बने पर्यटन सर्किट, उद्योगों में मिले स्थानीय युवाओं को रोजगार

लोकसभा चुनाव को लेकर चित्तौडग़ढ़ संसदीय क्षेत्र का जनएजेंडा-२०१९ गुरूवार को समाज के विभिन्न वर्गो की राय से तैयार किया गया। चित्तौडग़ढ़ अरबन कोऑपरेटिव बैंक सभागार में पत्रिका की ओर से आयोजित जनएजेंडा बैठक में विभिन्न संगठनों के प्रतिनिधियों ने मुद्दों व समस्याओं पर चर्चा की।

By: Nilesh Kumar Kathed

Updated: 04 Apr 2019, 11:37 PM IST


चित्तौडग़ढ़. लोकसभा चुनाव को लेकर चित्तौडग़ढ़ संसदीय क्षेत्र का जनएजेंडा-२०१९ गुरूवार को समाज के विभिन्न वर्गो की राय से तैयार किया गया। चित्तौडग़ढ़ अरबन कोऑपरेटिव बैंक सभागार में पत्रिका की ओर से आयोजित जनएजेंडा बैठक में विभिन्न संगठनों के प्रतिनिधियों ने मुद्दों व समस्याओं पर चर्चा की। उन्होंने कहा कि हमे मतदान करने तक ही सीमिति नहीं रहकर निरन्तर सजग रहना होगा तभी जनप्रतिनिधियों से अधिक बेहतर कार्य करा पाएंगे। वक्ताओं ने जनप्रतिनिधियों की कार्यशैली पर आवाज उठाई और कहा कि जनप्रतिनिधि चुनने के लिए मतदाता मताधिकार का उपयोग विवेकपूर्ण तरीके से करें। चुनाव में मतदाता संकीर्ण स्वार्थ त्याग ऐसे प्रत्याशी का चयन करें जो किसी राजनीतिक दल से अधिक आमजन का हो एवं निरन्तर उसके लिए संघर्ष करने की भावना रखता हो। सभी वक्ताओं से मिले सुझावों के आधार पर चित्तौडग़ढ़ संसदीय क्षेत्र का जनएजेंडा तैयार किया गया। मतदाता जागरूकता की शपथ बैंक के संस्थापक अध्यक्ष इन्द्रमल सेठिया ने दिलाई।
राजस्थान पत्रिका के जागो जनमत अभियान के तहत हुई बैठक में इस बात पर विशेष मंथन हुआ कि लोकसभा चुनाव में क्षेत्र के विकास से जुड़े क्या मुद्दें उठाए जाने चाहिए एवं किस तरह क्षेत्र की समस्याओं के समाधान की राह तलाशी जा सकती है। चर्चा में चित्तौडग़ढ़ में पर्यटन विकास, उद्योगों में स्थानीय लोगों को अधिक रोजगार, सैन्य अकादमी स्थापित करने, स्पाोटर्स कॉम्पलेक्स खोलने जैसे मुद्दें भी प्रमुखता से उठे। बैठक में ये भी बात हुई कि जनता के मुद्दों के प्रति राजनीतिक दल एवं उनके प्रत्याशी कितने गंभीर है एवं किस तरह जनमुद्दों पर उनका ध्यान केन्द्रित किया जा सकता है। महिला सुरक्षा एवं समग्र विकास भी बड़ा मुद्दा बनकर उभरे। बैठक में विभिन्न सामाजिक व स्वयंसेवी संगठन, राजनीतिक दल, छात्र व युवा संगठन, प्रोफेशनल संगठन, वरिष्ठ नागरिक संगठन आदि के प्रतिनिधि शामिल हुए एवं चुनाव में क्या एजेंडा होना चाहिए इस पर खुलकर अपनी राय जाहिर की। पत्रिका के जागो जनमत अभियान से जुड़े शिक्षाविद् डॉ. सुशीला लढ़ा, जल विशेषज्ञ भगवतसिंह तंवर ने जनएजेंडा तैयाार किया। लोक कलाकार नाथूलाल पूर्बिया ने गीत के माध्यम से वोट का महत्व बताया।
.....................
ये मुद्दें हुए एजेंडे में शामिल
- चित्तौडग़ढ़ में पर्यटक रात्रि में ठहरे एवं पर्यटन विस्तार हो इसके लिए चित्तौड़ दुर्ग को केन्द्र बना पर्यटन सर्किट स्थापित किया जाए। इसमें सांवलियाजी, मातृकुण्डिया, मेनाल, बस्सी अभयारण्य आदि भी शामिल हो।
- चित्तौडग़ढ़ संसदीय क्षेत्र में संचालित उद्योगों में स्थानीय युवाओं को रोजगार में प्राथमिकता मिले। नए खुलने वाले उद्योगों में पहले से तय हो कि कितने स्थानीय लोगों को किस तरह का रोजगार मिलेगा।
- उद्योगों की समस्याओं का समाधान हो। सांसद उनको सुरक्षा व संरक्षण दे ताकि नए उद्योग यहां आने के लिए प्रोत्साहित हो।
- चित्तौडग़ढ़ में करीब छह दशक से संचालित सैनिक स्कूल में स्थानीय प्रतिभाओं को अवसर मिल सके इसके लिए कुछ स्थान जिले के लिए आरक्षित होने चाहिए।
- वीर भूमि चित्तौड़ में सैन्य अकादमी स्थापित की जानी चाहिए ताकि यहां से अधिक सैन्य अधिकारी मिल सके।
- राजनीतिक दलों के एजेंडे में बच्चों को स्थान मिले। मतदाता नहीं होने से उनकी समस्याओं पर ध्यान नहीं दिया जाता। हर कार्यस्थल पर बच्चों के लिए सुविधाएं उपलब्ध रहे।
