scriptThis work has to be done before filing income tax return | इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने से पहले करना होगा ये काम, नहीं तो मिलेगा नोटिस | Patrika News

इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने से पहले करना होगा ये काम, नहीं तो मिलेगा नोटिस

नए सिस्टम से करतादातों के शेयर म्युचुअल फंड, डिविडेंड, बैंक एफडी बचत खाता से मिलने वाला ब्याज, पोस्ट ऑफिस आदि से होने वाली आय एचआरए संपत्ति, वाहन खरीदने की जानकारी, विदेश यात्रा, क्रेडिट कार्ड से भुगतान आदि सहित 50 प्रकार के ब्यौरे मौजूद रहेंगे।

छिंदवाड़ा

Published: December 08, 2021 04:45:03 pm

छिंदवाड़ा. अब करदाता आयकर विभाग से अपनी आय और व्यय नहीं छिपा सकेंगे। आयकर विभाग ने एआइएस (एनुअल इनफॉर्मेशन स्टेटमेंट) और टीआइएस (टैक्स इंफार्मेशन स्टेटमेंट) की सुविधा जारी कर दी है। इस स्टेटमेंट के जरिए विभाग को 50 प्रकार के लेनदेन की जानकारी मिलेगी। इसकी घोषणा पिछले बजट में की गई थी।

Income Tex
Income Tex

जिसे अब लागू कर दिया गया है। करदाता को अपनी आयकर विवरणी दाखिल करने के पहले एआइएस और टीआइएस से मिलान करना जरूरी होगा। यदि वे बिना मिलान किए ही रिटर्न दाखिल करते हैं और उनके रिटर्न में चूक रह जाती है तो आयकर विभाग के नोटिस और लिटिगेशन की परेशानी से रू-ब-रू होना पड़ेगा।

ऐसे करें आय-व्यय की जांच
-करदाता को आयकर विभाग के पोर्टल पर अपने पासवर्ड से लॉगइन करना होगा।

-पोर्टल पर सर्विस हेड विकल्प में जाकर एआइएस को क्लिक करना होगा। इसके बाद यहां अलग से बनाया गया प्रोजेक्ट इंसाइट पोर्टल खुलेगा। इसमें एआइएस और टीआइएस के साथ करदाता का समस्त आय और व्यय का ब्यौरा देखा जा सकता है।

प्रतिदिन भेजा जाता है ब्यौरा

बैंक, रजिस्ट्रार कार्यालय और शेयर मार्केट का ब्यौरा रोजाना आयकर विभाग को भेजा जाता है। ऑनलाइन ट्रांसफर या सामान खरीद में लगने वाली रकम का ब्यौरा भी ग्राहक के आधार व पेन कार्ड से जुड़ जाता है। आयकर विभाग आधार और पेनकार्ड का डाटा बनाता है। इसके जरिए करदाताओं के आय-व्यय का पूरा हिसाब-किताब विभाग के पास मौजूद रहता है। पूर्व में इसे रिटर्न दाखिल करते समय करदाताओं के आय-व्यय का हिसाब ऑनलाइन उपलब्ध नहीं था, पर अब इसे लागू कर दिया गया है। रिटर्न दाखिल करने से पहले करदाता इसे चेक कर सकते हैं।

अब पीने का पानी भी होगा प्रायवेट, जितना खर्च करेंगे उतना आएगा बिल


नए सिस्टम में ये रहेगा मौजूद

नए सिस्टम से करतादातों के शेयर म्युचुअल फंड, डिविडेंड, बैंक एफडी बचत खाता से मिलने वाला ब्याज, पोस्ट ऑफिस आदि से होने वाली आय एचआरए संपत्ति, वाहन खरीदने की जानकारी, विदेश यात्रा, क्रेडिट कार्ड से भुगतान आदि सहित 50 प्रकार के ब्यौरे मौजूद रहेंगे।

अवैध निर्माण को वैध बनाने का दरवाजा खुला तो प्रदेश में सबसे आगे निकले इंदौरी

वित्तीय वर्ष 2020-21 के रिटर्न की आखिरी तारीख 31 दिसंबर 2021 है। हर करदाता के लिए एआइएस और टीआइएस प्रोजेक्ट इंसाइड पोर्टल पर मौजूद है। करदाता को अपनी आयकर विवरणी दाखिल करने से पहले इन दोनों से मिलान अवश्य करना चाहिए। पूर्व में फॉर्म 26 एएस करदाता का एक्सरे था तो एआइएस और टीआइएस करदाता के वित्तीय आय-व्यय ब्यौरे के सिटी स्कैन हैं।
-राजीव सिंह, सीए

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

देश में वैक्‍सीनेशन की रफ्तार हुई और तेज, आंकड़ा पहुंचा 160 करोड़ के पारपाकिस्तान के लाहौर में जोरदार बम धमाका, तीन की नौत, कई घायलजम्मू कश्मीर में सुरक्षाबलों को मिली बड़ी कामयाबी, लश्कर-ए-तैयबा का आतंकी जहांगीर नाइकू आया गिरफ्त मेंCovid-19 Update: दिल्ली में बीते 24 घंटे के भीतर आए कोरोना के 12306 नए मामले, संक्रमण दर पहुंचा 21.48%घर खरीदारों को बड़ा झटका, साल 2022 में 30% बढ़ेंगे मकान-फ्लैट के दाम, जानिए क्या है वजहचुनावी तैयारी में भाजपा: पीएम मोदी 25 को पेज समिति सदस्यों में भरेंगे जोशखाताधारकों के अधूरे पतों ने डाक विभाग को उलझायाकोरोना महामारी का कहर गुजरात में अब एक्टिव मरीज एक लाख के पार, कुल केस 1000000 से अधिक
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.