scriptRanji trophy Final mumbai record madhya Pradesh all set to win | Ranji Trophy: मुंबई ने 87 साल में खेले 47 फाइनल और जीते 41 खिताब, इस बार मध्यप्रदेश के आगे पस्त | Patrika News

Ranji Trophy: मुंबई ने 87 साल में खेले 47 फाइनल और जीते 41 खिताब, इस बार मध्यप्रदेश के आगे पस्त

Ranji Trophy Final: मध्य प्रदेश ने 41 बार की रणजी चैम्पियन मुंबई पर सिकंजा कस दिया है और वह अपना पहला खिताब जीतने की कगार पर है। मुंबई ने रणजी में 47 बार फाइनल में जगह बनाई है और 41 खिताब जीते हैं।

नई दिल्ली

Updated: June 26, 2022 01:50:03 pm

Ranji Trophy Final Mum vs MP: मुंबई और मध्य प्रदेश के बीच खेले जा रहे रणजी ट्रॉफी फाइनल मुक़ाबले में एमपी ने अपनी स्थिति मजबूत कर ली है और वह जीत की कगार पर है। मध्य प्रदेश ने 23 साल बाद रणजी ट्रॉफी का फाइनल खेला है और पहली बार वह जीत के करीब है। मध्य प्रदेश ने पिछली बार 1999 में कर्नाटक के खिलाफ फाइनल खेला था। तब उन्हें हार का सामना करना पड़ा था।

ranji_mp_rajast.png
मध्य प्रदेश इतिहास रचने के करीब।

वहीं मुंबई को रणजी ट्रॉफी के फाइनल मुक़ाबले में हराना कोई आसान काम नहीं है। मुंबई ने 87 साल के रणजी इतिहास में 47 बार फाइनल में जगह बनाई है। वहीं 41 बार उसे जीत हासिल हुई है। यह छठी बार है जब मुंबई रणजी का फाइनल मुक़ाबला हार रहा है। इन आकंड़ों से पता चलता कि खिताबी मुकाबले में मुंबई को हराना मध्य प्रदेश के लिए कितनी बड़ी बात है। मुंबई ने आखिरी बार 2015/16 में सौराष्ट्र को हराकर खिताब जीता था।

ये भी पढ़ें - 35 साल बाद कोई तेज गेंदबाज करेगा भारतीय टीम का नेतृत्व, एक साल के अंदर बदले 7 कप्तान

कब- कब मुंबई बनीं चैंपियन
मुंबई की टीम ने लंबे समय तक भारत के घरेलू क्रिकेट में राज किया है और भारतीय टीम को कई दिग्गज खिलाड़ी भी दिये हैं। रणजी का पहला सीजन 1935 में खेला गया था और उसका विजेता मुंबई था। 1935 के बाद मुंबई ने 1936, 1942, 1945, 1949, 1952, 1954, 1956, 1957 में रणजी खिताब अपने नाम किए। इसके बाद 1959 से लेकर 1973 तक मुंबई ने 15 साल तक लगातार खिताब अपने नाम किए। उन्हें 1974 में हार हा सामना करना पड़ा। लेकिन 1975 और 1976, फिर 1977, 1981, 1984 और 1985 में टीम चैंपियन बनी। हालांकि मुंबई को इसके बाद थोड़ा इंतजार करना पड़ा और इस फिर 1994 में मुंबई की टीम अपने पुराने रंग में नजर आई। 1994 के बाद 1995 में भी टीम ने खिताब जीता और फिर 1997,2000, 2003, 2004, 2007, 2009, 2010, 2013, 2016 में भी टीम विजेता बनी।

फाइनल मैच का हाल -
बता दें बेंगलुरु के एम चिन्नास्वामी स्टेडियम में खेले जा रहे इस मैच में मध्य प्रद्र्श ने मुंबई पर सिकंजा कस दिया है। पहली पारी में 162 रनों से पिछड़ने के बाद दूसरी पारी में मुंबई की टीम 269 रन ही बना सकी। ऐसे में मध्य प्रदेश को खिताब जीतने के लिए सिर्फ 108 रन बनाने हैं। मुंबई के ऑलआउट होते ही लंच की घोषणा कर दी गई। दूसरी पारी में एमपी के लिए कुमार कार्तिकेय ने सबसे ज्यादा चार विकेट चटकाए। पांचवें दिन पहले सेशन में ही मुंबई ने अपने आठ विकेट गंवा दिए।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

कलकत्ता हाईकोर्ट की कड़ी टिप्पणी, कहा - 'पश्चिम बंगाल में बिना पैसे दिए नहीं मिलती सरकारी नौकरी'Jammu-Kashmir News: शोपियां में फिर आतंकी हमला, CRPF के बंकर पर ग्रेनेड अटैकओडिशा के 10 जिलों में बाढ़ जैसे हालात, ODRAF और NDRF की टीमों को किया गया तैनातकैबिनेट विस्तार के बाद पहली बार नीतीश कैबिनेट की बैठक, इन एजेंडों पर लगी मुहरशिमला में सेवाओं की पहली 'गारंटी' देने पहुंचेगी AAP, भगवंत मान और मनीष सिसोदिया कल हिमाचल प्रदेश के दौरे परममता बनर्जी के ट्विटर प्रोफाइल में गायब जवाहर लाल नेहरू की तस्वीर, बरसी कांग्रेसमुंबई पुलिस की बड़ी कार्रवाई, गुजरात के भरूच में पकड़ी ‘नशे’ की फैक्ट्री, 1026 करोड़ के ड्रग्स के साथ 7 गिरफ्तारकेंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह के मानहानि के बयान पर मंत्री जोशी का पलटवार, कहा-दम है तो करें मानहानि
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.