- बच्चों की बेहतर देखभाल के लिए मातृत्व अवकाश बढ़ाया जाए एवं पति को भी कुछ समय के लिए पितृत्व अवकाश मिलना चाहिए।
- चित्तौड़ दुर्ग पर गाइड सुविधा बढ़ाने के साथ स्वयंसेवक भी तैनात किए जाए जो पर्यटकों को सही इतिहास से अवगत करा सके।
- रेलवे स्टेशन पर यात्री सुविधाओं का विस्तार हो एवं पूर्वी प्रवेशद्धार भी खोला जाए।
- कला के संरक्षण एवं कलाकारों को प्रोत्साहन के लिए चित्तौडग़ढ़ जिले में जवाहर कला केन्द्र जैसे केन्द्र की स्थापना की जाए।
- गांवों में लोगों का ठहराव रहे इसके लिए कुटीर उद्योगों को प्रोत्साहन दिया जाए।
- मतदान अनिवार्य हो एवं महिला जागरूकता बढ़ाने के साथ उनके लिए जनप्रतिनिधि चुनाव में ३३ प्रतिशत आरक्षण हो।
- खेल प्रतिभाओं को आगे बढ़ाने के लिए स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स स्थापित किया जाए।
- महिला सुरक्षा पर ध्यान दिया जाए एवं ऐसा वातावरण बने कि महिलाएं बिना किसी भय के स्वर्ण आभूषण पहन कर घूम सके।
- चित्तौडग़ढ़ में मेडिकल कॉलेज की स्थापना की जाए एवं सुपर स्पेशलिस्ट चिकित्सा सेवाएं मिले।
- राजस्थान का प्रमुख प्रमुख केन्द्र होने से चित्तौडग़ढ़ में हवाई अड्डा खोला जाए।
- चित्तौडग़ढ़ में पारम्परिक लोक संस्कृति, लोक नृत्य व कलाओं को बचाने के लिए कला कॉलेज खोला जाए।
- चित्तौडग़ढ़ रेलवे स्टेशन पर प्रतिदिन शिशुओं के साथ सैकड़ो माताएं आती है। ऐसी माताओं के लिए स्टेशन पर स्तनपान केन्द्र भी स्थापित हो।
- बुर्जुगों की देखभाल के लिए चित्तौडग़ढ़ जिले में वृद्धाश्रम की स्थापना की जानी चाहिए।
- चित्तौडग़ढ़ में कृषि विश्वविद्यालय की स्थापना हो एवं जैविक खेती को बढ़ावा दिया जाए।
- चित्तौड़ क्षेत्र के युवाओं को रोजगार के लिए नए उद्योगों की स्थापना हो। औद्योगिक निवेश आए ऐसी नीतियां तैयार हो।
- गुटखा तंबाकू उत्पादों की बिक्री पर पूरी तरह नियंंत्रण किया जाए।
- कॉलेजों का मॉॅस्टर प्लान तैयार किया जाए एवं युवाओं की आवश्यकता के अनुरूप कोर्स शुरू किए जाए।
- चित्तौड़ की पहचान महाराणा प्रताप से है। ऐसे में महाराणा प्रताप के नाम से बड़ा स्मारक बनाया जाए एवं केन्द्र स्थापित किया जाए।
- राजमार्गो पर निरन्तर दुर्घटनाएं बढ़ रही है। ऐसे में चित्तौडग़ढ़ में ट्रोमा हॉस्पिटल खोला जाए।
- चित्तौडग़ढ़ में एसीबी कोर्ट की स्थापना की जाए।
- केन्द्र एवं राज्य में सत्ता परिवर्तन होने पर भी जनहितकारी नीतियों में बदलाव नहीं किया जाना चाहिए।
...................
इनकी रही सहभागिता
चित्तौडग़ढ़ अरबन कोऑपरेटिव बैंक के संस्थापक अध्यक्ष, इन्द्रमल सेठिया, बाल कल्याण समिति अध्यक्ष डॉ. सुशीला लढ़ा, भारत विकास परिषद चित्तौडग़ढ़ शाखा के अध्यक्ष दिनेश खत्री, चित्तौडग़ढ़ अरबन कोऑपरेटिव बैंक की प्रबन्ध निदेशक वंदना वजीरानी, जल संसाधन विभाग के पूर्व मुख्य अभियन्ता डॉ. भगवतसिंह तंवर, वरिष्ठ नागरिक मंच गांधीनगर शाखा के अध्यक्ष राघेश्याम आमेरिया, महाराणा प्रताप राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय छात्रसंघ अध्यक्ष पहलवान सालवी, राजकीय कन्या महाविद्यालय छात्रसंघ अध्यक्ष मोनिकाकंवर भाटी, शिक्षाविद् बंशीधर कुमावत, भाजपा जिला प्रवक्ता सुधीर जैन, कांग्रेस जिला प्रवक्ता अहसान पठान, सामाजिक कार्यकर्ता रश्मि सक्सेना, भारत विकास परिषद की प्रान्तीय महिला प्रमुख शशि सनाढ्य, सीए चित्तौडग़ढ़ ब्रांच के कोषाध्यक्ष वैभव सोमानी, सीए अर्पित पोखरना, बैंक प्रबंधक जेपी जोशी, जनचेतना मंच के प्रान्तीय कार्यालय मंत्री नंदकिशोर पारीक, अधिवक्ता पंडित अरविन्द भट्ट, लोक कलाकार नाथूलाल पूर्बिया, गृहिणी जयश्री शर्मा, सामाजिक कार्यकर्ता पुष्कर नराणिया, युवा जयंत सोनी।

 

 

Nilesh Kumar Kathed
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned