राजद्रोह मामले में शेहला राशिद को बड़ी राहत, अदालत ने गिरफ्तारी पर लगाई रोक

राजद्रोह मामले में शेहला राशिद को बड़ी राहत, अदालत ने गिरफ्तारी पर लगाई रोक
,,

Mohit sharma | Updated: 10 Sep 2019, 12:45:00 PM (IST) क्राइम

  • JNUSU की पूर्व उपाध्यक्ष शेहला रशीद को कोर्ट से बड़ी राहत मिली
  • कोर्ट ने राजद्रोह मामले में हला की गिरफ्तारी पर अंतरिम रोक लगा दी
  • उनके खिलाफ सुप्रीम कोर्ट के एक वकील ने मामला दर्ज कराया था

नई दिल्ली। जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय ( JNU ) की पूर्व छात्र नेता और जेएनयूएसयू ( JNUSU ) की पूर्व उपाध्यक्ष शेहला रशीद ( Shehla Rashid ) को कोर्ट से बड़ी राहत मिली है।

दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट ने शेहला को राजद्रोह मामले में राहत देते हुए उनकी गिरफ्तारी पर अंतरिम रोक लगा दी है।

आपको बता दें कि उनके खिलाफ सुप्रीम कोर्ट के एक वकील ने मामला दर्ज कराया था।

चंद्रयान-2: NASA की मदद से 'विक्रम' लैंडर को पैरों पर खड़ा करेगा ISRO?

आपको बता दें कि दिल्‍ली पुलिस की स्‍पेशल सेल ने शेहला के खिलाफ देशद्रोह की धाराओं में मामला दर्ज किया था।

शेहला रशीद पर जम्मू-कश्मीर में आर्टिकल 370 हटने के बाद के हालात को लेकर इंडियन आर्मी के खिलाफ झूठी खबरें फैलाने के आरोप लगे थे।

शेहला ने 18 अगस्त को कई ट्वीट कर सेना के जवानों पर कश्मीरियों का उत्पीड़न करने का आरोप लगाया था।

जम्मू को दहलाने की फिराक में आतंकी, ISI ने जैश, लश्कर और हिजबुल के आतंकियों के साथ की बैठक

f2.png

भारत लौटा इमरान खान की पार्टी का नेता, खोली पाकिस्तान में हालात की पोल

शेहला का आरोप था कि इंडियन आर्मी कश्मीर में रात को जबरन लोगों के घरों में घुस जाती है और गैर-कानूनी रूप से लड़कों को उठा लेती है।

इसके साथ ही गलत तरही से घरों में छानबीन की जाती है। इस दौरान घर में रखे सामानों को भी नष्ट कर दिया जाता है।

हालांकि सेना ने इन आरोपों को पूरी तरह से भ्रामक और झूठा बताया था।

f4.png
Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned