BCCI ने लिया बड़ा फैसला: 2025 में चैंपियनशिप ट्रॉफी की मेजबानी के लिए बोर्ड लगाएगा बोली

वर्ष 2024 से 2032 के बीच खेले जाने तीन ग्लोबल टूर्नामेंट की मेजबानी पर दावा पेश करने के लिए बीसीसीआई बड़ा दांव लगाने की तैयारी कर रहा है।

By: Mahendra Yadav

Updated: 22 Jun 2021, 08:59 AM IST

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने आईसीसी टूर्नामेंट्स की मेजबानी हासिल करने के लिए बड़ा फैसला लिया है। दरअसल, वर्ष 2024 से 2032 के बीच खेले जाने तीन ग्लोबल टूर्नामेंट की मेजबानी पर दावा पेश करने के लिए बीसीसीआई बड़ा दांव लगाने की तैयारी कर रहा है। बीसीसीआई की हाई लेवल की मीटिंग में फैसला लिया गया है। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद ने हाल में घोषणा की थी कि वर्ष 2024 से 2032 के क्रिकेट टूर्नामेंट्स में चैंपियन्स ट्राफी को शामिल किया जाएगा। वहीं बीसीसीआई की मीटिंग में फैसला लिया गया है कि बोर्ड साल 2024 से शुरू होने वाले 8 सालों के एफटीपी में छोटे फॉर्मेट के दोनों वर्ल्ड कप के अलावा 3 ग्लोबल प्रतियोगिताओं की मेजबानी का दावा करेगा।

लगाई जाएगी बोली
वर्ष 2017 के बाद से आईसीसी चैंपियन्स ट्रॉफी का आयोजन नहीं हुआ है। दरअसल, वर्ष 2017 में आईसीसी ने चैंपियन्स ट्रॉफी टूर्नामेंट को बंद करने का ऐलान किया था, लेकिन अब इसे दोबारा शुरू किया जा रहा है। आईसीसी वर्ष 2024 से 2032 के बीच हर साल कम से कम एक ग्लोबल टूर्नामेंट करवाना चाहता है। ऐसे में बीसीसीआई ने चैंपियंस ट्राॅफी, एक टी20 वर्ल्ड कप और एक वनडे वर्ल्ड कप की मेजबानी के लिए बोली लगाने का निर्णय किया है। बीसीसीआई के एक वरिष्ठ अधिकारी ने इस बारे में कहा कि बोर्ड वर्ष 2025 में चैंपियंस ट्राॅफी के अलावा 2028 में होने वाले टी20 वर्ल्ड कप और 2031 में होने वाले वनडे वर्ल्ड कप की मेजबानी के लिए दावा पेश करेगा।

यह भी पढ़ें— टोक्यो ओलंपिक में जाने वाले भारतीय खिलाड़ियों की मदद के लिए बीसीसीआई देगा 10 करोड़ रुपए

bcci_2.png

यूएई में आयोजित हो सकता है टी20 वर्ल्ड
इस वर्ष होने वाले टी20 वर्ल्ड कप की मेजबानी बीसीसीआई को सौंपी गई है। हालांकि कोरोना महामारी की वजह इस टूर्नामेंट को देश में आयोजित कराने को लेकर संशय बना हुआ है। ऐसे में इस टूर्नामेंट को यूएई में आयोजित कराया जा सकता है। इसके अलावा वर्ष 2023 में हाेने वाला वनडे वर्ल्ड कप भी भारत में ही आयोजित हाेना है।

यह भी पढ़ें— BCCI के स्कोरर्स ने सौरव गांगुली को लिखा मेल, रिटायरमेंट से जुड़े फायदे देने की अपील

घरेलू खिलाड़ियों के मुआवजे के लिए बनेगी समिति
इसके अलावा मीटिंग में बीसीसीआई ने बीते सत्र में रणजी ट्रॉफी रद्द होने की वजह से घरेलू खिलाड़ियों के मुआवजे को लेकर एक समिति गठित करने का फैसला लिया है। इस समिति में 10 सदस्य होंगे और यह समिति मुआवजे से जुड़े तरीकों को तय करेगी। इस समिति में हर 6 जोन के 1-1 सदस्य होने के साथ ही बोर्ड के भी 4 सदस्य शामिल होंगे। इसमें बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली और सचिव जय शाह भी शामिल होंगे।

Mahendra Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned