मोबाइल हैंडसेट इंडस्ट्री देगी 50 हजार नौकरियां, जानिए कितनी होगी सैलरी

  • सरकार द्वारा पीएलआई योजना की घोषणा के बाद हैंडसेट इंडस्ट्री ने लिया है फैसला
  • सरकारी योजना के तहतह मार्च 2021 तक हैंडसेट इंडस्ट्री 50 हजार को देगी नौकरी

By: Saurabh Sharma

Published: 19 Nov 2020, 03:33 PM IST

नई दिल्ली। अगले चार महीनों में देश की हैंडसेट इंडस्ट्री हजारों नौकरी निकालने जा रही है। इंडस्ट्री की ओर से यह फैसला मोदी सरकार की ओर से घोषित पीएलआई स्कीम के बाद लिया गया था। इस स्कीम की घोषणा इसलिए की गई थी ताकि कंपनियों के प्रोडक्शन में इजाफा हो सके। वहीं निर्याद बढ़े और नौकरियों में इजाफा हो सके। जिसके बाद लोकल और विदेशी कंपनियों की ओर से अपना प्रोडक्शन बढ़ाने का फैसला किया है।

यह भी पढ़ेंः- कोरोना काल में 73 लाख लोगों ने अपनाई नेशनल पेंशन स्कीम, अटल पेंशन से कितने जुड़े लोग

50 हजार नौकरी
इंडस्ट्री से जुड़े लोगों के अनुसार अब कर्मचारियों का शहरों और वर्किंग सिटीज में आना शुरू हो गया है। जिसकी वजह से हैंडसेट की मांग में इजाफा रहा है। वहीं कोरोना वायरस से बचाव करते हुए सभी सावधानियों को भी सुनिश्चित करना है। आईसीईए चेयरमैन पंकड मोहिंद्रू के अनुसार अगले साल मार्च तक हैंडसेट इंडस्ट्री 50 हजार कर्मचारियों की भर्ती करने जा रही है।

यह भी पढ़ेंः- वैक्सीन वॉर में सोना खरीदना हुआ सस्ता, जानिए कितनी कम हो गई कीमत

यह घरेलू कंपनियां देंगी 20 हजार नौकरी
डिक्सन टेक्नोलॉजीज़, यूटीएल निओलिंक्स, लावा इंटरनेशनल, ऑप्टिमस इलेक्ट्रॉनिक्स और माइक्रोमैक्स जैसी घरेलू हैंडसेट निर्माता कंपनियां साल के अंत तक करीब 20 हजार हायरिंग करने जा रही है। यह तमाम भर्तियां पिछले साल के मुकाबले ज्यादा बताई जा रही हैं।

यह भी पढ़ेंः- महामारी साल के दौरान बाजार में धूम, निवेशक हुए मालामाल, आंकड़ों में जानिए सफलता की कहानी

7 लाख लोग करते हैं काम
इंडियन हैंडसेट इंडस्ट्री में करीब 7 लाख लोगों की नौकरी चल रही है। पिछले साल 15 हजार लोगों की भर्ती की गई थी, जबकि इस बार 20 हजार की भर्ती की जा रही है। कंपनियों की ओर से यह सब ऐलान पीएलआई स्कीम के तहत सरकार की तरफ से मदद की घोषणा के बाद हो रहे हैं।

Saurabh Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned