पीएम मोदी ले सकते हैं नोटबंदी जैसा फैसला, टैक्स चोरों की आ जाएगी आफत

पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) अपने दूसरे कार्यकाल में टैक्स चोरी को लेकर नोटबंदी (Notebandi) जैसा फैसला ले सकते हैं।

By: Shivani Sharma

Updated: 22 Jun 2019, 02:19 PM IST

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ( Prime Minister Narendra Modi ) ने अपने पहले कार्यकाल में नोटबंदी ( demonetisation ) जैसा बड़ा फैसला लेकर सभी को हिला दिया था। पीएम मोदी ( pm modi ) के इस फैसले के बाद से सभी लोगों को लग रहा था कि वह अब 2,000 के नोटों को भी चलन से बाहर कर सकते हैं, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। अब जब एक बार फिर मोदी सरकार ( Modi govt ) सत्ता में आ गई है, तो सभी को लग रहा है कि पीएम मोदी इस बार भी नोटबंदी ( Notebandi ) जैसा कोई बड़ा फैसला ले सकते हैं। एक्सपर्ट्स का मानना है कि मोदी सरकार अपनी दूसरी इनिंग में टैक्स चोरी ( tax fraud ) के खिलाफ कड़ा कदम उठा सकती है।


टैक्स चोरी के खिलाफ एक्शन लेगी सरकार

टैक्स चोरों के खिलाफ सरकार की मुहिम शुरू हो गई है। टैक्स चोरी के कारण ही वित्त मंत्रालय ( finance ministry ) के कई अधिकारियों को सेवा से बाहर कर दिया गया है। केंद्रीय वित्त मंत्रालय ने टैक्स चोरों के खिलाफ कड़ा कदम उठाते हुए इस सप्ताह के शुरुआत में दर्जनभर से भी ज्यादा अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई करने का प्लान बना रही है और इन पर जल्द ही एक्शन लिया जा सकता है।


यह भी पढ़ें: GST चोरी रोकने के लिए सरकार का बड़ा कदम, अब से मल्टीप्लेक्स में मिलेंगे सिर्फ ई-टिकट


जीएसटी और इनकम टैक्स चोरी पर होगा काम

शेयर बाजार के जानकारों का मानना है कि मोदी सरकार इसबार टैक्सचोरों पर एक बड़ी कार्रवाई कर सकती है। खासकर जीएसटी और इनकम टैक्स की चोरी पर रोक लगाने के लिए काम किए जाएंगे। केंद्र सरकार ने गुरुवार को जीएसटी की चोरी को रोकने के लिए बड़ा कदम उठाया है। मोदी सरकार ने बताया कि अब से मल्टीप्लेक्सेज में सिर्फ ई-टिकट का ही प्रयोग किया जाएगा। यह कदम टैक्स चोरी को रोकने के लिए उठाया गया हैथ


अधिकारियों के खिलाफ भी लिया जा रहा एक्शन

केंद्र सरकार ने बीते 10 जून को भ्रष्टाचार के आरोप में इनकम टैक्स विभाग के अधिकारियों को बर्खास्त कर दिया है। इसमें 12 अधिकारियों के नाम शामिल हैं। इसके तुरंत बाद 18 जून को भी 15 आयकर अधिकारियों के खिलाफ एक्शन लिया है। पीएम मोदी ने एक सभा में संबोधित करते हुए कहा कि टैक्स चोरी करने वाले किसी भी व्यकित को बख्शा नहीं जाएगा। चाहे वह कोई सीनियर अधिकारी या कोई और। बता दें कि बर्खास्त अधिकारियों में प्रिंसिपल कमिश्नर, कमिश्नर, अडिशनल कमिश्नर, डेप्युटी कमिश्नर, जॉइंट कमिश्नर और असिस्टैंड कमिश्नर रैंक के अधिकारी शामिल थे।


यह भी पढ़ें: बढ़ती तेल की कीमतों पर भारत ने जताई चिंता, सऊदी अरब के पेट्रोलियम मंत्री खालिद अल फलीह से की बात


एक्सपर्ट्स ने दी जानकारी

बाजार के जानकार सौरभ मुखर्जी ने कहा, 'पिछले दो से तीन सप्ताह के भीतर पहली दिलचस्प बात जो मैं देख रहा हूं वह यह है कि वरीय टैक्स अधिकारियों को रिटायर या छुट्टियों पर जाने के लिए कहने की खबरें बार-बार सामने आ रही है।

Business जगत से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर और पाएं बाजार,फाइनेंस,इंडस्‍ट्री,अर्थव्‍यवस्‍था,कॉर्पोरेट,म्‍युचुअल फंड के हर अपडेट के लिए Download करें patrika Hindi News App

Show More
Shivani Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned