एक ही कैलेंडर में क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में हैट्रिक लेने वाली पहली टीम बनी इंडिया, कोई नहीं कर पाया ऐसा

टीम इंडिया के गेंदबाजों ने एक ऐसी उपलब्धि हासिल की है, जो क्रिकेट के इतिहास में दुनिया की कोई और टीम नहीं कर पाई है।

Mazkoor Alam

November, 1109:56 PM

नई दिल्ली : क्रिकेट में इतिहास बनते रहते हैं, लेकिन कुछ रिकॉर्ड ऐसे होते हैं, जिसे दोहराना मुश्किल होता है। टीम इंडिया ने एक ऐसा ही रिकॉर्ड बांग्लादेश के खिलाफ हुई सीरीज के अंतिम टी-20 मैच के दौरान बना डाला। इस मैच को भारत ने 30 रनों से जीतकर जहां सीरीज पर कब्जा जमाया, वहीं दीपक चाहर टी-20 क्रिकेट में पहले ऐसे भारतीय गेंदबाज बनें, जिन्होंने हैट्रिक लिया है। लेकिन इस रिकॉर्ड के साथ एक और बहुत बड़ा रिकॉर्ड बन गया, जिसकी ओर किसी का ध्यान शायद ही गया। भारतीय गेंदबाजों ने एक ही कैलेंडर ईयर में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में हैट्रिक लेने का कारनामा कर दिखाया। क्रिकेट के इतिहास में ऐसा पहले कभी कोई टीम नहीं कर सकी है।

अयोध्या मसले पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का कैफ ने किया स्वागत, कहा- यह सिर्फ भारत में हो सकता है

दुनिया की इकलौती टीम बनी टीम इंडिया

इस रिकॉर्ड की शुरुआत मोहम्मद शमी ने किया। उन्होंने सबसे पहले आईसीसी क्रिकेट विश्व कप 2019 में अफगानिस्तान के खिलाफ हैट्रिक लिया। इसके बाद जसप्रीत बुमराह ने वेस्टइंडीज दौरे पर किंग्सटन टेस्ट के दौरान इस कारनामे को दोहराया और इसका समापन दीपक चाहर ने रविवार को बांग्लादेश के खिलाफ हैट्रिक लेकर किया। इस तरह इन तीनों गेंदबाजों के संयुक्त प्रयास से भारतीय टीम का नाम क्रिकेट के इतिहास में स्वर्णाक्षरों में दर्ज हो गया। अभी टीम इंडिया इंडिया इस मामले में इकलौती टीम बन गई है।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned