कॉलेजों में ख्रुलेगी वोटो की पेटियां, पता चलेगा किसकी बनेगी छात्र सरकार

कॉलेजों में ख्रुलेगी वोटो की पेटियां, पता चलेगा किसकी बनेगी छात्र सरकार

Nilesh Kumar Kathed | Publish: Sep, 10 2018 10:45:40 PM (IST) Chittorgarh, Rajasthan, India

छात्रसंघ चुनाव के 31 अगस्त को मतदान होने के बाद मंगलवार को मतगणना के बाद यह तस्वीर भी साफ हो जाएगी कि किस-किस कॉलेज में किसकी सरकार होगी।



चित्तौडग़ढ़. छात्रसंघ चुनाव के 31 अगस्त को मतदान होने के बाद मंगलवार को मतगणना के बाद यह तस्वीर भी साफ हो जाएगी कि किस-किस कॉलेज में किसकी सरकार होगी। कॉलेज व पुलिस प्रशासन ने भी सोमवार को तैयारियों अंतिम रूप दे दिया।मतगणना के दौरान कॉलेजों में शिक्षण कार्य नहीं होगा। जिले के कन्या महाविद्यालय व महाराणा प्रताप पीजी कॉलेज की मतपेटियों को सुबह १० बजे पुलिस जाब्ते के साथ कलेक्ट्रेट स्थित ट्रेजरी से ले जाएगा। मतगणा सुबह ११ बजे से शुरु हो जाएगी। जिसके परिणाम दोपहर तक आने की संभावना है। मतगणना से पहले सभी प्रत्याशियों को वैद्य व अवैद्य मतों के बारे मे ंजानकारी दी जाएगी। कन्या महाविद्यालय के कार्यवाहक प्राचार्य एलएल शर्मा व महाराणा प्रताप पीजी कॉलेज के मुख्य निर्वाचन अधिकारी राकेश भट्ड ने बताया कि सोमवार का ेमतगणना दलों को प्रशिक्षण दिया गया। मतगणा के दौरान प्रत्याशियों के अलावा किसी भी छात्र-छात्रा को कॉलेज में प्रवेश नहीं दिया जाएगा। महाराणा प्रताप पीजी कॉलेज में अध्यक्ष पद पर एबीवीपी की ओर से पहलवान सालवी, एनएसयूआई की ओर से कविश शर्मा मैदान में है वहीं कन्या महाविद्यालय में शीतल दुबे एनएसयूआइ व मोनिका कंवर भाटी एबीवीपी से प्रत्याशी मैदान में है।मतगणना के बाद विजेता प्रत्याशियों को शपथ दिलाई जाएगी
.....................
बंद रहेगा यातायात
यातायात व्यवस्था को लेकर भी पुलिस प्रशासन ने तैयारियां पूरी कर ली है। मतगणना के चलते सोमवार को पीजी व कन्या महाविद्यालय के सामने यातायात बंद रहेगा। पीजी कॉलेज से कलक्ट्रेट मार्ग की ओर प्रतापनगर चौराहा पर तथा सैंती मार्ग पर पीजी कॉलेज के बास्केटबॉल मैदान के गेट के पास बेरिकेट लगाए है। सोमवार सुबह से पीजी कॉलेज के सामने से वाहनों के प्रवेश पर पाबंदी रहेगी। उदयपुर मार्ग से आने-जाने वाले बड़े वाहनों का रूट प्रताप सर्किल, सैंती सब्जी मंडी प्रांगण से निम्बाहेड़ा मार्ग की ओर डायवर्ट किया है। ये वाहन रेलवे स्टेशन होते हुए सैंती की ओर आ-जा सकेंगे।
................
राजनीतिक दृष्टि से अहम माने जा रहे नतीजे
विधानसभा चुनाव से ढाई-तीन माह पहले छात्रसंघ चुनाव परिणाम को राजनीतिक दृष्टि से भी अहम माना जा रहा है। इन परिणामों को युवा मतदाताओं के रूझान के रूप में भी देखा जा रहा है। छात्रसंघ चुनाव में मुख्य टक्कर वाले दोनों प्रमुख छात्र संगठनों में से एनएसयूआई कांग्रेस तो विद्यार्थी परिषद भाजपा से जुड़ा हुआ है। इनकी हार-जीत को आमजन में इन दलों की हार जीत के रूप में भी देखा जाता है। चुनावी दृष्टि से अहम होने के कारण भाजपा व कांग्रेस के नेताओं ने भी छात्रसंघ चुनाव में समर्थित प्रत्याशियों को जीताने के लिए पूरा जोर लगा दिया।

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned