Indian Economy के लिए राहत की खबर, Fiscal Year 2021-22 में 9.5 फीसदी रह सकती है GDP

  • Fitch Report ने वित्त वर्ष 2021-22 के लिए लगाया GDP का अनुमान
  • Global Crisis के बाद भारत की GDP आ सकती है BBB से ऊपर

By: Saurabh Sharma

Updated: 10 Jun 2020, 10:19 PM IST

नई दिल्ली। कोरोना वायरस लॉकडाउन ( Coronavirus Lockdown ) की वजह से जहां मूडीज एजेंसी ने भारत की रेटिंग को कम कर दिया है, वहीं दूसरी ओर फिच रेटिंग ( Fitch Rating ) ने भारत को राहत की सांस दी है। इंडियन इकोनॉमी ( Indian Economy ) के लिए अच्छी खबर यह है कि अगर भारत का आने वाले दिनों में फाइनेंशियल सेक्टर ( Financial Sector ) ठीक रहा तो वित्त वर्ष 2021त्र22 में भारत की जीडीपी ( India GDP ) 9.5 फीसदी रह सकती है। वहीं भारतीय जीडीपी की रेटिंग बीबीबी से ऊपर आने की भी संभावना है।

Gold Rate Today : 47 हजार की ओर बढ़ता हुआ Gold, Silver में भी तेजी जारी

आ सकती है 5 फीसदी की गिरावट
फिच की रिपोर्ट के अनुसार कोरोना वायरस लॉकडाउन के कारण वित्त वर्ष 2020-21 में भारतीय जीडीपी की ग्रोथ रेट पर काफी गहरा दबाव है। मौजूदा वित्तीय वर्ष में देश की इकोनॉमी में 5 फीसदी की गिरावट देखने को मिल सकती है। वहीं दूसरी ओर फिच की ओर से अपने एपीएसी सॉवरेन क्रेडिट ओवरव्यू में कहा है कि कोरोना वायरस लॉकडाउन के कारण भारत के ग्रोथ के पहिए को रोका ही नहीं बल्कि जाम भी कर दिया है।

Amrapali Case में Supreme Court ने दी Home Buyers को बड़ी राहत, बैंकों को देना होगा Home Loan

रेटिंग में भी सुधार की उम्मीद
फिच की रिपोर्ट के अनुसार देश पर काफी ज्यादा कर्ज भी बढ़ गया है। जिसकी वजह से देश की सरकार के सामने चुनौतियां भी बहुत हैं। वहीं फिच ने वित्त वर्ष 2021-22 के लिए कहा जीडीपी की रेटिंग के बारे कहा कि वो बीबीबी से ऊपर जा सकती है। लेकिन सरकार को देश के फाइनेंशियल सेक्टर की सेहत बिगडऩे से बचाना होगा। आपको बता दें कि भारत में किए गए लॉकडाउन को दुनिया का सबसे लंबा और महंगा लॉकडाउन बताया जा रहा है। 5 मई से छूट तो शुरू हुई और 8 जून से अनलॉक का पहला फेज भी शुरू हुआ, लेकिन देश में कोरोना वायरस के केस लगातार बढ़ेते जा रहे हैं।

Covid-19 की वजह से IRDAI ने बदला 22 महीने पुराना नियम, Vehicle Insurance पर 3 और 5 साल की अनिवार्यता खत्म

Show More
Saurabh Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned