प्याज की किल्लत पर उठ रहा बवाल, केंद्र सरकार पर उठाए दिल्ली ने सवाल

  • देश की राजधानी दिल्ली में 100 रुपए प्रति किलो बिक रहा है प्याज
  • दिल्ली के डिप्टी सीएम ने प्याज की किल्लत पैदा करने का आरोप लगाया

नई दिल्ली। दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ( delhi deputy cm manish sisodia ) ने केंद्र सरकार पर दिल्ली में प्याज की किल्लत ( Onion Crunch in Delhi ) पैदा करने का आरोप लगाया। राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में प्याज 100 रुपए किलो हो गया है। खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री इमरान हुसैन ( Food and Civil Supplies Minister Imran Hussain ) के साथ मीडिया को संबोधित करते हुए सिसोदिया ने कहा कि केंद्र सरकार दिल्ली में प्याज मुहैया करवाने का पांच सितंबर को जो आश्वासन दिया था उसे पूरा करने में विफल रही है। उन्होंने कहा कि या तो केंद्र की लापरवाही से प्याज का स्टॉक ( Onion Stock ) में खराब हो जाने के कारण कीमतों में बेतहाशा वृद्धि हुई है या जमाखोरों को लाभ पहुंचाने की बुरी मंशा रही है।

यह भी पढ़ेंः- पुरी के एयर इंडिया के बंद होने के बयान से पीक सीजन में ग्राहकों के दूरी बढऩे की आशंका

सिसोदिया ने कहा कि प्याज की बढ़ती कीमतों से लोग परेशान हैं। उन्होंने कहा, "यह पूरे देश का मामला है, लेकिन दिल्ली में केंद्र सरकार जानबूझकर प्याज की किल्लत पैदा कर रही है। दिल्ली सरकार की ओर से बार-बार मांग किए जाने के बावजूद प्याज केंद्र ने प्याज देना रोक दिया है। केंद्र सरकार ने पांच सितंबर को पत्र लिखकर दिल्ली सरकार को कहा था कि उसके पास 56,000 टन प्याज है और वह अपनी आवश्यकतानुसार प्याज ले सकती है।

यह भी पढ़ेंः- रिलायंस इंंडस्ट्रीज का शेयर 1600 रुपए के पार, शेयर बाजार में बहार

सिसोदिया ने कहा कि शीघ्र ही दिल्ली सरकार ने सूचित किया कि वह 10 ट्रक प्याज (2.5 लाख किलो) रोजाना लेकर सस्ते दाम पर बेचेगी ताकि जमाखोरी पर लगाम लगे। उन्होंने 9 दिसंबर तक रोजाना आधार पर प्याज का प्रावधान करने की मांग भी की। दिल्ली के डिप्टी सीएम ने बताया कि हालांकि केंद्र सरकार ने 10 ट्रक के बजाए सिर्फ 3-4 ट्रक प्याज मुहैया करवाया।

यह भी पढ़ेंः- नवंबर के महीने में ऑटो कंपनियों में मंदी जारी, गाडिय़ों की बिक्री में आई गिरावट

उन्होंने कहा कि हमने टीम बनाई है और प्रत्येक विधानसभा सीट पर सस्ती दर पर प्याज का बिक्री केंद्र खोला है। केंद्र सरकार ने पत्र में जो दावा किया था वह प्याज का स्टॉक कहां है? उसने प्याज के बड़े स्टॉक को क्यों सडऩे दिया? उन्होंने बताया कि 24 नवंबर के बाद एक ट्रक भी प्याज नहीं मुहैया करवाया गया।

यह भी पढ़ेंः- Petrol Diesel Price Today : तीन दिनों की बढ़ोतरी के बाद पेट्रोल के दाम स्थिर, डीजल की कीमत में नहीं हुआ बदलाव

आप नेता ने कहा कि जैसा दावा किया कि प्याज का भारी स्टॉक है उसके बावजूद प्याज नहीं देना इस बात का संकेत देता है कि केंद्र सरकार शायद जमाखोरों को लाभ पहुंचाने के लिए अभाव पैदा कर रही है। हुसैन ने कहा कि दिल्ली सरकार ने मोबाइल वैन, उचित मूल्य की दुकान व आवश्यकतानुसार लोगों को लगाकर बुनियादी सुविधाएं तैयार की है। उन्होंने कहा कि मैं केंद्रीय मंत्री राम विलास पासवान से आग्रह करता हूं कि वह प्याज मुहैया करवाएं ताकि राष्ट्रीय राजधानी में सस्ते दाम पर इसे बेचा जा सके।

Show More
Saurabh Sharma
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned