इस वजह से कभी हेलमेट नहीं पहनते थे गावस्कर, छूकर निकल गई थी मौत!

उस दौर में एंडी रॉबर्ट्स, माइकल होल्डिंग, मैल्कम मार्शल, रिचर्ड हेडली, डेनिस लिली जैसे तूफानी गेंदबाज थे। उनकी गेंदबाजी के आगे अच्छे-अच्छे बल्लेबाज नहीं टिक पाते थे। इसके बावजूद गावस्कर ने बिना हेलमेट के इन गेंदबाजों का सामना किया।

By: Mahendra Yadav

Published: 10 Jul 2021, 12:40 PM IST

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर आज अपना जन्मदिन मना रहे हैं। 10 जुलाई, 1949 को मुंबई में जन्मे गावस्कर ने 22 साल की उम्र में इंटरनेशनल डेब्यू किया था। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 10 हजार रन पूरा करने वाले गावस्कर पहले बल्लेबाज थे। साथ ही उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के महान बल्लेबाज सर डॉन ब्रेडमैन के 29 शतक का रिकॉर्ड तोड़ते हुए अपने कॅरियर में 34 शतक लगाए। गावस्कर के ऐसे कई रिकॉर्ड हैं, जिन्हें आज तक कोई खिलाड़ी नहीं तोड़ पाया।

कभी हेलमेट नहीं पहनते थे गावस्कर
गावस्कर ने अपने पूरे क्रिकेट कॅरियर में कभी हेलमेट नहीं पहना। उस दौर में एंडी रॉबर्ट्स, माइकल होल्डिंग, मैल्कम मार्शल, रिचर्ड हेडली, डेनिस लिली जैसे तूफानी गेंदबाज थे। उनकी गेंदबाजी के आगे अच्छे—अच्छे बल्लेबाज नहीं टिक पाते थे। इसके बावजूद गावस्कर ने बिना हेलमेट के इन गेंदबाजों का सामना किया।

यह भी पढ़ें— अगर चाचा ने नहीं पहचाना होता तो क्रिकेटर नहीं मछुआरे होते सुनील गावस्कर

sunil gavaskar
IMAGE CREDIT: sunil gavaskar

जब छूकर निकल गई मौत
एक बार मैल्कम मार्शल की बॉल सुनील गावस्कर के सिर पर लगी थी। इस घटना के बाद गावस्कर ने कुछ वक्त तक स्कल कैप पहनी लेकिन बाद में उन्होंने इसे भी पहनना छोड़ दिया। मार्शल की बॉल इतनी तेज थी कि इससे गावस्कर की जान तक जा सकती थी। हालांकि गेंद लगने के बाद भी गावस्कर ने पलक तक नहीं झपकाई और उन्होंने शतक भी ठोका। रवि शास्त्री ने उस घटना को याद करते हुए बताया था कि गेंद गावस्कर के माथे पर लगकर 15 फीट तक दूर गई। ये घटना देख भारतीय ड्रेसिंग रूम हिल गया, लेकिन गावस्कर ने पलक तक नहीं झपकाई। वो पहले की तरह खड़े थे।

यह भी पढ़ें— सुनील गावस्कर को उम्मीद: रोहित शर्मा इंग्लैंड में दोहरा सकते हैं पांच शतकों का रिकॉर्ड

इस वजह से नहीं पहनते थे हेलमेट
सुनील गावस्कर ने एक इंटरव्यू के दौरान अपने हेलमेट न पहनने की वजह बताई थी। उन्होंने कहा था कि 'ईमानदारी से कहूं तो मुझे कभी लगा ही नहीं कि हेलमेट पहनना चाहिए। साथ ही उन्होंने मजाकिया अंदाज में कहा था कि 'मेरे दिमाग में कुछ था ही नहीं, तो हेलमेट किस चीज को बचाने के लिए लगाता।' पाकिस्तान के पूर्व कप्तान इमरान और गावस्कर के बीच अच्छी दोस्ती थी। दोनों ने टेस्ट डेब्यू साथ—साथ किया था। एक इंटरव्यू में गावस्कर ने बताया था कि इमरान ने उन्हें कई बार हेलमेट पहनने की सलाह दी थी, लेकिन गावस्कर ने उनकी बात नहीं मानी।

Mahendra Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned