MP के सीएम को आया गुस्सा, भरी सभा में युवक को जड़ दिए थप्पड़, देखें VIDEO

शांत स्वभाव के माने जाने वाले Madhya Pradesh के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान बेहद गुस्से में थे। गुस्सा ऐसा कि उन्होंने चुनावी रोड...।

By: Manish Gite

Published: 16 Jan 2018, 12:27 PM IST

 

धार (मध्यप्रदेश)। शांत स्वभाव के माने जाने वाले Madhya Pradesh के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान बेहद गुस्से में थे। गुस्सा ऐसा कि उन्होंने चुनावी रोड शो के दौरान एक युवक को जोरदार थप्पड़ जड़ दिए। यह घटना कैमरे में कैद हो गया। इस VIDEO में वे युवक को थप्पड़ मारते हुए धक्का देकर हटाते हुए नजर आ रहे हैं।

 

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान धार जिले में नगरीय निकाय चुनाव में रोड शो कर रहे थे। जब वे भीड़ में कार्यकर्ताओं के साथ चल रहे थे, तभी एक युवक बार-बार उनके पास आकर टकरा रहा था। तभी मुख्यमंत्री को गुस्सा आ गया और उन्होंने उस पर जमकर थप्पड़ बरसा दिए। उन्होंने पहले एक थप्पड़ मारा, फिर दूसरा थप्पड़ मारकर उसे खींचकर अपने पीछे कर दिया।

 

 

cm

कैमरे में कैद हो गई घटना
सीएम के रोड शो के दौरान कार्यकर्ताओं की भीड़ उनको घेरकर चल रहे थे। तभी काले कोट पहना एक युवक सीएम के सामने चल रहा था। तभी कई कार्यकर्ता सीएम के साथ सेल्फी लेने के लिए बार-बार उनके पास आने की कोशिश कर रहे थे। तभी भीड़ के धक्के में कोट पहना वह युवक बार-बार सीएम से टकरा रहा था। तभी कैमरे में नजर आता है कि मुख्यमंत्री उस युवक को जोरदार तमाचा जड़ देते हैं, उसके बाद दूसरी बार फिर तमाचा मारते हुए उसका कंधा पकड़ते हैं और उसे खींचकर अपने पीछे कर देते हैं। अपुष्ट सूत्रों के मुताबिक कोट पहना युवक कार्यकर्ता नहीं सीएम सुरक्षा में तैनात गनमैन था।

 

सीएम का गुस्सा देख पुलिस भी हैरान
धार जिले की सरदारपुर नगर परिषद में जब रोड शो चल रहा था, तभी उनका अंगरक्षक टकरा गया तो सीएम ने दो चांटे जड़ दिए। सीएम का यह रूप देखकर वहां पुलिस कर्मी भी तैनात हो गए। पहले तो किसी को अचानक कुछ समझ नहीं आया, यह पूरा वाकया कैमरे में कैद हो गया। वहां तैनात भाजपा कार्यकर्ता भी सीएम का गुस्सा देख हैरान रह गए।

 

सुरक्षा है जरूरी
बताया जाता है कि चुनाव के जरिए कभी भाजपा प्रत्याशी को जूतों की माला पहनाने और काले झंडे दिखाने के मामले सामने आने के बाद प्रत्याशियों की सुरक्षा भी बढ़ा दी गई है।

 

पहले भी आया सीएम को गुस्सा
19 सितम्बर 2016 की बात है जब सीएम शहडोल जिले के सिंहपुर में जनसभा को संबोधित करने पहुंचे थे। इस वक्त वो जब सभा स्थल से लौट रहे थे तो उन्हें एक दंपती ने रोक लिया। उन्होंने अपने बेटे की मौत के बारे में उनसे शिकायत की थी। इस पर उन्होंने एसपी को जांच के निर्देश दिए, इसके बाद एसपी ने तुरंत कार्रवाई करते हुए जयसिंहनगर टीआई प्रफुल्ल राय और एएसआई बालेंद्र मिश्रा को निलंबित कर दिया था।

 

जाम लगा तो टीआई को किया सस्पेंड
इधर मुख्यमंत्री का काफिला एक बार जाम में फंस गया था, तो एसपी ने टीआई को निलंबित कर दिया। सीएम शिवराज को लगभग 15 मिनट तक जाम में ही खड़े रहना पड़ा था। इस मामले में गोहपारू टीआई विजय गोठरिया को निलंबित कर दिया।

Manish Gite
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned