अश्विन ने बीच में ही छोड़ा आईपीएल, कोविड-19 की चपेट में आया परिवार

दिल्ली कैपिटल्स की ओर से खेल रहे रविचंद्रन अश्विन आईपीएल 2021 बीच में ही छोडकऱ अपने घर लौट गए हैं। दरअसल, उनका परिवार कोविड-19 की चपेट में आ गया है.....

 

By: भूप सिंह

Published: 26 Apr 2021, 02:51 PM IST

 

नई दिल्ली। भारत के ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) इस सीजन में ऋषभ पंत (Rishbha Pant) की कप्तानी में दिल्ली कैपिटल्स (Delhi Capitals) के लिए खेल रहे हैं। अश्विन ने व्यक्तिगत कारणों से आईपीएल सीजन 2021 (IPL 2021) को बीच में छोडकऱ घर लौटने का फैसला किया है। दरअसल, उनका परिवार कोविड-19 महामारी की चपेट में आ गया है और इसलिए उन्होंने आईपीएल को बीच में ही छोडऩे का फैसला किया है। वह सकंट के दौरे में अपने परिवार के साथ रहकर उनकी हर संभव मदद करना चाहते हैं। अश्विन के इस फैसला का दिल्ली कैपिटल्स की फ्रेंचाइजी ने भी दिल से स्वागत किया है।

यह भी देखें :IPL 2021 Purple cap: पर्पल कैप पर हर्षल पटेल का कब्जा, जानिए टॉप 5 में कौन-कौन हुए शामिल

अश्विन ने ट्वीट किया, मैं इस साल के आईपीएल में कल से एक ब्रेक ले रहा हूं। मेरा परिवार और विस्तारित परिवार कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे हैं और मैं इन कठिन समय के दौरान उनका समर्थन करना चाहता हूं। उनके साथ रहना चाहता हूं। उन्होंने कहा कि अगर चीजें सही दिशा में जाती हैं तो वह वापसी की उम्मीद करेंगे।

उन्होंने ट्वीट में कहा, अगर चीजें सही दिशा में जाती हैं तो मैं वापसी की उम्मीद करता हूं। धन्यवाद दिल्ली कैपिटल्स। 34 वर्षीय ने पांच मैच खेले हैं और 147 के औसत से इस सीजन में एक विकेट लिया है। उनका इकॉनोमी रेट 7.73 है। पिछले आईपीएल के दौरान, उन्होंने 15 मैचों में 13 विकेट लिए थे।

यह भी देखें :IPL 2021 Points Table: RR को 10 विकेट से हराकर नंबर-1 पर पहुंची कोहली की टीम RCB

टीम इंडिया के हैं स्टार स्पिनर
रविचंद्रन अश्विन टीम इंडिया के स्टार स्पिनर हैं। उन्होंने कई कीर्तिमान अपने नाम किए है। वह भारत के लिए वनडे, टी20 और टेस्ट मैच तीनों की फॉर्मेट में खेलते हैं। वह कई रिकॉड्स को तोडकऱ आज इस ऊंचाई पर पहुंचे हैं। कई बार उन्होंने अपनी बल्लेबाजी से भी टीम इंडिया को जीत दिलाई है।

भूप सिंह
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned