scriptthose who break traffic rules can not excuse to avoid challan | ट्रैफिक रूल्स तोड़ने वालों की खैर नहीं, चालान से बचने का नहीं रहेगा कोई बहाना | Patrika News

ट्रैफिक रूल्स तोड़ने वालों की खैर नहीं, चालान से बचने का नहीं रहेगा कोई बहाना

-यातायात नियम तोड़ने वालों की खैर नहीं
-अब पुलिस लेगी स्मार्ट एक्शन
-पुलिस महकमा हुआ अपग्रेड
-भ्रष्टाचार पर भी लगेगी लगाम

छतरपुर

Published: May 29, 2022 06:36:24 pm

छतरपुर. पुलिस महकमे को अपग्रेड करने और भ्रष्टाचार पर लगाम लगाने के लिए शासन ने चालानी कारर्वाई में इस्तेमाल होने वाली रसीद बुक प्रणाली को बंद करने फैसला लिया है। अब यातायात नियमों का उल्लंघन करने पर पुलिस स्मार्ट एक्शन लेगी और वाहन चालक पैसे न होने का बहाना बनाकर बच नहीं पाएंगे। क्योंकि पीओएस (पाइंट ऑफ सेल) मशीन से होने वाली कार्रवाई में नगदी के साथ-साथ डेबिट कार्ड से भी भुगतान किए जाने की व्यवस्था की गई है।

रविवार को वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशन और मार्गदर्शन में यातायात पुलिस ने शहर के छत्रसाल चौराहे और आकाशवाणी तिराहे पर पीओएस मशीन के माध्यम से आधुनिक वाहन चैकिंग लगाई। पीओएस मशीन से हो रही कारर्वाई के दौरान नियमों का पालन न करने वाले वाहन चालकों के ई-चालान काटे गए। साथ ही, वाहन चालकों को आधुनिक चैकिंग प्रणाली से अवगत कराकर नियमों का पालन करने की समझाइश दी गई।

News
ट्रैफिक रूल्स तोड़ने वालों की खैर नहीं, चालान से बचने का नहीं रहेगा कोई बहाना

नई तकनीक से की जा रही चैकिंग में वाहन पर नंबर प्लेट न होने, चालक द्वारा हेलमेट न पहने जाने, लायसेंस न होने और दो पहिया वाहन पर दो से अधिक सवारी बैठाने वालों सहित अन्य नियमों का उल्लंघन करने वाले वाहन चालकों को रोका गया। चैकिंग कर रही टीम ने वाहन चालक और वाहन की फोटो लेकर पीओएस मशीन में अपलोड की जिससे वाहन का ब्यौरा मशीन पर खुल गया। वाहन की जानकारी के साथ तोड़े गए नियम की जानकारी फीड कर चालाकों के चालान बनाए गए।

यह भी पढ़ें- जब उल्टी बहने लगी नर्मदा नदी, लोग बोले- माता का चमत्कार है ये


पीओएस मशीन से इस तरह होती है कारर्वाई

यातायात थाने के एएसआई घनश्यामदास ने बताया कि, अभी तक हस्तलिखित चालान काटकर वाहन चालकों से पैसे वसूल किए जाते थे, लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। भोपाल से मिली पीओएस मशीनों के माध्यम से होने वाली कार्रवाई में वाहन चालक को ऑनलाइन भुगतान की रसीद दी जाएगी। वाहन चालक स्वयं भी एटीएम के माध्यम से भुगतान कर सकते हैं। अगर चालक के पास एटीएम और कैश दोनों नहीं हैं तो चालान उसके घर भेजे जाने का प्रावधान भी है, जिसका सात दिन में भुगतान करना होगा। उनका कहना है कि, पीओएस मशीन शुरू करने से कार्य के दबाव में कमी आएगी। यातायात प्रबंधन में लगे बल की कार्यदक्षता भी बढ़ेगी। साथ ही चैकिंग करने वाले पुलिसकर्मियों की अनावश्यक शिकवा-शिकायतें भी खत्म होंगी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

शख्स के मोबाइल पर गर्लफ्रेंड ने भेजा संदिग्ध मैसेज, 6 घंटे लेट हुई इंडिगो की फ्लाइट, जाने क्या है पूरा मामलासिर्फ 'हर घर' ही नहीं, 'स्पेस' में भी लहराया 'तिरंगा', एस्ट्रोनॉट राजा चारी ने अंतरिक्ष स्टेशन पर लहराते झंडे की शेयर की तस्वीरबिहार : नीतीश कुमार का बड़ा ऐलान, 20 लाख युवाओं को देंगे नौकरी और रोजगारIndependence Day 2022 : अगले 25 सालों का क्या है प्लान, पीएम मोदी के भाषण की 10 बड़ी बातेंस्वतंत्रता दिवस के मौके पर लेह पहुंचे मनोज तिवारी और निरहुआ, जवानों को परोसा खानाIndependence Day 2022: लाल किले पर बना नया रिकार्ड, पहली बार मेड इन इंडिया तोप ने दी सलामी, जानें इसके बारे मेंHar Ghar Trianga Campaign में 30 करोड़ से ज्यादा के झंडे बिके, CAIT ने बताया इतने करोड़ का हुआ कारोबारIndependence Day 2022: मोहन भागवत ने RSS मुख्यालय में फहराया तिरंगा, बोले-देश को क्या दे रहे हैं यह सोचकर जीने की जरूरत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.