भारतीय रेलवे का स्पीड वाला तोहफा, 44 नई Vande Bharat Train में से 18 के प्रोडक्शन में लाएगी तेजी

मंगलवार को रेलवे ( Indian Railway ) ने कहा कि इन ट्रेनों का निर्माण अब एक नहीं बल्कि 3 दिन इकाइयों द्वारा किया जाएगा और अगले 3 साल के अंदर यह ट्रेन नेटवर्क में शामिल हो जाएंगी ।

By: Pragati Bajpai

Published: 29 Jul 2020, 03:50 PM IST

नई दिल्ली : रेलवे के 44 वंदे भारत ट्रेनों ( 44 Vande Bharat Trains ) को चलाने के ऐलान के बाद से ही उनके चलने के वक्त को लेकर अटकलें लगाई जा रही थी । ऐसा कहा जा रहा है इन ट्रेनों को उतरने में देरी हो सकती है लेकिन मंगलवार को रेलवे ( Indian Railway ) ने कहा कि इन ट्रेनों का निर्माण अब एक नहीं बल्कि 3 दिन इकाइयों द्वारा किया जाएगा और अगले 3 साल के अंदर यह ट्रेन नेटवर्क में शामिल हो जाएंगी ।

रेलवे बोर्ड ( Railway Board ) के अध्यक्ष वीके यादव ने मंगलवार को कहा कि ट्रेनों को एक साथ तीन रेल इकाइयों रेलवे कोच फैक्ट्री कपूरथला, मॉडर्न कोच फैक्ट्री, रायबरेली और इंट्रीगल कोच फैक्ट्री चेन्नई में बनाया जाएगा । रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष ने कहा कि यह निर्णय अभी कुछ समय पहले ही लिया गया है ताकि इनके निर्माण में लगने वाले समय को कम किया जा सके लेकिन अभी भी इसके लिए काम करने की जरूरत है ।इस बारे में आगे बताते हुए कहा कि एक बार कॉन्ट्रैक्ट को फाइनल कर दिया जाए उसके बाद एक निश्चित टाइम लाइन बताई जा सकती है कि यह ट्रेनें कब चलना शुरू हो जाएंगी ।

Leave Without Pay Policy के विरोध के बीच Air India ने निकाली Vacancies

आपको मालूम हो कि हाल ही में भारतीय रेलवे ने 2023 तक देश में प्राइवेट ट्रेन ( private trains ) चलाकर यात्रा को ज्यादा सुविधाजनक बनाने का भी फैसला किया है इंडियन रेलवेज के एक अधिकारी ने कहा था कि 12 निजी रेलगाड़ियों का पहला बैच 2023 से चलना स्टार्ट हो जाएगा और उसके बाद अगले वित्त वर्ष में 45 और ऐसी ही गाड़ियां चलाना शुरू किया जाएगा ।
इसके अलावा यह भी पता है क्या है कि ऐसी सभी 151 रेलगाड़ियां अपने पहले के कार्यक्रम के हिसाब से 2027 तक चलनी शुरू हो जाएंगी ।

Pragati Bajpai
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned