घरेलू सामान के लिए भारत पर निर्भर है पाक, गलत साबित हो सकता है व्यापार बंद करने का फैसला

घरेलू सामान के लिए भारत पर निर्भर है पाक, गलत साबित हो सकता है व्यापार बंद करने का फैसला

Shivani Sharma | Publish: Aug, 08 2019 02:22:22 PM (IST) | Updated: Aug, 08 2019 02:23:07 PM (IST) अर्थव्‍यवस्‍था

  • कारोबार बंद करने से पाकिस्तान को ही लग सकता है झटका
  • टमाटर, प्याज तक के लिए भारत पर निर्भर है पाकिस्तान

नई दिल्ली। कश्मीर से धारा 370 हटाने के बाद पाकिस्तान ने भारत के व्यापार बंद करने का फैसला लिया। पाक सरकार के इस फैसले को लिए अभी दो दिन भी बीते और पाकिस्तान की जनता पर महंगाई की मार पड़ना शुरु हो गई है। पाकिस्तान ने मोदी सरकार के विरोध में भारत के व्यापार बंद करने का फैसला लिया है, लेकिन जानकारों का मानना है कि पाक सरकार के इस फैसले पाकिस्तान को काफी नुकसान उठाना पड़ सकता है।


पाकिस्तान में बढ़ेगी महंगाई

भारत और पाकिस्तान दोनों पड़ोसी मुल्क रोजमर्रा की जरूरत की तमाम चीजें एक-दूसरे से लेते हैं। इस आयात और निर्यात में पाकिस्तान भारत की तुलना मे ज्यादा सामान खरीदता है। बता दें कि पाकिस्तान प्याज और टमाटर जैसी खाद्य वस्तुओं के अलावा केमिकल्स के लिए भी भारत पर निर्भर है। हर दिन प्रयोग की जाने वाली सब्जियां भी पाक सरकार भारत से लेती है। पाकिस्तान के व्यापार बंद करने के फैसले से पाकिस्तान में महंगाई बढ़ना आम बात है।


ये भी पढ़ें: अब देश में 5,500 पेट्रोल पंप खोलने की तैयारी में मुकेश अंबानी, बीपी के साथ किया समझौता

pakistan

पाक सरकार को लगेगा झटका

जानकारों की मानें तो की मानें तो इमरान सरकार के इस फैसले से पाकिस्तान की जनता को ही बड़ा झटका लगेगा। सरकार के इस एकतरफा फैसले से पाक के लोगों को काफी नुकसान उठाना पड़ेगा। फेडरेशन ऑफ इंडिया एक्सपोर्ट ऑर्गनाइजेशन के डायरेक्टर जनरल अजय सहाय के मुताबिक, 'कारोबार का निलंबन भारत की बजाय पाकिस्तान को अधिक प्रभावित करेगा क्योंकि वह हमारे ऊपर अधिक निर्भरता रखता है।'


MFN का दर्जा वापस होने से पाक को हुआ नुकसान

आपको बता दें कि पाकिस्तान इस समय तमाम कृषि उत्पादों के लिए भारत पर निर्भर है। इसके अलावा फरवरी में हुए पुलवामा अटैक के बाद पाकिस्तान से भारत ने मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा भी छीन लिया था, जिसके बाद भी पाकिस्तान को काफी नुकसान उठाना पड़ा था। MFN का दर्जा छीनने के बाद पाकिस्तान काफी कम सामान का भारत से एक्सपोर्ट कर पाता था।


ये भी पढ़ें: न्यूनतम बैलेंस रखने वालों पर पीएनबी की सख्त कार्रवाई, खाताधारकों पर लगाया 278 करोड़ रुपये का जुर्माना


92 फीसदी कम होगा आयात

भारत ने पुलवामा अटैक के बाद पाकिस्तान से आने वाली चीजों पर 200 फीसदी कस्टम ड्यूटी कर दी थी। कॉमर्स मिनिस्ट्री के डेटा के मुताबिक इस फैसले के चलते पाक से होने वाले आयात में 92 फीसदी की गिरावट आई थी और यह इस साल मार्च में महज 2.84 मिलियन डॉलर ही रह गया था, जबकि मार्च 2018 में यह 34.61 अमेरीकी डॉलर था। पाकिस्तान से भारत कपास, फल, सीमेंट, पेट्रोलियम प्रॉडक्ट्स का आयात करता है।

Business जगत से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर और पाएं बाजार,फाइनेंस,इंडस्‍ट्री,अर्थव्‍यवस्‍था,कॉर्पोरेट,म्‍युचुअल फंड के हर अपडेट के लिए Download करें patrika Hindi News App

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned