पाकिस्तान की वित्तीय स्थिति चौपट, 40 साल के बाद आई ऐसी स्थिति

पाकिस्तान की वित्तीय स्थिति चौपट, 40 साल के बाद आई ऐसी स्थिति
Imran Khan

Saurabh Sharma | Updated: 28 Aug 2019, 06:49:51 PM (IST) अर्थव्‍यवस्‍था

  • वित्तीय घाटा इतिहास का सर्वाधिक 8.9 फीसदी पर पहुंच
  • 1979-80 के बाद से अब तक का सबसे बड़ा घाटा

नई दिल्ली। पाकिस्तान में प्रधानमंत्री इमरान खान की सरकार के एक वर्ष के कार्यकाल में पाकिस्तान की आर्थिक स्थिति और खराब हो गई है तथा 2018-19 में देश का वित्तीय घाटा उसके इतिहास का सर्वाधिक 8.9 फीसदी पर पहुंच गया है। हैरान करने की बात यह है कि पाकिस्तान की यह हालत बीते 40 सालों में सबसे बुरी है।

यह भी पढ़ेंः- पत्नी के बैंक को 'लाभ पहुंचाने' के लिए महाराष्ट्र सीएम के खिलाफ शिकायत

पाकिस्तान मीडिया ने बुधवार को वित्त मंत्रालय की ओर से दिये गये आंकड़ों के अनुसार 2018-19 में वित्तीय घाटा सकल घरेलू उत्पाद के रिकॉर्ड 8.9 प्रतिशत पर आ गया है अर्थात 34 खरब 44 अरब रुपये हो गया जो बजट लक्ष्य का 82 प्रतिशत अधिक है।

यह भी पढ़ेंः- अमित शाह का बड़ा बयान, भारत को 5 लाख करोड़ डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने में सुरक्षा महत्वपूर्ण

बजट में वित्तीय घाटा 19 खरब रुपये होने का अनुमान लगाया गया था। गौरतलब है कि पाकिस्तान आर्थिक सर्वेक्षण के मुताबिक यह घाटा 1979-80 के बाद से अब तक का सबसे बड़ा घाटा है। जून 2019 में इमरान सरकार ने वित्तीय घाटे को सकल घरेलु उत्पाद का 7.1 प्रतिशत पर लाने की संभावना जतायी थी जबकि वर्ष की शुरूआत में लक्ष्य 4.9 फीसदी था।

यह भी पढ़ेंः- दो दिनों की बढ़ोतरी के बाद शेयर बाजार में गिरावट, सेंसेक्स 37,451 थमा, निफ्टी में 60 अंक लुढ़का

इस वर्ष 30 जून को समाप्त हुए वित्तीय वर्ष के दौरान खर्च और राजस्व मामलों समेत सभी प्रमुख वित्तीय सूचकांकों में भारी गिरावट दर्ज की गयी। आंकड़ों के मुताबिक खर्च घटाने के सभी प्रयास विफल साबित हुए तथा वित्तीय वर्ष के पहले तिमाही में ही राज्स्व वसूली में भारी गिरावट देखी गयी।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned