कहां भंडार से निकले तीन करोड़ 56 लाख रुपए की राशि

कहां भंडार से निकले तीन करोड़ 56 लाख रुपए की राशि

Nilesh Kumar Kathed | Publish: Sep, 09 2018 05:49:55 PM (IST) Chittorgarh, Rajasthan, India

मेवाड़ के कृष्णधाम मण्डफिया स्थित सांवलियाजी मंदिर में चतुर्दशी पर शनिवार को खोले गए भण्डार से तीन करोड़ 56 लाख 19 हजार, 100 रुपए प्राप्त हुए।

 

चित्तौडग़ढ़. मेवाड़ के कृष्णधाम मण्डफिया स्थित सांवलियाजी मंदिर में चतुर्दशी पर शनिवार को खोले गए भण्डार से तीन करोड़ 56 लाख 19 हजार, 100 रुपए प्राप्त हुए। वहीं तीन ग्राम सोना, दो किलो 969 ग्राम चांदी प्राप्त हुई। गिनती में सौ के नए नोट काफी मात्रा आए। छोटे नोटों की गिनती बाद में की जाएगी। यहां अमावस्या का मासिक मेला रविवार को आयोजित किया गया। मासिक मेले में चित्तौडग़ढ़ जिले सहित आसपास के विभिन्न जिलों से बड़ी संख्या में श्रद्धालु शामिल हुए। सांवलिया सेठ के दर्शनों के लिए श्रद्धालुओं की भीड़ रही। श्रद्धालुओं की भीड़ उमडने से मंदिर क्षेत्र मे मेले जैसे माहौल रहा। दिनभर रिमझिम बारिश का दौर भी चलता रहा। इससे पूर्व शनिवार को सांवलियाजी मंदिर में भगवान की राजभोग आरती के बाद 11.45 बजे भण्डार खोला गया। इस दौरान मंदिर मंडल के मुख्य प्रशासनिक अधिकारी एवं एडीएम दीपेन्द्रसिंह राठौड, मंदिर मंडल के अध्यक्ष सत्यनारायण शर्मा, मंदिर मंडल के सदस्य भैरूलाल सोनी, भैरूलाल जाट, भैरूलाल गाडरी, उपखण्ड अधिकारी मांगीलाल रेगर, प्रशासनिक अधिकारी भगवानलाल चतुर्वेदी, रोकडिय़ा नंदकिषोर टेलर सहित कई बैंककर्मी मौजूद थे। मंदिर में नोटों की गिनती के दौरान सुरक्षा के भी विशेष इंतजाम रहे। भेंट कक्ष से पिछले माह 29 लाख 90 हजार 58 0 रुपए चढावे के रूप में प्राप्त हुए। गत वर्ष इसी अमावस्या की चतुर्दशी पर 3 करोड़ 8 3 लाख 32 हजार रुपए की राशि प्राप्त हुई। सांवलियाजी मंदिर में पिछले तीन दिनों से श्रद्धालुओं की भीड़ है। सांवलियाजी दर्शनों के लिए आने वालों में समाज के हर वर्ग के लोग शामिल है। वहीं अनगढ बावजी तीर्थ स्थल पर खोले गए भण्डार से 2 लाख 9 हजार 704 रुपए प्राप्त हुए।

गौरतलब है कि सांवलियाजी मंदिर के 25 जून को स्वर्ण कलश व ध्वजादंड स्थापना समारोह के बाद मंदिर में आने वाले श्रद्धालुओं की संख्या बढ़ गई है। पिछले एक माह में यहां मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट, पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत सहित कई जनप्रतिनिधि व समाज के विभिन्न वर्गों के विशिष्ट लोग यहां दर्शनों के लिए पहुंच चुके है। मंदिर मंडल ने यहां जलझुलनी एकादशी के तीन दिवसीय मेले की तैयारियां भी शुरू कर दी है।

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned