द्रविड़ को पछाड़ क्रिकेट इतिहास का लगभग 100 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ सकते हैं लोकेश राहुल

द्रविड़ को पछाड़ क्रिकेट इतिहास का लगभग 100 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ सकते हैं लोकेश राहुल

Siddharth Rai | Publish: Sep, 09 2018 10:17:46 AM (IST) क्रिकेट

यहां हम बात कर रहे हैं एक सीरीज में सबसे ज्यादा कैच लपकने के रिकॉर्ड की। लोकेश राहुल ने इस सीरीज में अब तक 13 कैच पकड़े हैं और इन 13 कैचों के साथ उन्होंने दिग्गज खिलाड़ी राहुल द्रविड़ की बराबरी कर ली है।

नई दिल्ली। भारत और इंग्लैंड के बीच पांच मैचों की टेस्ट सीरीज का आखिरी टेस्ट मैच लंदन के ओवल मैदान में खेला जा रहा है। इस मैच में इंग्लैंड के गेंदबाजों ने शानदार गेंदबाजी करते हुए मैच में पकड़ बना ली है। इसकी बड़ी वजह भारतीय बल्लेबाजों का लगातार फ्लॉप होना है। इस मैच में भी भारतीय बल्लेबाज कुछ खास नहीं कर पाए। सलामी बल्लेबाज लोकेश राहुल ने थोड़ा जोर लगाया था लेकिन वे इस सीरीज में लगातार ख़राब प्रदर्शन कर रहे हैं। इसके बावजूद लोकेश राहुल एक ऐसा रिकॉर्ड की बराबरी कर सकते हैं जो किसी भी खिलाड़ी ने पिछेल 100 साल में नहीं छुआ।

राहुल अपने नाम करेंगे ये रिकॉर्ड
जी हां! यहां हम बात कर रहे हैं एक सीरीज में सबसे ज्यादा कैच लपकने के रिकॉर्ड की। लोकेश राहुल ने इस सीरीज में अब तक 13 कैच पकड़े हैं और इन 13 कैचों के साथ उन्होंने दिग्गज खिलाड़ी राहुल द्रविड़ की बराबरी कर ली है। द्रविड़ विश्व के सबसे अच्छे स्लिप फील्डरों में से एक हैं।द्रविड़ ने टेस्ट क्रिकेट में 210 कैच लेकर विश्व रिकॉर्ड भी बनाया है। साल 2004 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 4 मैचों की सीरीज में द्रविड़ ने 13 कैच पकड़े थे। ये किसी भी भारतीय द्वारा एक सीरीज में सबसे ज्यादा कैच हैं। वहीं किसी भी टेस्ट सीरीज में सबसे ज्यादा कैच लपकने का रिकॉर्ड ऑस्ट्रेलिया के जैक ग्रेगरी के नाम है। उन्होंने 1920-21 की एशेज सीरीज में 15 कैच लपके थे। इतना ही नहीं इस लिस्ट में 14 कैचों के साथ ऑस्ट्रेलिया के ही ग्रेग चैपल दूसरे स्थान पर हैं। उन्होंने भी 1974/75 की एशेज सीरीज में ही 14 कैच लपके थे। ऐसे में अगर राहुल 2 कैच और लपक लेते हैं तो ये रिकॉर्ड उनके नाम हो जाएगा।

भारत का ख़राब प्रदर्शन, बैकफुट पर
बता दें ओवल में खेले जा रहे इस मैच के दूसरे दिन अपनी पहली पारी में 51 ओवर में 174 रन तक अपने छह विकेट गंवाकर संकट में पड़ता दिख रहा है। भारत अभी इंग्लैंड द्वारा पहली पारी में बनाए गए 332 के स्कोर से 158 रन पीछे है जबकि उसके चार विकेट शेष हैं। स्टंप्स के समय रवींद्र जडेजा (8) और अपना पदार्पण मैच खेल रहे हनुमा विहारी (25) रन बनाकर नाबाद लौटे। जडेजा 10 गेंदों की पारी में दो चौके और विहारी 50 गेंदों की पारी में तीन चौके और एक सिक्स लगा चुके हैं। भारत ने तीसरे सत्र में 121 रन बनाए और पांच विकेट गंवाए। इंग्लैंड के लिए जेम्स एंडरसन 20 रन पर दो विकेट, बेन स्टोक्स 44 रन पर दो विकेट, स्टुअर्ट ब्रॉड 25 रन पर एक विकेट और सैम कुरेन 46 रन पर एक विकेट हासिल कर चुके हैं।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned