Damoh Bypoll: पू्र्व मंत्री के घर पहुंचे शिवराज, बोले- मलैया के नेतृत्व में हुआ दमोह का विकास

दमोह चुनाव में भाजपा उम्मीदवार ने भरा नामांकन, इस मौके पर शिवराज सिंह और वीडी शर्मा भी साथ थे...।

By: Manish Gite

Published: 30 Mar 2021, 04:34 PM IST

दमोह। मध्यप्रदेश में एक बार फिर उपचुनाव है। इस बार सिर्फ दमोह सीट पर यह उपचुनाव हो रहे हैं। यहां भाजपा के प्रत्याशी राहुल सिंह लोधी ने नामांकन दाखिल किया। इस दौरान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एवं भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा भी मौजूद थे। यहां आयोजित एक सभा में शिवराज सिंह ने कहा कि भाजपा की जीत पक्की है। नामिनेशन के बाद शिवराज सिंह चौहान पूर्व मंत्री जयंत मलैया के घर उन्हें मनाने भी गए। मलैया पिछले कुछ दिनों से नाराजगी के कारण चुनाव प्रचार से दूर हैं।

 

अपने दमोह दौरे के वक्त मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दावा किया है कि भाजपा में उम्मीदवार को लेकर किसी प्रकार का मतभेद नहीं है। पूरी पार्टी एकजुटता से चुनाव लड़ रही है। चौहान ने कहा कि दमोह की जनता ने हमेशा चाहा है। पहले जयंत मलैया ने दमोह का विकास किया और आगे भी दमोह के लोगों को विकास की चाह है। इसलिए खुद राहुल सिंह लोधी ने कांग्रेस छोड़ भाजपा का दामन थामा था और अब चुनाव लड़ रहे हैं। भाजपा दमोह में भारी मतों से चुनाव जीतेगी।


इस दौरान मुख्यमंत्री का एक ट्वीट भी सामने आया है। जिसमें उन्होंने लिखा है कि दमोह में मेडिकल कॉलेज के निर्माण में सबसे बड़ी बाधा थी कांग्रेस और कमलनाथजी। राहुल लोधी ने कहा कि उन्हें दमोह का विकास चाहिए और मेडिकल कालेज चाहिए भाजपा विकास के लिए समर्पित है। राहुलजी ने दमोह के विकास के लिए अपना करियर दांव पर लगाया और वे सब छोड़कर हमारे साथ आए।

 

मलैया के घर भी गए सीएम

लोधी का नामांकन दाखिल करने के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पूर्व मंत्री एवं भाजपा नेता जयंत मलैया के घर भी गए। मलैया 6 बार दमोह से विधायक रहे और राहुल लोधी से ही चुनाव हारे थे। इस बार राहुल लोधी को टिकट देने के बाद से जयंत मलैया नाराज चल रहे थे। जयंत मलैया के बेटे सिद्धार्थ मलैया के यहां से चुनाव लड़ने की चर्चा होने लगी थी। इसी के बाद से उन्हें मनाने का दौर चल रहा है। मलैया परिवार अब तक भाजपा के चुनाव प्रचार से दूर है।

 

अंतिम तारीख को भरा नामांकन

इससे पहले दमोह विधानसभा सीट पर प्रत्याशियों को नामांकन भरने का मंगलवार को अंतिम दिन था। 23 मार्च से नामांकन प्रक्रिया चल रही थी। तीन अप्रैल तक नामांकन वापस लिए जा सकते हैं। दमोह उपचुनाव का रिजल्ट 2 मई को आ जाएगा।

BJP
Manish Gite
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned