अमरीका ने चीन के खिलाफ उठाया कदम, सुपरकंप्यूटिंग क्षेत्र में काम करने वाले 5 समूह को ब्लैकलिस्ट किया

अमरीका ने चीन के खिलाफ उठाया कदम, सुपरकंप्यूटिंग क्षेत्र में काम करने वाले 5 समूह को ब्लैकलिस्ट किया

Shivani Sharma | Updated: 22 Jun 2019, 04:26:49 PM (IST) अर्थव्‍यवस्‍था

  • America ने 5 चाइनीज कंपनियों को ब्लैकलिस्ट कर दिया है
  • यह कंपनियां सुपरकंप्यूटिंग क्षेत्र में काम कर रही थीं
  • Trade War के चलते इन कंपनियों को ब्लैकलिस्ट किया गया है

नई दिल्ली। अमरीका ने राष्ट्रीय सुरक्षा का हवाला देते हुए सुपर कंप्यूटिंग क्षेत्र में काम करने वाले पांच चीनी कंपनी समूहों को काली सूची में डाल दिया। अमरीका के वाणिज्य विभाग ने शुक्रवार को इस कार्रवाई को अंजाम दिया। अमरीका के वाणिज्य विभाग के इस कदम से अगले सप्ताह राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ( Donald Trump ) और उनके चीनी समकक्ष शी जिनपिंग ( Shi Jinping ) के बीच होने वाली बातचीत को मुश्किल खड़ी हो सकती है।


अमरीका-चीन के बीच चल रहा ट्रेड वॉर

अमरीका और चीन दुनिया की दो सबसे बड़ी अर्थव्यवस्थाएं ( economy ) व्यापार संबंधी विवादों से गुजर रही हैं। विवाद को सुलझाने के लिए ही दोनों देशों के प्रमुखों की बैठक हो रही है। इन पांच कंपनियों में सुपर कंप्यूटर बनाने वाली सुगोन भी शामिल है। यह मुख्य तौर पर अमरीका की इंटेल, एनवीडिया और एडवांस माइक्रो डिवाइसेस जैसी कंपनियों के उपकरणों की आपूर्ति पर निर्भर करती है।


यह भी पढ़ें: पीएम मोदी ले सकते हैं नोटबंदी जैसा फैसला, टैक्स चोरों की आ जाएगी आफत


ट्रेड वॉर ( Trade War ) के चलते हो रहा नुकसान

साथ में सुगोन की तीन अनुषंगी कंपनियों को भी काली सूची में डाला गया है। इसके अलावा, वुक्सी जियांगनन इंस्टीट्यूट ऑफ कंप्यूटिंग टेक्नॉलजी को भी इस सूची में डाला गया है। वाणिज्य विभाग का कहना है कि इन समूहों की गतिविधियां अमरीका की विदेशी नीति के हितों और राष्ट्रीय सुरक्षा के खिलाफ हैं।


भविष्य में सुधरेंगे हालात

अमरीका के मुताबिक, सुगोन और वुक्सी पर चीन के सैन्य शोध संस्थान का मालिकाना हक है। यह चीन की सेना के आधुनिकीकरण में मदद करने वाले अगली पीढ़ी के बेहतर क्षमता वाले कंप्यूटिंग के विकास में संलग्न हैं। इसके साथ ही चीन ने जानकारी देते हुए कहा कि आने वाले समय में हालात सुधर सकते हैं।

Business जगत से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर और पाएं बाजार,फाइनेंस,इंडस्‍ट्री,अर्थव्‍यवस्‍था,कॉर्पोरेट,म्‍युचुअल फंड के हर अपडेट के लिए Download करें patrika Hindi News App

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned