CBSE 10th Class Result: दिल्ली हाईकोर्ट ने सीबीएसई, केंद्र और दिल्ली सरकार को जारी किया नोटिस, पढ़ें पूरी डिटेल्स

CBSE 10th Class Result: दिल्ली हाईकोर्ट ने केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड, केंद्र और दिल्ली सरकार को अंकों के सारणीकरण के लिए बनाई गई नीति में संशोधन की मांग करने वाली याचिका पर नोटिस जारी कर जवाब दाखिल करने का निर्देश दिया है।

By: Dhirendra

Updated: 02 Jun 2021, 01:49 PM IST

CBSE 10th Class Result: दिल्ली हाईकोर्ट ने इंटरनल असेसमेंट की नीति पर सीबीएसई, केंद्र और दिल्ली सरकार को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। हाईकोर्ट ने स्कूलों द्वारा आयोजित आंतरिक मूल्यांकन के आधार पर कक्षा 10वीं की बोर्ड परीक्षा 2021 के अंकों के सारणीकरण के लिए तैयार नीति में संशोधन की मांग करने वाली याचिका पर नोटिस जारी किया है। इससे पहले केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने अंकों के सारणीकरण के लिए तय मानदंडों में संशोधन किया था।

इंटरनल असेसमेंट के अंक जमा करने की तिथि 30 जून

सारणीकरण के लिए तैयार मानदंडों के तहत सीबीएसई ने स्कूलों से छात्रों को आंतरिक मूल्यांकन के अंक जमा करने के लिए 30 जून तक का समय दिया था। सीबीएसई ने कहा था कि आगे की गतिविधियों के लिए रिजल्ट कमिटी द्वारा निर्णय लिया जाएगा। सीबीएसई ने बताया था कि अब नए सिरे से रिजल्ट की तारीख तय की जाएगी। तारीख तय होने की सूचना सभी हितधारकों को दी जाएगी। इसके अलावा सीबीएसई ने छात्रों को सलाह दी है कि वे ताजा अपडेट के लिए आधिकारिक वेबसाइट cbse.nic.in नियमित रूप से चेक करते रहें।

Read More: RBSE 10th and 12th Exam 2021: राजस्थान और एमपी बोर्ड का आज आ सकता है फैसला, पढें डिटेल

20+80 के फॉर्मूले पर रिजल्ट तैयार करने का काम जारी

दसवीं का रिजल्ट तैयार करने के लिए सीबीएसई ने 20+80 का फॉर्मूला तैयार किया गया है। हर विषय में अधिकतम 100 अंक का मूल्यांकन होगा। इसमें से 20 अंक पहले की तरह इंटरनल असेसमेंट के होंगे। शेष 80 अंक नई पॉलिसी के आधार पर दिए जाएंगे। कक्षा 10वीं के छात्रों के लिए इन 80 अंकों को तीन भागों में बांटा गया है। इनमें 10 अंक समय-समय पर होने वाले यूनिट टेस्ट के हैं। 30 अंक मध्यावधि परीक्षा के हैं और 20 अंक प्रीबोर्ड की परीक्षा के हैं।

2020 की तरह इस बार भी छात्रों को मिला परीक्षा देने का विकल्प

इस बीच सीबीएसई ने 12वीं की परीक्षाएं भी रद्द कर दी हैं। पीएम मोदी ने मगंलवार को आयोजित बैठक में 12वीं बोर्ड की परीक्षाओं को रद्द करने का फैसला लिया था। साथ ही यह तय किया कि सीबीएसई कक्षा 12वीं के छात्रों के लिए एक उचित क्राइटीरिया के आधार पर मार्किंग की जाएगी। साल 2020 की तरह इस बार भी जो छात्र अपने अंकों से संतुष्ट नहीं होंगे, वो दोबारा परीक्षा दे सकेंगे।

Read More: GSEB 12th Class Exam: गुजरात में भी रद्द हो सकती है 12वीं की परीक्षा, आज कैबिनेट की बैठक में लिया जा सकता है फैसला

Web Title: CBSE 10th Class Result Delhi high court issues notice to CBSE Centre and Delhi Govt

Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned