हाईवे पर मलबा आने से चार धाम यात्री फंसे, इन इलाकों में ज्यादा कहर ढाने वाली है बारिश

हाईवे पर मलबा आने से चार धाम यात्री फंसे, इन इलाकों में ज्यादा कहर ढाने वाली है बारिश

Prateek Saini | Updated: 17 Aug 2019, 04:23:51 PM (IST) Dehradun, Dehradun, Uttarakhand, India

Uttarakhand Weather: मौसम विभाग ने ( Meteorological Department ) रविवार तक भारी बारिश की संभावना ( Weather Forecast ) व्यक्त की है। बारिश ( Rain In Uttarakhand ) की वजह से चार धाम यात्रा ( Char Dham Yatra ) बाधित हो रही है...

(देहरादून,हर्षित सिंह): मौसम विभाग ( Meteorological Department ) के पूर्वानुमान ( Weather Forecast ) के अनुसार राज्य के पहाड़ी इलाकों से लेकर मैदानी इलाकों में बारिश का दौर जारी है। भारी बारिश के कारण जनजीवन बूरी तरह से प्रभावित हुआ है। एक ओर जहां पर्यटकों को मुसीबत का सामना करना पड़ रहा हैं वहीं स्थानीय लोग भी घरों से बाहर नहीं निकल पा रहे हैं। मौसम विभाग ने रविवार तक भारी बारिश की संभावना जताई है।


चारा धाम यात्रा हुई बाधित

Uttarakhand Weather
मलबा हटाने का काम जारी हैै। IMAGE CREDIT:

भारी बारिश के कारण लामबगड़ व टंगड़ी के पास सड़क पर मलबा आने के कारण बद्रीनाथ ( Badrinath ) हाईवे बंद पड़ा है। भूस्खलन के कारण सड़क पर मलबा आने से केदारनाथ ( Kedarnath ) हाईवे भी बाधित रहा। गंगोत्री ( Gangotri ) हाईवे हर्षिल के पास मलबा आने से अवरूद्ध हो गया। बड़ी संख्या में तीर्थयात्री यातायात खुलने का इंतजार कर रहे हैं। वहीं यमुनोत्री ( Yamunotri ) का हाईवे सुचारू है। बीआरओ द्वारा हाईवे से मलबा हटाने का काम जारी है।


कहां हुई कितनी बारिश

Uttarakhand Weather

मौसम विभाग के अनुसार पिछले 24 घंटे में जोशीमठ में 95.2 मिमी , देहरादून में 78.8 मिमी देवप्रयाग 71.4 मिमी , मसूरी 30.7, जौलीग्रांट 6.4, रुद्रप्रयाग 30.9, ऊखीमठ 30.2, बड़कोट में 21.6 मिमी व मुक्तेश्वर में 5.2 मिमी, बारिश हुई। इसके अलावा पंतनगर , ऩई टिहरी समेत राज्य के अन्य इलाकों में भी बारिश हुई। भारी बारिश के चलते आपदा प्रबंधन व एसडीआरएफ की टीमें तैनात की गई हैं।


मलबे में दबे मकान, घरों में घुसा पानी

Uttarakhand Weather
जोशीमठ में बारिश ने सबसे ज्यादा नुकसान पहुंचाया है। मकान मलबे में दब गए हैं। IMAGE CREDIT:

जानकारी के मुताबिक जोशीमठ में भारी बारिश के चलते बरसाती नदियां-नाले ऊफान पर आ गए है। कई मकान व ढाबे मलबे में दब गए हैं। लोगों को भारी नुकसान झेलना पड़ रहा है। इसके अलावा राजधानी में पानी की निकासी की सही व्यवस्था नहीं होने के कारण निचले इलाकों में रहने वाले लोगों के घर में पानी घुस गया। इसके साथ ही लोग सड़क पर जलभराव की समस्याओं से जूझते नजर आए।


यहां भारी बारिश की संभावना

Uttarakhand Weather

गौरतलब है कि मौसम विभाग द्वारा शुक्रवार को देहरादून, पौड़ी, नैनीताल, हरिद्वार, ऊधमसिंहनगर, चंपावत, टिहरी, चमोली और पिथौरागढ़ में रविवार तक भारी बारिश की आशंका जताई गई। मौसम विभाग की भविष्यवाणी के अनुसार बारिश हो रही है। आम जन को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। हांलाकि खबर लिखे जाने तक किसी जनहानि की सूचना नहीं है।

उत्तराखंड की ताजा ख़बरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

यह भी पढ़ें: ITBP जवान ने Independence Day पर 'ए गुजरने वाली हवा' गाकर कर दिया इमोशनल, सुनना ना भूले

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned