किस लिए एक ही परिवार के छह लोगों सहित सात लोग झुलस गए

किस लिए एक ही परिवार के छह लोगों सहित सात लोग झुलस गए

Nilesh Kumar Kathed | Publish: Sep, 08 2018 10:32:13 PM (IST) Chittorgarh, Rajasthan, India

चित्तौडग़ढ. जिले में भदेसर उपखण्ड के पीपलवास गांव में शनिवार शाम को खाना बनाते समय आग पकडऩे के बाद गैस सिलेण्डर फटने से एक ही परिवार के छह सदस्यों सहित सात लोग नब्बे फीसदी से ज्यादा झुलस गए।


चित्तौडग़ढ. जिले में भदेसर उपखण्ड के पीपलवास गांव में शनिवार शाम को खाना बनाते समय आग पकडऩे के बाद गैस सिलेण्डर फटने से एक ही परिवार के छह सदस्यों सहित सात लोग नब्बे फीसदी से ज्यादा झुलस गए। सभी को प्राथमिक उपचार के बाद उदयपुर रैफर कर दिया।पीपलवास गांव की खटीक बस्ती के पास रहने वाले देवजी माली की ४५ वर्षीय पत्नी बरजी शाम को करीब साढे छह बजे गैस चूल्हे पर खाना बना रही थी, इसी दौरान पहले गैस की नली में आग लगी, देखते ही देखते सिलेण्डर ने भी आग पकड ली। सिलेण्डर के पास आग पहुंचते ही हुए विस्फोट से पूरे मकान में आग फैल गई। इससे बरजी बाई सहित, उसका पुत्र नारायण (१६), पुत्र माधोलाल की २८ वर्षीय पत्नी चांदी, काजल (५) पुत्री माधोलाल, कन्हैयालाल (२) पुत्र माधेलाल, कृष्णा (६) पुत्री माधोलाल बुरी तरह झुलस गए। परिवार के झुलसे सदस्यों की चिल्लाहट सुनकर पड़ोसी नन्दराम (४०) पुत्र चुन्नीलाल बचाने के लिए दौड़ा, लेकिन आग की लपटें इतनी तेज थी कि वह भी नब्बे फीसदी झुसल गया। मौके पर अफरा-तफरी मच गई। इधर जानकारी मिलते ही ग्रामीण आग बुझाने के लिए घटना स्थल की तरफ दौड़ पड़े। घटना के बाद पूरे गांव में अफरातफरी मच गई एवं लोग बचाव कार्य में लग गए। आग से घर में रखा सामान खाक हो गया। झुलसे लोगों को युवा मोर्चा मण्डल अध्यक्ष कैलाशचन्द्र जाट व ग्रामीणों की मदद से जिला मुख्यालय स्थित सांवलियाजी राजकीय सामान्य चिकित्सालय पहुंचाया गया, जहां प्राथमिक उपचार के बाद सभी को गंभीरावस्था में उदयपुर चिकित्सालय के लिए रैफर कर दिया। लोग हादसे में झुलसे लोगों की स्थिति को लेकर चिन्तीत भी नजर आए।
रोटी भी नहीं खा सके बच्चे
बरजी खाना बना रही थी और बच्चे कृष्णा, काजल आदि रोटी के इंतजार में मकान के चौक में बैठे हुए थे। यह सब घटनाक्रम इतना जल्दी हुआ कि परिवार के किसी भी सदस्य को संभलने तक का मौका नहीं मिल पाया।

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned