टी-20 सीरीज हार चुकी कीवी टीम की मुसीबतें और बढ़ी, चोट के कारण वनडे सीरीज से दिग्गज गेंदबाज बाहर

New Zealand Cricket Board की चयन समिति को एक बार फिर युवा पेसरों पर भरोसा जताना पड़ा है।

By: Mazkoor

Updated: 30 Jan 2020, 12:05 PM IST

क्राइस्टचर्च : टीम इंडिया (Team India) के खिलाफ पांच मैचों की टी-20 अंतरराष्ट्रीय सीरीज में से लगातार तीन मैच हार कर सीरीज गंवा चुकी न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम (New Zealand Cricket Team) की समस्या कम नहीं हुई है, बल्कि और बढ़ गई है। चोट के कारण टी-20 सीरीज से बाहर रहे कीवी टीम के प्रमुख तेज गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट, लॉकी फर्ग्यूसन और मैट हेनरी अब तक फिटनेस हासिल नहीं कर सके हैं। इस कारण वह भारत के खिलाफ होने वाले तीन मैचों की एकदिवसीय सीरीज से भी बाहर हो गए हैं।

इन युवाओं को मिला मौका

इस कारण न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड की चयन समिति को एक बार फिर उनकी जगह टी-20 सीरीज में कीवी टीम की ओर से खेल रहे युवा पेसर स्कॉट कुग्गलेजिन, हैमिश बेनेट और काइल जेमिसन पर भरोसा जताना पड़ा है। इनमें कुछ का एकदिवसीय सीरीज में भारत के खिलाफ डेब्यू करना अब पक्का लगता है। इस नए पेस अटैक में सिर्फ टिम साउदी ही ऐसे गेंदबाज हैं, जो अनुभवी हैं।

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में बतौर सलामी बल्लेबाज रोहित के 10 हजार रन पूरे, दूसरे सबसे तेज बल्लेबाज

टॉम लॉथम फिट

न्यूजीलैंड ने भारत के खिलाफ तीन मैचों के वनडे सीरीज में अंगुली की चोट से फिट होकर टॉम लॉथम ने 14 सदस्यीय टीम में वापसी की है। टीम की कप्तानी केन विलियमसन के पास ही है। इसके अलावा बल्लेबाजी में हेनरी निकोलस, मार्टिन गुप्टिल होंगे। आलराउंडर के तौर पर कॉलिन डी ग्रैंडहोम, जेम्स नीशाम और मिशेल सैंटनर को टीम में जगह दी गई है। स्पिनर ईश सोढ़ी को सिर्फ पहले वनडे मैच के लिए टीम में शामिल किया गया है।

कोच ने बल्लेबाजों पर दिखाया भरोसा

कीवी कोच गैरी स्टीड ने एकदिवसीय टीम के बारे में कहा कि इस युवा पेस आक्रमण को संभालने की जिम्मेदारी टिम साउदी के पास रहेगी। इन युवाओं के पास विश्व के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों के खिलाफ खेलने का बड़ा मौका है। उन्होंने कहा कि गेंदबाजी क्रम जहां नया है, वहीं बल्लेबाजी सेट दिख रही है। स्टीड ने तो यहां तक कहा कि हम विश्व कप में भी इन्हीं शीर्ष आठ बल्लेबाजों के साथ जाएंगे।

गैटिंग ने कहा, प्रशासक नहीं खेलते है क्रिकेट, पांच दिन का टेस्ट है खास

न्यूजीलैंड की एकदिवसीय टीम

केन विलियमसन (कप्तान), हैमिश बेनेट, टॉम ब्लंडेल, कॉलिन डी ग्रैंडहोम, मार्टिन गुप्टिल, काइल जेमिसन, स्कॉट कुग्गलेजिन, टॉम लॉथम (विकेटकीपर), जिमी नीशाम, हेनरी निकोल्स, मिशेल सेंटनर, टिम साउदी, रॉस टेलर और सिर्फ पहले एकदिवसीय मैच के लिए ईश सोढ़ी।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned