KKR vs CSK: बेकार गई वाटसन की पारी, चेन्नई 10 रनों से हारी, धोनी की यह गलती बनी हार की वजह

आईपीएल 2020 ( IPL 2020) के 21वें मैच में कोलकाता नाइट राइडर्स और चेन्नई सुपर किंग्स (KKR vs CSK) की टीम का आमना-सामना हुआ। इस मैच में केकेआर (KKR) की टीम ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी का फैसला किया और चेन्नई (CSK) के सामने अबु धाबी के मैदान पर 168 रनों का लक्ष्य रखा। जवाब में चेन्नई की टीम रन ही बना सकी और केकेआर ने 10 रनों से मैच जीत लिया....

By: भूप सिंह

Published: 08 Oct 2020, 08:57 AM IST

नई दिल्ली। कोलकाता नाइट राइडर्स (Kolkata Knight Riders)ने बुधवार को शेख जायद स्टेडियम (Sheikh Zayed Stadium) में खेले गए इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल IPL) के 13वें संस्करण के मैच में चेन्नई सुपर किंग्स (Chennai Super Kings) के खिलाफ मध्य के ओवरों में शानदार वापसी करते हुए उसे 10 रनों से हरा दिया। कोलकाता (Kolkata) ने पहले बल्लेबाजी करते हुए राहुल त्रिपाठी (Rahul Tripathi) (81 रन, 51 गेंद, 8 चौके, 3 चौके) की पारी की मदद से किसी तरह 20 ओवरों में 167 रन बनाए। चेन्नई (Chennia) एक समय तक मैच में थी, लेकिन शेन वाटसन (Shane Watson) ( 50 रन, 40 गेंद, 6 चौके, 1 सिक्स )के आउट होने के बाद टीम मैच में से गायब हो गई और 20 ओवरों में सात विकेट खोकर 157 रन नहीं बना सकी।

IPL 2020 में अब तक बन चुके हैं ये रिकॉर्ड्स, ये हैं सबसे ज्यादा सिक्स और फॉर लगाने वाले खिलाड़ी

शिवम मावी ने फाफ डु प्लेसिस (17) को आउट कर टीम को शुरुआती सफलता तो दिलाई। लेकिन इसके बाद वाटसन और अंबाती रायडू ने अपने पैर जमा लिए और टीम को 10 ओवरों में 90 रनों के स्कोर तक पहुंचा दिया। लेकिन मजबूत स्थिति में दिख रही चेन्नई ने छह गेंदों के भीतर इन दोनों बल्लेबाजों के विकेट खो दिए। 13वें ओवर की पहली गेंद पर रायडू आउट हुए और 14वें ओवर की पहली गेंद पर वाटसन।

ipl 2020 : पर्पल कैप के लिए रबाडा और बुमराह में जंग, ऑरेंज कैप पर राहुल का कब्जा

यहां से चेन्नई को 67 रनों की जरूरत थी और दबाव दुनिया के महानतम फिनिशरों में से एक धोनी पर था। धोनी (11) को वरुण चक्रवर्ती ने बोल्ड कर चेन्नई की बची खुची उम्मीदों को खत्म कर दिया। आखिरी ओवर में 26 रन चाहिए थे। केदार जाधव (नाबाद 7)और रवींद्र जडेजा (नाबाद21) ने पूरी कोशिश की, लेकिन टीम को जीत नहीं दिला सके। इससे पहले, कोलकाता ने इस मैच में कुछ बदलाव किए। पिछले मैच में बेहतरीन बल्लेबाजी करने वाले त्रिपाठी को सुनील नरेन के स्थान पर शुभमन गिल के साथ पारी की शुरुआत करने भेजा गया।

चेन्नई के खिलाफ मैच से पहले कोलकाता को बड़ा झटका, स्टार गेंदबाज अली खान आईपीएल से हुए बाहर

कोलकाता का यह प्रयोग तो सफल रहा, लेकिन बाकी चीजें समान रहीं। मसलन इयोन मोर्गन और आंद्रे रसेल का बल्ला फिर नहीं चला। गिल (11) टीम के पहले विकेट के रूप में आउट हुए। नितीश राणा (9) भी जल्दी आउट हो गए। यहां कोलकाता ने सभी को हैरान कर दिया,क्योंकि चौथे नंबर पर नरेन बल्लेबाज करने आए जो नौ गेदों पर 17रन बना सके। उन्होंने एक चौका और एक सिक्स लगाया, लेकिन कर्ण शर्मा की गेंद पर वह आउट हो गए। उनके बाद आए मोर्गन (7) और आंद्रे रसेल (2) एक बार फिर विफल रहे।

KKR vs CSK Match Preview : चेन्नई और कोलकाता के बीच होगा कांटे मुकाबला, धोनी का ये धुरंधर जीता सकता है मैच

दूसरे छोर पर हालांकि त्रिपाठी खड़े थे और जब तक वो थे तब तक टीम के 190 के आस-पास जाने की पूरी उम्मीद थी। ड्वेन ब्रावो ने 16.5 ओवर में उनको आउट कर कोलकाता के अरमानों पर पानी फेर दिया। कप्तान दिनेश कार्तिक (12) का बल्ला एक बार फिर नहीं चला। अंत में नाबाद रहने वाले पैट कमिंस ने नौ गेंदों पर एक चौका और एक सिक्स लगा टीम को 167 के स्कोर तक पहुंचाया।

मैच के बाद धोनी ने बल्लेबाजों को हार का दोषी ठहराया। उन्होंने कहा कि हमारे गेंदबाजों ने शानदार प्रदर्शन किया, लेकिन मध्यक्रम के फ्लॉप होने की वजह से हम मैच हार गए। दुनिया के बेहतरीन बल्लेबाजों में से एक होने के बावजूद धोनी ने अपना विकेट सस्ते में गंवा दिया यह उनकी सबसे बड़ी गलती रही। दूसरी गलती यह है कि उन्हें अपनी बल्लेबाजी क्रम में बदलाव करना चाहिए।

ipl 2020
Show More
भूप सिंह
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned