दिल्ली कैपिटल्स ने उठाए सवाल, पूछा- ऋषभ पंत को क्यों नहीं दी गई अंतिम एकादश में जगह

Rishabh Pant को 5 टी-20 और 3 वनडे मैच की सीरीज में किसी भी मैच में नहीं खेलाया गया था। इसी पर दिल्ली कैपिटल्स के सह-मालिक पार्थ जिंदल ने सवाल उठाया है।

Mazkoor Alam

14 Feb 2020, 03:40 PM IST

नई दिल्ली : न्यूजीलैंड दौरे पर टीम इंडिया के साथ गए बल्लेबाज ऋषभ पंत (Rishabh Pant) को पांच टी-20 और तीन वनडे मैच की सीरीज में किसी भी मैच में न खेलाने को लेकर जेएसडब्लू स्पोर्ट्स के निदेशक और इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) फ्रेंचाइजी दिल्ली कैपिटल्स के सह-मालिक पार्थ जिंदल ने सवाल उठाया है। उन्होंने ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्चिन (RaviChandran Ashwin) को सीमित ओवरों के क्रिकेट से बाहर रखने पर भी आपत्ति जताई। बता दें कि पंत और अश्विन ताजा आईपीएल सीजन में दिल्ली कैपिटल्स की ओर से खेलते दिखेंगे। पंत पहले से दिल्ली कैपिटल्स की टीम में शामिल हैं तो इस बार ट्रांसफर विंडो के जरिये इस फ्रेंचाइजी ने अश्विन को अपनी टीम से जोड़ा है। अश्विन पिछले साल किंग्स इलेवन पंजाब के कप्तान थे।

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे सीरीज से बाहर हैं पंत

ऋषभ पंत को कीवी दौरे से पहले ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीन वनडे मैचों की घरेलू सीरीज के पहले मैच में चोट लग गई थी। इसके बाद से विकेटकीपिंग की जिम्मेदारी केएल राहुल को दे दी गई है और उन्होंने इस दोहरी भूमिका के साथ न्याय किया है। बल्लेबाजी के साथ-साथ विकेटकीपिंग भी अच्छी की है। वहीं रविचंद्रन अश्विन लंबे समय से सीमित ओवरों के क्रिकेट में टीम इंडिया से बाहर हैं। उन्होंने भारत के लिए शार्टर फॉर्मेट में आखिरी बार 2017 में उतरे थे।

रॉबिन सिंह को मिली बड़ी जिम्मेदारी, बने अमीरात क्रिकेट टीम के नए डायरेक्‍टर

कई और दिग्गजों ने भी उठाए थे सवाल

जिंदल ने विराट कोहली की कप्तानी पर सवाल उठाते हुए अपने ट्विटर पर टीम मैनेजमेंट से पूछा है कि ऋषभ पंत को टीम में क्यों रखा गया है, सिर्फ बेंच पर बैठाने के लिए? बता दें कि जिंदल पहले व्यक्ति नहीं हैं, जिन्होंने पंत को न खेलाने को लेकर सवाल खड़े किए हैं। वीरेंद्र सहवाग और वीवीएस लक्ष्मण समेत कई और पूर्व खिलाड़ियों ने भी पंत को न खेलाने को लेकर सवाल खड़े कर चुके हैं।

पंत को बेंच पर बैठाने का कोई तुक नहीं : जिंदल

जिंदल ने इसके आगे लिखा कि अगर पंत को टीम इंडिया से नहीं खेलाना था तो उन्हें न्यूजीलैंड-ए के खिलाफ या घरेलू क्रिकेट में खेलने को कहा जा सकता था। इससे उन्हें फायदा मिलता। उनके जैसे प्रतिभाशाली खिलाड़ी को पांच मैचों की टी-20 सीरीज और तीन मैचों की वनडे सीरीज में नहीं मौका देने कोई तुक नहीं बनता है।

आईसीसी ने कहा- सुपर ओवर की जगह खेल सकते हैं पेपर, सिजर, रॉक का खेल

अश्विन की उपेक्षा पर भी उठाए सवाल

दिल्ली कैपिटल्स के सह-मालिक पार्थ जिंदल ने सीमीत ओवरों के क्रिकेट में रविचंद्रन अश्विन की उपेक्षा पर भी सवाला उठाया। उन्होंने कहा कि पता नहीं क्यों आर अश्विन टीम में नहीं हैं? उन्होंने कहा कि टीम में विकेट लेने वाले गेंदबाजों की कमी है। टीम इंडिया को विकेट लेने वाले और एक्स फैक्टर वाले खिलाड़ियों की जरूरत है।

Mazkoor Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned