IPL 2019: युवराज के हाथों तीन छक्के खाने के बाद चहल के मन में बैठ गया था डर

  • युवराज सिंह ने 12 गेंदों में 23 रन की पारी खेली
  • युवराज ने चहल की तीन गेंदों पर तीन छक्के लगाए
  • चौथी गेंद पर युवराज सिंह आउट हो गए

By: Kapil Tiwari

Updated: 29 Mar 2019, 05:07 PM IST

बेंगलुरु। आईपीएल के सीजन 12 में गुरुवार को रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर का मुकाबला मुंबई इंडियंस से हुआ। मुंबई ने ये मैच 6 रन से जीतकर टूर्नामेंट में अपने पहली जीत दर्ज की। मुंबई की तरफ से युवराज सिंह इस आईपीएल में अच्छी लय में नजर आ रहे हैं। आरसीबी के खिलाफ युवराज ने 12 गेंदों में 23 रन की धमाकेदार पारी खेली, जिसमें उन्होंने तीन छक्के लगाए।

- युवराज सिंह ने अपनी पारी में तीनों छक्के एक ही ओवर में लगातार तीन गेंदों पर जड़े और वो ओवर था युजवेंद्र चहल का। युजवेंद्र चहल के साथ कल के मैच में कुछ ऐसा हो सकता था, जिसके लिए उन्हें क्रिकेट में हमेशा याद रखा जाता। चहल ने इस बात का खुलासा खुद मैच के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में किया।

- चहल ने कहा कि युवराज सिंह ने मेरे ओवर की शुरुआती तीन गेंदों पर तीन छक्के लगाए तो मेरा मनोबल एकदम टूट गया था। चहल ने कहा कि मुझे उस समय स्टुअर्ट ब्रॉड की तरह महसूस होने लगा था। चहल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ''उन्हें इंग्लैंड के खिलाडी स्टुअर्ट ब्रॉड की तरह महसूस हुआ, जब मुंबई इंडियंस के युवराज सिंह ने उनके एक ओवर में तीन छक्के मारे।”

- आपको बता दें कि बैंगलोर की पारी का 14वां ओवर युजवेंद्र चहल ले कर आये और युवराज ने उनको टारगेट करते हुए लगातार तीन लंबे-लंबे छक्के लगा दिए, जिसके बाद युजवेंद्र चहल ने कहा, “जब युवराज ने मुझे तीन छक्के मारे, तो मै अपने आप को स्टुअर्ट ब्रॉड की तरह महसूस करने लगा।”

- आपको बता दें कि तीन छक्के खाने के बाद युवराज सिंह को आउट भी युजवेंद्र चहल ने ही किया था। उसी ओवर की चौथी गेंद पर चहल ने युवराज को गुगली गेंद डाली, जिसपर युवराज कैच आउट हो गए। उसको लेकर चहल ने कहा कि मैंने ही युवी को आउट करने का प्लान बनाया, जिसमें वो फंस गए।

- युवराज सिंह ने 2007 टी20 वर्ल्ड कप में स्टुअर्ट ब्रॉड के एक ओवर में 6 छक्के लगाए थे। चहल ने उसी समय की तुलना कल के उस समय से की, जब वो एक ओवर में तीन छक्के खा चुके थे। विकेट के बारे में बात करते हुए इस भारतीय स्पिनर ने कहा, कि “विकेट टर्न नहीं हो रहा था, इसलिए मेरी योजना गति को अलग करने की थी, जैसे धीमी गेंदबाजों को और कभी-कभी स्लाइडर्स को भी, चूंकि यह बल्लेबाजी के लिए अच्छा था, उन्होंने अपनी गति को अलग किया, खासकर बड़े हिटर कीरोन पोलार्ड के लिए।”

Kapil Tiwari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned