CBSE 12th class exam 2021: प्रियंका गांधी वाड्रा ने शिक्षा मंत्री को लिखी चिट्ठी, 12वीं बोर्ड की परीक्षा को लेकर दिए कई सुझाव

CBSE 12th class exam 2021: कांग्रेस महामसचिव प्रियंका गांधी वाड ने केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक को एक पत्र लिखा है। इस पत्र को उन्होंने ट्विटर पर साझा भी किया है। अपने पत्र में उन्होंने कहा है कि छात्रों की आवाज सुनी जानी चाहिए।

By: Dhirendra

Updated: 31 May 2021, 06:17 PM IST

CBSE 12th class exam 2021: अखिल भारतीय कांग्रेस की महासचिव और यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा ने केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की 12वीं कक्षा परीक्षा को लेकर केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक को एक चिट्ठी लिखी है। अपने पत्र में उन्होंने शिक्षा मंत्री पोखरियाल को छात्रों, अभिभावकों और शिक्षकों से मिले कई सुझावों का जिक्र किया है। साथ ही उन्होंने कहा कि इन लोगों की आवाज को सुनी जानी चाहिए।

Read More: CBSE, CISCE 12th Exam 2021: अगर आप 2020 से अलग नीति पर अमल करना चाहते हैं तो इसकी मजबूत वजह बताएं - सुप्रीम कोर्ट

मानवीय आधार पर निकले 12वीं की परीक्षा का हल

कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ( Priynka Gandhi ) ने शिक्षा मंत्री को लिखी चिट्ठी को ट्विटर पर भी साझा किया है। अपने पत्र के जरिए उन्होंने CBSE 12वीं की परीक्षा को लेकर छात्रों, अभिभावकों और शिक्षकों से मिले कई सुझावों से शिक्षा मंत्री को अवगत कराया है। प्रियंका गांधी ने कहा कि बच्चे हमारे देश का भविष्य हैं। स्कूली शिक्षा के अंतिम वर्ष में वे पहले ही अत्यधिक दबाव का सामना कर चुके हैं। इन परिस्थितियों में सीबीएसई 12वीं बोर्ड परीक्षा 2021 आयोजित करने के मुद्दे को मानवीय, मनोवैज्ञानिक और भावनात्मक आधार पर समझने की जरूरत है।

छात्र हितों की रक्षा केंद्र सरकार जिम्मेदारी

देश के बच्चों की रक्षा करना सरकार की अहम जिम्मेदारी है। बेशुमार बच्चे पहले से ही आघात, तनाव और चिंता से पीड़ित हैं। उन्होंने सीबीएसई 12वीं बोर्ड परीक्षा 2021 पर कोई भी निर्णय लेने से पहले सरकार से उपरोक्त सुझावों पर पुनर्विचार करने का अनुरोध किया है। साथ ही उन्होंने उम्मीद भी जताई है केंद्र सरकर इस पर बहुत जल्द कोई निर्णय लेगी। उन्होंने मुख्य तौर पर केंद्रीय मंत्री से तीन सुझावों की ओर ध्यान देने को कहा है।

प्रियंका गांधी के तीन सुझाव

1. अन्य देशों की तरह भारतीय छात्रों के लिए आंतरिक मूल्यांकन पद्धति को अपनाया जाना चाहिए।

2. एक व्यापक रणनीति के तहत परीक्षा से पहले छात्रों को टीका लगाया जाना चाहिए।

3. छत्तीसगढ़ सरकार 12वीं की परीक्षा का व्यावहारिक समाधान ढूंढ निकाला है। केंद्र सरकार भी उक्त तरीके पर अमल कर सकती है।

इससे पहले प्रियंका ने परीक्षा रद्द करने की मांग की थी

12 अप्रैल 2021 को लिखे खत में प्रिंयका गांधी वाड ने शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक से सीबीएसई परीक्षा नहीं करवाने का आग्रह किया था। इससे पहले सीबीएसई के एक सर्कुलर जारी कर कहा था कि वह मई में बोर्ड की परीक्षाएं आयोजित करेगा। प्रियंका गांधी ने सीबीएसई के उक्त फैसले को चौंकाने वाला करार दिया था।

Read More: IIT Kanpur: डेटा साइंस और सांख्यिकी में शुरू किए नए पाठ्यक्रम, जेईई एडवांस के जरिए होगा दाखिला

Web Title: CBSE 12th Class Exam 2021 Priyanka Gandhi Writes Letter To Education Minister Suggests Various Option

Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned