scriptधौलपुर: नाले निर्माण का कार्य ठप, गंदे पानी की निकासी बंद, कॉलोनियों में घुसा पानी | dholpur | Patrika News
धौलपुर

धौलपुर: नाले निर्माण का कार्य ठप, गंदे पानी की निकासी बंद, कॉलोनियों में घुसा पानी

शहर के प्रमुख नालों का गंदा पानी यहां अग्रवाल धर्मशाला के पीछे बड़े नाले में आकर पहुंचता है जो आगे खलतियों के सहारे कच्चे नाले के जरिए रेलवे पुरानी रेलवे पुलिया से दूसरी तरफ निकलता था। लेकिन काफी समय से रेलवे पुलिया अवरुद्ध होने और अब नवीन रेलवे पुलिया निर्माण के चलते गंदे पानी की निकासी होना इस दफा मुश्किल है।

धौलपुरJul 06, 2024 / 10:13 pm

rohit sharma

धौलपुर. कॉलोनी की तरफ भरा गंदा पानी।

धौलपुर. शहर के प्रमुख नालों का गंदा पानी यहां अग्रवाल धर्मशाला के पीछे बड़े नाले में आकर पहुंचता है जो आगे खलतियों के सहारे कच्चे नाले के जरिए रेलवे पुरानी रेलवे पुलिया से दूसरी तरफ निकलता था। लेकिन काफी समय से रेलवे पुलिया अवरुद्ध होने और अब नवीन रेलवे पुलिया निर्माण के चलते गंदे पानी की निकासी होना इस दफा मुश्किल है। अगर दो-चार अच्छी बारिश हुई तो खलतियां लबालब होने पर गंदा पानी पुरानी छोटी लाइन के सहारे बसी कॉलोनियों में तेजी से घुसेगा। वैसे बता दें कि गंदा पानी अभी भी यहां पीछे की तरफ एकत्र हो रहा है जो मकानों को नुकसान पहुंचा रहा है। उधर, गंदे पानी निकासी ठप होने की शिकायत पर जिला कलक्टर ने गुरुवार को नगर परिषद अधिकारियों के साथ निर्माणाधीन रेलवे पुलिया के पास कार्य का जायजा लिया और रेलवे अधिकारियों से भी चर्चा की।
बता दें कि शहर का गंदा पानी लम्बे समय से आगरा-ग्वालियर रेलवे लाइन के नीचे हो होकर जाता था। पहले यहां बनी पुलिया रेलवे की थर्ड रेलवे लाइन बिछाने के दौरान बंद हो गई थी। अब रेलवे यहां पर नए सिरे से पानी निकासी के लिए पुलिया का निर्माण करवा रहा है लेकिन उक्त कार्य देरी से शुरू हुआ और अब बारिश शुरू होने से यह कार्य ठप हो गया।
खलतियों के पीछे बसी कॉलोनियों में संकट

बता दें कि छोटी रेलवे लाइन किनारे नई कॉलोनियां बस चुकी हैं। अभी तक शहर के नालों का गंदा पानी कच्चे नाले से होकर रेलवे की पुरानी पुलिया के नीचे से आसानी से क्रास कर जाता था। लेकिन लम्बे समय से थर्ड लाइन कार्य के चलते यह पुलिय बाधित हो गई। धीरे-धीरे यह लगभग बंद हो गई और पानी लगातार खलतियों में भरता रहा। इसके बाद पानी पीछे कॉलोनियों की तरफ घुसा और कुछ पानी राजाखेड़ा फाटक की तरफ निकला। लेकिन दूसरी तरफ नहीं जाने से पानी यहां ही जमा होने से अब इन कॉलोनियों के पीछे के तरफ बने मकानों के लिए खतरा साबित हो रहा है। जलभराव से मकान डूब रहे हैं और घरों को नुकसान पहुंच रहा है। कुछ समय पहले स्थानीय लोग इसको लेकर कड़ी आपत्ति भी जता चुके हैं।
मानसून सीजन का नहीं रखा ध्यान, अब भरेगा पानी

बता दें कि रेलवे ने मानसून सीजन को लेकर योजना नहीं बनाई। पुलिया निर्माण कार्य देरी से शुरू होने की वजह से अब गंदा पानी दूसरी तरफ इस सीजन में मुश्किल जा पाए। अभी पुलिया निर्माण के लिए लोहे का जाल बिछाया जा रहा है। कार्य के हालात को देखकर लगता है कि बरसात में कार्य होना मुश्किल है। श्रमिक यहां भरे पानी को पंपसेट लगा कर निकाल रहे हैं।
रेलवे पुलिया कार्य को लेकर जायजा लिया है। रेलवे के वरिष्ठ अधिकारी से भी इस संबंध में चर्चा कर कार्य जल्द से जल्द कराने को कहा है। जिससे पानी निकासी हो सके।

  • श्रीनिधि बी टी, जिला कलक्टर धौलपुर
मुडिय़ा पूर्णिमा मेला 16 से होगा शुरू
धौलपुर. मंडल रेल प्रबंधक आगरा तेज प्रकाश अग्रवाल की अध्यक्षता में आगामी मुंडिया पूर्णिमा मेला को को देखते हुए रेल अधिकारियो के साथ मंडल कार्यालय में बैठक ली। जिसमे मेले को लेकर विभिन्न बिंदुओं पर चर्चा की। मथुरा जंक्शन व गोवर्धन रेलवे स्टेशन पर आने वाले श्रद्धालुओं को किसी तरह की असुविधा न हो इसके लिए श्रद्धालुओं यात्रियों के लिए अतिरिक्त ट्रेनें चलाई जाएंगी। मथुरा जंक्शन पर ही मेला यात्री शेड का निर्माण किया जाएगा। सफर से थके यात्री शेड में पहुंचकर आराम कर सकेंगे। शेड में यात्रियों के लिए पानी और पंखों का इंतजाम किया जाएगा। साथ ही यात्रियों की सुविधा के लिए जंक्शन के तीनों प्रवेश द्वारों पर अतिरिक्त टिकट काउंटर व गोवर्धन स्टेशन पर अतिरिक्त टिकट काउंटर खोले जाएंगे। यात्रियों को सुविधा देने के उद्देश्य से जिला प्रशासन मथुरा ने मथुरा रेलवे स्टेशन के द्वितीय प्रवेश (गोपाल नगर साइड) द्वार पर गोवर्धन जाने के लिए बसें लगाई जाएंगी एवं गोवर्धन से आने वाली बसें मथुरा स्टेशन के तृतीय प्रवेश (धौली प्याऊ साइड) द्वार पर आएंगी। सभी यात्रियों को द्वितीय प्रवेश द्वार (गोपाल नगर साइड) से गोवर्धन जाने हेतु बाहर निकाला जाएगा एवं तृतीय द्वार (धौली प्याऊ साइड) से स्टेशन पर प्रवेश दिया जाएगा। इस बार मुडिय़ा मेला 16 से 23 जुलाई तक आयोजित किया जा रहा है। साथ ही श्रद्धालुओं को नियंत्रित व सुरक्षित यात्रा करने के लिए व्यापक स्तर पर इंतजाम किए जाएंगे।

Hindi News/ Dholpur / धौलपुर: नाले निर्माण का कार्य ठप, गंदे पानी की निकासी बंद, कॉलोनियों में घुसा पानी

ट्रेंडिंग वीडियो