पुणे में परिवार के चार सदस्य फंदे से लटके मिले, दिल्ली में कार के भीतर मृत मिला कोरोना मरीज

  • लॉकडाउन ( coronavirus lockdown ) के चलते परिवार के मुखिया को नुकसान की आशंका के बाद फांसी ( found hanging ) लगाना समझा जा रहा है वजह।
  • कार में मृत मिले कोरोना ( COVID-19 ) पॉजिटिव युवक की मौत हृदय गति से रुकने की आशंका।
  • पुलिस ( pune police ) ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेजकर मामले की जांच ( police investigation) शुरू की।

नई दिल्ली। महाराष्ट्र के पुणे में शुक्रवार सुबह मासूम बच्चों समेत एक परिवार के चार सदस्यों को फांसी के फंदे से लटका ( found hanging ) पाया गया। सुखसागर नगर इलाके में हुई इस घटना की जानकारी मिलते ही वहां सनसनी फैल गई। वहीं, दिल्ली के मोती नगर इलाके में एक व्यक्ति को कार के भीतर मृत पाया गया। इस व्यक्ति को कुछ दिन पहले कोरोना वायरस पॉजिटिव ( COVID-19 ) पाया गया था।

जानकारी के मुताबिक पुणे के सुखसागर नगर क्षेत्र में एक छोटे व्यवसायी का चार सदस्यीय परिवार शुक्रवार सुबह मृत पाया गया। पति-पत्नी और दो छोटे बच्चों के साथ चारों फंदे से लटके मिले। शुक्रवार सुबह सभी को उनके घर के भीतर फांसी पर लटका पाया गया।

अब चीन की एक भी गलती पर भारत करेगा ब्रह्मास्त्र का इस्तेमाल, IBG-TC नहीं देंगे कोई मौका

पुणे पुलिस ( pune police ) के मुताबिक मृतकों की पहचान अतुल शिंदे (33), उनकी पत्नी जया शिंदे (32), उनकी 3 वर्षीय बेटी और छह साल के बेटे के रूप में की गई है। सूचना मिलने के बाद भारती विद्यापीठ पुलिस स्टेशन की एक पुलिस टीम शुक्रवार सुबह घटनास्थल पर पहुंची। घर के अंदर पहुंचने पर उन्हें सामूहिक आत्महत्या का पता चला। शिंदे परिवार के चारों सदस्य पंखे पर नायलॉन की रस्सी से लटके पाए गए।

शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है और मामले की जांच ( police investigation ) शुरू कर दी गई है। वहीं, सुबह-सुबह इस घटना की जानकारी मिलने से पूरे शहर में सनसनी फैल गई है। शुरुआती जानकारी के मुताबिक शिंदे छात्रों के लिए पहचान पत्र बनाने का एक छोटा व्यवसाय करते थे। कोरोना वायरस लॉकडाउन ( coronavirus lockdown ) के कारण हुई बंदी के चलते उन्हें भारी नुकसान उठाना पड़ा था।

फांसी

दिल्ली में कोविड मरीज मृत मिला

वहीं, राजधानी दिल्ली के मोती नगर इलाके में गुरुवार को एक 38 वर्षीय युवक को मृत पाया गया। शख्स का शव उसकी कार में मिला। कुछ दिन पहले ही उसका कोरोना वायरस परीक्षण किया गया था, जिसमें वह पॉजिटिव पाया गया था।

पुलिस के मुताबिक मृतक की पहचान मोती नगर निवासी दीपक के रूप में की गई है। पुलिस ने बताया कि दीपक ज्वालाहेड़ी इलाके में मोटर मैकेनिक था और उसका एक गैराज था।

जम्मू-कश्मीर में आतंकियों का काल बने सुरक्षाबलों के जवान, देखते ही देखते एनकाउंटर में ठोक डाले 8 आतंकी

इस संबंध में दिल्ली पुलिस ( Delhi police ) के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि उन्हें गुरुवार दोपहर करीब साढ़े तीन बजे एक सूचना मिली। इसमें बताया गया कि मोती नगर स्थित झूलेलाल मंदिर फुट ओवर ब्रिज के पास एक कार में कोई मृत व्यक्ति मौजूद है।

पुलिस के मुताबिक घटनास्थल पर पहुंची पुलिस ने देखा कि कार अंदर से लॉक थी और उसका एसी चालू था। पुलिस को संदेह है कि व्यक्ति की मौत हृदय गति रुकने से हुई होगी।

COVID-19
अमित कुमार बाजपेयी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned