पटनाः पॉश इलाके में हाईप्रोफाइल डबल मर्डर से उड़े पुलिस के होश, जांच में छूट रहे पसीने

पटनाः पॉश इलाके में हाईप्रोफाइल डबल मर्डर से उड़े पुलिस के होश, जांच में छूट रहे पसीने

Pritesh Gupta | Publish: Sep, 07 2018 05:59:12 PM (IST) क्राइम

मामले की जानकारी मिलते ही पटना पुलिस के होश उड़ गए। सीनियर एसपी मनु महाराज की टीम मामले की तहकीकात में जुट गई है।

पटना। बिहार की राजधानी पटना में भी अपराधियों का जमकर बोलबाला है। गुरुवार रात शहर के बुद्धा कॉलोनी थाना क्षेत्र में एक रिटायर्ड कमिश्नर और उनकी पत्नी की हत्या कर दी गई। मामले की जानकारी मिलते ही पटना पुलिस के होश उड़ गए। सीनियर एसपी मनु महाराज की टीम मामले की तहकीकात में जुट गई है। गुरुवार-शुक्रवार की दरम्यानी रात पुलिस गुत्थी सुलझाने में जुटी रही। एसएसपी मनु महाराज ने इस संबंध में केयरटेकर शोएब, उसकी पत्नी, नौकरानी शबनम और ड्राइवर तेजप्रताप को हिरासत में लेकर सघन पूछताछ शुरु कर दी है।

फर्श पर लुढ़के थे दोनों शव

प्राप्त जानकारी के मुताबिक सिंचाई विभाग के रिटायर्ड कमिश्नर 85 वर्षीय हरेंद्र प्रसाद सिंह अपनी 70 वर्षीय पत्नी सपना दास गुप्ता के साथ दुजरा इलाके में मकान नंबर बी-6 रहते थे। रात आठ बजे नौकरानी गुलशन और ड्राइवर की पत्नी गीता बाजार से सब्जी लाने गई। नौ बजे के बाद लौटी तो देखा कि मृतक दंपती के बेडरूम का दरवाजा खुला था। आवाज देने पर भी कोई जवाब नहीं मिला तो दोनों ड्राइंग रूम में पहुंचे लेकिन वहां भी कोई नहीं था। फिर शोएब और अन्य किराएदारों के साथ खोजते हुए कमरे में गये तो दोनों फर्श पर लुढ़के हुए पड़े मिले। पुलिस के आने पर दोनों को एक निजी अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

लूट के इरादे से नहीं हुई हत्याः एसएसपी

मृतक कमिश्नर की दो पत्नियां थीं। पहली पत्नी मंगला देवी कंकड़बाग स्थित मकान में दो बेटों के साथ रहती हैं। दूसरी पत्नी साधना गुप्ता के साथ वह दुजरा स्थित बड़े मकान में रहते थे। पुलिस गुत्थी सुलझाने में कड़ी मशक्कत कर रही है। एसएसपी ने कहा कि पहली नजर में हत्या लूट के इरादे से नहीं की गई है। इस मकान से हर माह ढाई लाख किराए आते हैं। मृतक दंपती की देखभाल केयरटेकर, नौकरानी और ड्राइवर के ही जिम्मे थी।

 

Ad Block is Banned