंगे काम...

उत्तर प्रदेश के रायबरेली में दामाद बनने जा रहे पंजाब के विधायक अंगद सिंह कहते हैं कि यह शादी दोनों परिवारों की आपसी सहमति के साथ हुई है। उन्होंने कहा कि उनका कार्यक्षेत्र पंजाब है और अदिति का रायबरेली है। दोनों की अपने-अपने क्षेत्र के लोगों के प्रति जवाबदेही है। ऐसे में शादी के बाद भी वह पंजाब की राजनीति करेंगे और अदिति उत्तर प्रदेश की राजनीति करती रहेंगी।

 

यह भी पढ़ें: Video: चुनावी पर्चा भरने पहुंचा हार्डकोर नक्सली, इस वजह से उठाए थे हथियार, सैकड़ों केस हैं दर्ज

 

अदिति ने अमेरिका से की है पढ़ाई...

अदिति सिंह ने अमेरिका के ड्यूक यूनिवर्सिटी से मैनेजमेंट की पढ़ाई की है। जबकि इंटरमीडिएट तक की पढ़ाई दिल्ली से की थी। इसके बाद आगे की पढ़ाई के लिए अदिति अमेरिका चली गई थीं। अदिति उत्तर प्रदेश में सबसे युवा विधायकों में से एक हैं। पिछले दिनों वह कांग्रेस से बागी तेवर के कारण चर्चा में थीं। अदिति पर एक हमले के बाद उन्हें वाई प्लस श्रेणी की सुरक्षा प्रदान की गई है।

पंजाब की ताजा ख़बरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

यह भी पढ़ें: गांवों से होगी शराब की विदाई, नहीं खुलेंगे ठेके, सरकार का बड़ा नशारोधी कदम

Show More
Prateek Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned